श्रीनिवासन को लेकर बीसीसीआई वर्किंग ग्रुप की बैठक स्थगित

By: | Last Updated: Friday, 28 August 2015 12:49 PM
bcci working group meeting

कोलकाता: एन श्रीनिवासन की मौजूदगी को लेकर बीसीसीआई कावर्किंग ग्रुप  की महत्वपूर्ण बैठक आज नाटकीयता से भरी रही. बोर्ड के पूर्व प्रमुख की स्थिति को लेकर वैधानिक स्पष्टता के अभाव में मौजूदा अध्यक्ष जगमोहन डालमिया ने बैठक अनिश्चित काल के लिये स्थगित कर दी.

 

बोर्ड सचिव अनुराग ठाकुर ने एक संक्षिप्त बयान में कहा ,‘‘भारतीय क्रिकेट बोर्ड की कार्यसमिति की बैठक अनिश्चित काल के लिये स्थगित कर दी गई चूंकि यह तय किया गया कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट राय ली जायेगी कि एन श्रीनिवासन तमिलनाडु क्रिकेट संघ के अधिकृत प्रतिनिधि के तौर पर बीसीसीआई की बैठकों में भाग ले सकते हैं या नहीं.’’

 

वर्किंग ग्रुप को आईपीएल मामले चार सदस्यीय कार्यसमूह की रिपोर्ट पर चर्चा करनी थी. सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त जस्टिस आर एम लोढा समिति द्वारा दो फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स को दो साल के लिये निलंबित किये जाने के बाद वर्किंग ग्रुप का गठन किया गया था.

 

श्रीनिवासन की मौजूदगी को लेकर बैठक स्थगित करनी पड़ी. सुप्रीम कोर्ट ने आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण के बाद श्रीनिवासन के बीसीसीआई अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने पर रोक लगा दी थी.

 

तमिलनाडु क्रिकेट संघ के अध्यक्ष के तौर पर बैठक में भाग लेने आये श्रीनिवासन ने अपने बचाव में जस्टिस श्रीकृष्णा की राय का हवाला दिया जिन्होंने कहा था कि वह बैठक में भाग ले सकते हैं.

 

बीसीसीआई के कुछ सदस्यों ने इस दलील को खारिज करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने साफ तौर पर कहा है कि वह बीसीसीआई की बैठकों से दूर रहे. बैठक में मौजूद एक अधिकारी ने कहा ,‘ चूंकि श्रीनिवासन की कानूनी स्थिति को लेकर स्पष्टता नहीं है लिहाजा अध्यक्ष ने बैठक स्थगित कर दी. बोर्ड के कानूनी सलाहकार उषानाथ बनर्जी ने भी कहा कि उन्हें श्रीनिवासन की मौजूदा कानूनी स्थिति के बारे में पता नहीं है.’’ अधिकारी ने कहा कि श्रीनिवासन को साफ तौर पर कहा गया कि वह बैठक में भाग नहीं लें और उन्हें इससे परे रहने के लिये कहने वाले आईपीएल अध्यक्ष राजीव शुक्ला और बीसीसीआई कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी थे . इसके बावजूद श्रीनिवासन बैठक में आये .

 

उन्होंने बोर्ड सदस्यों को अपनी स्थिति यह कहकर स्पष्ट करने की कोशिश की कि बतौर खेल प्रशासक और चेन्नई सुपर किंग्स की मालिक इंडिया सीमेंट्स के मालिक के तौर पर हितों का कोई टकराव नहीं है .

 

समझा जाता है कि बीसीसीआई की सालाना आम बैठक 27 सितंबर को कोलकाता में होगी .

 

कार्यसमिति को आज जस्टिस लोढा समिति की रिपोर्ट और कार्यसमूह के सुझावों पर बात करनी थी. इसमें मद्रास उच्च न्यायालय के उस फैसले पर भी बात होनी थी जिसमें सीएसके लिमिटेड द्वारा दायर याचिका पर बोर्ड, इंडिया सीमेंट्स और अन्य संबंधित पक्षों को जवाबी हलफनामे दाखिल करने के लिये कहा गया था.

 

उच्च न्यायालय ने संबंधित पक्षोंे को लिखित हलफनामे निर्धारित समय सीमा में जमा करने के लिये कहा है . मामले की अगली सुनवाई 23 सितंबर को होगी .

 

बैठक में एनसीए समिति के उन सुझावों पर भी बात होनी थी कि अकादमी में बेंगलूर में रखना है या नहीं . इसके अलावा छत्तीसगढ, बिहार और मणिपुर के मान्यता के मसले और तकनीकी समिति के सुझाव पर भी बात की जानी थी .

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: bcci working group meeting
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017