85 मैच में 70 हार के साथ 'शर्मनाक' रिकॉर्ड की ओर बांग्लादेश

By: | Last Updated: Friday, 19 September 2014 11:56 PM
Bangladesh poor performance in test match

नई दिल्लीः भारत के खिलाफ 2000 में अपना पहला टेस्ट खेलने उतरी बांग्लादेश 14 साल बाद भी टेस्ट क्रिकेट में उसी जगह खड़ी है जहां से इसने शुरुआत की थी. अब तक 85 टेस्ट खेल चुके बांग्लादेश को आखिरी जीत कब मिली थी इसका पता रिकॉर्ड बुक से चलेगा लेकिन टीम को कब-कब हार मिली थी इसके बारे में हर कोई बता सकता है.

 

85 टेस्ट खेलने वाले इस टीम को अब तक 70 मुकाबलों में हार मिली है. शुरुआती दौर में हर नई टीम को इस स्थिति से गुजरना पड़ता है लेकिन बाग्लादेश की स्थिति और भी बुरी है. इन 70 मुकाबलों में भी टीम ने विरोधी टीम को कांटे की टक्कर कब दी थी इसका भी पता लगाना मुश्किल है. टीम को 36 बार पारी की हार झेलनी पड़ी है. 6 बार 200 से ज्यादा रनों से और 8 बार 9 या 10 विकेट से.

 

इन 85 मुकाबलों में टीम ने जो चार मैच जीते हैं उनमें जिम्बाब्वे के खिलाफ दो और वेस्टइंडीज की दोयम दर्जे की टीम के खिलाफ 2009 में दो जीत मिली थी.

 

अगर टेस्ट खेलने वाले टीम की बात करें तो 85 मैच के बाद हर टीम बांग्लादेश से काफी आगे दिखती है. इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया पहले और दूसरे नंबर पर हैं तो वहीं हाल ही में 500 टेस्ट खेलने वाली वेस्टइंडीज तीसरे नंबर है. पाकिस्तान भी अपनी शुरुआती दिनों में जीत निकालने में सफल रहा था. इस मामले में भारतीय टीम 8 जीत के साथ काफी पीछे है. लेकिन टीम विदेशी मैदानों पर मैच ड्रॉ कराने में सफल रही थी.

 

 

टीम

 जीत

 हार

  ड्रॉ

इंग्लैंड

  41

  29

 15

ऑस्ट्रेलिया

  34

  35

 16

वेस्टइंडीज

  25

  30

 29

पाकिस्तान

  14

  23

 48

साउथ अफ्रीका

  15

  46

 24

श्रीलंका

 12

  37

 36

भारत

   8

  34

 43

जिम्बाब्वे

   9

  50

 26

न्यूजीलैंड

   5

  42

 38

बांग्लादेश

   4

  70

 11

 

बांग्लादेश के लिए बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों का प्रदर्शन खराब रहा है. इन 85 टेस्ट में बांग्लादेश के बल्लेबाज सिर्फ 35 शतक लगाए पाए हैं जो उन्हें नीचे से दूसरे पायदान पर रखती है. 50 टेस्ट खेलने वाले हबीबुल बशर ही एकमात्र बल्लेबाज हैं जिन्होंने 3000 का आंकड़ा पार किया.    

 

वहीं टेस्ट मैचों में गेंदबाजों को विकेट निकालने के लिए जूझते देखा गया है. बांग्लादेश ने अब तक खेले गए 85 टेस्ट में सिर्फ 900 विकेट लिए हैं जो किसी भी टीम की सबसे खराब स्थिति है. टीम की तेज गेंदबाजी चिंता की बात है. जबकि स्पिन अटैक भी विकेट निकालने में तरसते दिखे हैं. शाकिब अल हसन ही एकमात्र खिलाड़ी रहे हैं जिन्होंने समय-समय पर बल्ले और गेंद दोनों से सरहानीय प्रदर्शन किया है.

 

बांग्लादेश की इस स्थिति के लिए किसे जिम्मेदार ठहराया जाए ये तो कहना कठिन है लेकिन दिग्गज टीमों के विरूद्ध कम खेलने को कई दिग्गज  इस प्रदर्शन के लिए जिम्मेदार मानते हैं. बांग्लादेश अपने हार के सिलसिले को कब तोड़ पाती है ये देखना होगा. अगर हार का सिलसिला यूं ही चलता रहा तो कहीं टेस्ट खेलने वाली इस टीम को टेस्ट से हाथ ही न धोना पड़ जाए.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Bangladesh poor performance in test match
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017