ASHES: अपने तेज गेंदबाजों के दम पर एशेज छीनने उतरेगा ऑस्ट्रेलिया

ASHES: अपने तेज गेंदबाजों के दम पर एशेज छीनने उतरेगा ऑस्ट्रेलिया

अपने तेज गेंदबाजों के दम पर ऑस्ट्रेलियाई टीम कल गाबा पर पहले एशेज टेस्ट में चिर प्रतिद्वंद्वी इंग्लैंड से खेलेगी तो एक बार फिर उसके बल्लेबाजी क्रम को आतंकित करके अपनी सरजमीं पर टेस्ट क्रिकेट की सबसे प्रतिष्ठित ट्राफी अपने नाम करना चाहेगी.

By: | Updated: 22 Nov 2017 06:11 PM
ब्रिसबेन: अपने तेज गेंदबाजों के दम पर ऑस्ट्रेलियाई टीम कल गाबा पर पहले एशेज टेस्ट में चिर प्रतिद्वंद्वी इंग्लैंड से खेलेगी तो एक बार फिर उसके बल्लेबाजी क्रम को आतंकित करके अपनी सरजमीं पर टेस्ट क्रिकेट की सबसे प्रतिष्ठित ट्राफी अपने नाम करना चाहेगी.

ऑस्ट्रेलियाई चयनकर्ताओं ने एशेज टीम के चयन में कई हैरानी भरे फैसले लिये लेकिन उन्हें उम्मीद है कि मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड और पैट कमिंस उस सफलता को दोहरा सकेंगे जो यहां 2013 में मिशेल जानसन को मिली थी.

इंग्लैंड के बल्लेबाजी क्रम के पास अधिक अनुभव नहीं है और एशेज की उसकी तैयारियों को करारा झटका लगा जब नाइटक्लब के बाहर झड़प के मामले में स्टार हरफनमौला बेन स्टोक्स निलंबित हो गए.

ऑस्ट्रेलिया का गाबा पर रिकार्ड बेहतर रहा है जहां 1988 से उसने कोई टेस्ट नहीं गंवाया है. इंग्लैंड 31 साल से यहां टेस्ट नहीं जीत सका है.

उन्नीसवीं सदी से चली आ रही इस द्विपक्षीय श्रृंखला की तैयारियां पारंपरिक रूप से आक्रामक होती है. ऑस्ट्रेलियाई उपकप्तान डेविड वार्नर ने इसे जंग करार देते हुए कहा कि उनकी टीम इंग्लैंड के कुछ क्रिकेटरों का कैरियर खत्म करना चाहेगी.

उन्होंने चार साल पहले जानसन के कातिलाना प्रदर्शन का भी जिक्र किया जब उसने ब्रिसबेन में नौ विकेट लिये थे.ऑस्ट्रेलिया ने पहला टेस्ट 381 रन से और श्रृंखला 5. 0 से जीती थी.

स्टार्क की अगुवाई में तीनों तेज गेंदबाजों ने टेस्ट में कभी एक साल गेंदबाजी नहीं की है लेकिन उनका मिलकर स्ट्राइक रेट अपने पूर्व तेज गेंदबाजों से बेहतर है. स्टार्क के निशाने पर इंग्लैंड के दो बड़े बल्लेबाज कप्तान जो रूट और पूर्व कप्तान एलेस्टेयर कुक होंगे.

उन्होंने कहा,‘‘कुक और रूट इंग्लैंड के दो अहम बल्लेबाज हैं जिन्होंने लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है.हम उन्हें सस्ते में आउट करना चाहेंगे ताकि उनके अनुभवहीन बल्लेबाजी क्रम पर दबाव बनाया जा सके.’’

स्टार्क ने कहा कि उन्होंने चार साल पहले गाबा पर जानसन का प्रदर्शन देखा है और इससे उन्हें उसके दोहराव की प्रेरणा मिली है. उन्होंने कहा ,‘‘हम सभी अभी भी उनसे प्रेरणा लेते हैं.जब भी उस श्रृंखला के मुख्य अंश देखें तो यह अकल्पनीय लगता है. उनकी गेंदबाजी, आक्रामकता और इंग्लैंड के बल्लेबाजों में उनकी दहशत देखने लायक थी.’’ ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने अपनी तैयारियां इंग्लैंड के पूर्वतेंटर और गेंदबाजी कोच डेविड साकेर के साथ की है. तेज गेंदबाजों के अलावा कप्तान स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की बल्लेबाजी से ऑस्ट्रेलियाई आक्रमण मजबूत हुआ है.

इंग्लैंड ने अनुभवहीन टीमों के खिलाफ यहां तीन अभ्यास मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन उनके ऑस्ट्रेलियाई कोच ट्रेवर बेलिस ने कहा कि वे हर आक्रमण का जवाब देने के लिये तैयार हैं.

उन्होंने कहा,‘‘ऑस्ट्रेलिया विरोधी टीम पर शुरूआत में ही दबाव बनाता है और हम इसका सामना करने के लिये तैयार हैं. हम यहां जीतने आये हैं और हमें इसका पूरा भरोसा है.’’ ऑस्ट्रेलिया ने विकेटकीपर टिम पेन को सात साल बाद टेस्ट टीम में चुना है. वहीं सीनियर बल्लेबाज शान मार्श की भी आठवीं बार टीम में वापसी हुई है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story साउथ अफ्रीका दौरे पर प्रैक्टिस मैच नहीं खेलेगी टीम इंडिया, चार नए गेंदबाज शामिल