'नस्लीय आधार पर नहीं हुआ था फिलेंडर का चयन'

By: | Last Updated: Tuesday, 31 March 2015 2:33 AM
Auckland_South Africa_captain_A B de Villiers_Vernon Philander_World Cup 2015

जोहांसबर्ग: आईसीसी विश्व कप-2015 के सेमीफाइनल में तेज गेंदबाज काइल एबॉट की जगह वेर्नोन फिलेंडर को शामिल किए जाने के फैसले पर क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) ने कहा है कि उन्हें चुनने का फैसला रंगभेद से प्रेरित बिल्कुल नहीं है और इस तरह की खबरें झूठी हैं.

 

ऑकलैंड में सह-मेजबान न्यूजीलैंड के खिलाफ हुए सेमीफाइनल मैच में एबॉट की जगह दक्षिण अफ्रीकी टीम में फिलेंडर को शामिल किया गया था. यह मैच दक्षिण अफ्रीका चार विकेट से हार गया था.

 

ग्रुप चरण में मांसपेशियों में खिंचाव के चलते सेमीफाइनल से पहले फिलेंडर अपनी टीम के सात में से चार मैच नहीं खेल सके थे. सेमीफाइनल मैच में फिलेंडर के अलावा तीन और अश्वेत खिलाड़ी शामिल थे. इनमें हाशिम अमला, इमरान ताहिर और ज्यां पॉल ड्यूमिनी शामिल हैं.

 

सीएसए के अध्यक्ष हारून लोगार्ट ने कहा, “हमारे चयन में किसी तरह का राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं था. हमारी एक चयन समिति है, जिसमें कोच और स्वतंत्र सदस्य हैं. समिति विश्व कप से पहले जिस तरह टीमों का चयन करती आई थी उसने विश्व कप में भी उन्हीं अधारों पर टीम का चयन किया.”

 

फिलेंडर ने सेमीफाइनल मैच में आठ ओवर गेंदबाजी की और 52 रन लुटाने के बावजूद वह एक भी विकेट हासिल नहीं कर सके थे.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Auckland_South Africa_captain_A B de Villiers_Vernon Philander_World Cup 2015
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017