बीसीसीआई कार्यकारी समूह ने कहा, 'प्रायोजक बोर्ड के साथ'

By: | Last Updated: Tuesday, 4 August 2015 8:02 AM
BCCI_

नई दिल्ली: आईपीएल 2013 के भ्रष्टाचार प्रकरण के संबंध में न्यायमूर्ति लोढ़ा समिति के फैसलों का अध्ययन करने के लिये गठित किये गये बीसीसीआई के चार सदस्यीय कार्यसमूह की इंडियन प्रीमियर लीग के अगले सत्र पर चर्चा करने को लेकर आज यहां पहली बार बैठक हुई. समूह ने कहा कि प्रायोजक पूरी तरह से बोर्ड के साथ हैं.

 

न्यायमूर्ति लोढ़ा समिति ने पिछले महीने चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रायल्स के मालिकों क्रमश: गुरूनाथ मयप्पन और राज कुंद्रा को निलंबित कर दिया था जबकि इन दोनों फ्रेंचाइजियों पर दो साल का प्रतिबंध लगा दिया था.

 

इसके बाद बोर्ड ने कार्यसमूह का गठन किया जिसे आईपीएल के लिये खाका तैयार करने के लिये छह सप्ताह का समय दिया गया है. आईपीएल संचालन परिषद के चेयरमैन राजीव शुक्ला इस कार्यसमूह के भी प्रमुख हैं.

 

उन्होंने कहा, ‘‘हमने आज से सभी हितधारकों के साथ बैठकें शुरू कर दी हैं. आज यस बैंक के प्रतिनिधियों ने कार्यसमूह के सदस्यों से मुलाकात की. यस बैंक हमारा एक प्रायोजक है. इसी तरह से हम अन्य प्रायोजकों से भी मिलेंगे और उनसे भी इस पर बात करेंगे कि आईपीएल नौ को कैसे सफल बनाया जाए. ’’

 

दिल्ली में बैठक के बाद कार्यसमूह की अगली बैठक मुंबई में होगी.

 

शुक्ला ने कहा, ‘‘मुंबई में हमारी योजना कम से चार फ्रेंचाइजी मालिकों से मिलने की है. हम नयी टीमों और खिलाड़ियों के भविष्य को लेकर सभी संभावनाओं पर चर्चा करेंगे. ’’

 

हितों के टकराव वाले विवादास्पद मसले पर उन्होंने कहा, ‘‘हमारे अध्यक्ष ने भी बयान जारी कर दिया है. सभी आवश्यक कदम उठायें जाएंगे. ’’

 

शुक्ला से पूछा गया कि क्या चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रायल्स को उन दो साल के लिये फ्रेंचाइजी शुल्क भरना है जिस दौरान वे निलंबित रहेंगी, उन्होंने कहा, ‘‘नहीं, उन्हें कुछ भी भुगतान करने की जरूरत नहीं है. न तो वे हमें कुछ भुगतान करेंगे और न हम उन्हें. ’’

 

कार्यसमूह में शुक्ला के अलावा बीसीसीआई सचिव अनुराग ठाकुर, कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी तथा आईपीएल संचालन परिषद के सदस्य और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली शामिल है. बोर्ड के वकील उषा नाथ बनर्जी का सहयोग भी उन्हें मिलेगा. ये सभी आज की बैठक में उपस्थित थे.

 

आईपीएल में दो नयी टीमों के बारे में कार्यसमूह के विचारों के बारे में पूछे जाने पर शुक्ला ने कहा, ‘‘हमारा अभी कोई नजरिया नहीं है. एक बार जब हम सभी हितधारकों से बात कर लेंगे तब अपना नजरिया रखेंगे. ’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: BCCI_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: BCCI
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017