करियर के सबसे बुरे दौर से गुजर रहे हैं पुजारा और कोहली

By: | Last Updated: Monday, 11 August 2014 11:39 AM
bad_time_for_kohali_pujara_career

नई दिल्ली: सचिन तेंदुलकर के संन्यास लेने के बाद भारतीय मध्यक्रम की रीढ़ माने जा रहे विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा इंग्लैंड दौरे में अपने करियर के सबसे बुरे दौर से गुजर रहे हैं जो भारत की पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला में लगातार दो हार के लिये मुख्य वजह भी मानी जा रही है.

 

कोहली ने अभी तक इस श्रृंखला के चार मैचों की आठ पारियों में केवल 108 रन बनाये हैं और उनका औसत 13 . 50 है. दूसरी तरफ पुजारा भी लगातार नाकाम रहे. उनके नाम पर इस श्रृंखला में 25 . 87 की औसत से 207 रन दर्ज हैं जिसमें एक अर्धशतक शामिल है. मैनचेस्टर में खेले गये चौथे टेस्ट मैच में ये दोनों बल्लेबाज पहली पारी में खाता नहीं खोल पाये थे जबकि दूसरी पारी में पुजारा 17 और कोहली सात रन बनाकर आउट हो गये थे.

 

इस मैच में भारत के शीर्ष क्रम के पांचों बल्लेबाजों का प्रदर्शन बेहद खराब रहा. पुजारा और कोहली के अलावा मुरली विजय, गौतम गंभीर और अंजिक्य रहाणे ने इस मैच की दोनों पारियों में केवल 89 रन बनाये. यह टेस्ट क्रिकेट में भारतीय शीर्ष क्रम का सातवां बुरा प्रदर्शन है.

 

राहुल द्रविड़ के संन्यास के बाद भारतीय मध्यक्रम के श्रीमान भरोसेमंद माने जा रहे पुजारा इस साल शुरू से रन बनाने के लिये जूझ रहे हैं. उन्होंने पिछले साल जोहानिसबर्ग में आखिरी शतक लगाया था और उसके बाद पिछली 14 पारियों से उन्हें सैकड़े का इंतजार है.

 

पुजारा ने वर्ष 2014 में अब तक छह टेस्ट मैच की 12 पारियों में केवल 267 रन बनाये हैं जिनमें उनका औसत 22 . 65 रहा. इसका बुरा प्रभाव पुजारा के औसत पर भी पड़ा. इस साल के शुरू में उनका औसत 66 . 25 था जो मैनचेस्टर टेस्ट मैच के बाद 51 . 58 हो गया है.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: bad_time_for_kohali_pujara_career
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017