चैम्पियन्स लीग में मिलेगा आईपीएल का रोमांच, चेन्नई का सामना कोलकाता से

By: | Last Updated: Friday, 3 October 2014 11:29 AM
clt-20 final

बेंगलूरु: आईपीएल भले ही अभी काफी दूर हो लेकिन आईपीएल का मजा आपको मिलने वाला है, कोलकाता नाइट राइडर्स और चेन्नई सुपर किंग्स की टीम फाइनल में एक दूसरे को खिलाफ खेलने उतरेगी. इससे पहले दोनों टीम इंडियन प्रीमियर लीग 2012 के फाइनल में भी आमने सामने हुई थी और रोमांचक मुकाबले में बाजी केकेआर ने मारी थी.

 

आंकड़ों में आगे केकेआर

आंकड़ों की बात करें तो बाजी केकेआर की तरफ जाती दिखती है. टीम ने मौजूदा टूर्नामेंट में कोई मैच नहीं गंवाया है जबकि आईपीएल सात से अब तक लगातार 14 मैच जीत चुकी है. केकेआर की टीम इस मैच में अजेय टीम के ठप्पे के साथ उतरेगी क्योंकि वह सेमीफाइनल में कल आस्ट्रेलिया के होबार्ट हरिकेंस को सात विकेट से हराकर लगातार 14 मैच जीत चुकी है. कोलकाता ने अपने सभी ग्रुप मैच हैदराबाद में खेले हैं और उसे यहां के हालात से जल्द से जल्द सामंजस्य बैठाना होगा.

 

नारायण के रूप में टीम को लगा झटका

 

कोलकाता के पास गंभीर, रोबिन उथप्पा, जाक कैलिस और मनीष पांडे जैसे उम्दा बल्लेबाज मौजूद हैं जिन्हें काफी अनुभव है और ये अच्छी फॉर्म में भी चल रहे हैं. लेकिन पर्पल टीम को फाइनल से ठीक पहले सबसे बड़ा झटका रहस्यमयी स्पिनर सुनील नारायण के गेंदबाजी से रोकने से लगी है. अंतिम ग्रुप मैच में संदिग्ध एक्शन के लिए रिपोर्ट होने के बाद कल सेमीफाइनल के बाद भी रिपोर्ट की गई जिसके कारण वह फाइनल में गेंदबाजी नहीं कर पाएंगे. टीम में शामिल युवा स्पिनर कुलदीप यादव और यूसुफ पठान, रेयान टेन डोएशे और आंद्रे रसेल जैसे आलराउंडरों ने अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है.

 

 

सीएसके भी कम नहीं-

वहीं अगर बात सीएसके की करें तो इस साल सुपरकिंग्स ने अपने अधिकांश ग्रुप मैच यहां खेले हैं और जहां तक हालात को समझने का सवाल है तो निश्चित तौर पर फाइनल में उसे थोड़ा फायदा मिल सकता है. चेन्नई ने बाकी टीमों के मैचों के नतीजे अपने पक्ष में रहने के कारण अंतिम चार में जगह बनाई थी. महेंद्र सिंह धोनी की अगुआई वाली चेन्नई की टीम में हालांकि किसी भी टीम को पटखनी देने की क्षमता है और वे इसे किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ सेमीफाइनल में दिखा चुके हैं. कोलकाता के कप्तान गौतम गंभीर भी अपनी कप्तानी के लिए जाने जाते हैं और धोनी की टीम को कई बार हरा चुके हैं.

 

 

चेन्नई ने सेमीफाइनल में पंजाब को 65 रन से रौंदकर फाइनल में जगह बनाई है और टीम चिन्नास्वामी स्टेडियम की सपाट पिच का फायदा उठाने की कोशिश करेगी. आईपीएल के पिछले सत्र में शानदार प्रदर्शन करने वाले सलामी बल्लेबाज ड्वेन स्मिथ चैम्पियन्स लीग में अब तक नाकाम रहे हैं और कल वह अपने खराब प्रदर्शन की भरपाई करने के इरादे से उतरेंगे.

 

 

बल्लेबाजों पर होगा दारोमदार –

 

आक्रामक बल्लेबाज ब्रैंडन मैकुलम के प्रदर्शन में निरंतरता नहीं है और वह फाइनल में बेहतर प्रदर्शन करके सुरेश रैना जैसे खिलाड़ियों को शानदार मंच देने की कोशिश करेंगे. पिछले आईपीएल सत्र से चोट के कारण बाहर रहने वाले ड्वेन ब्रावो गेंद और बल्ले दोनों से अपनी प्रतिभा साबित कर चुके हैं. वेस्टइंडीज के इस ऑलराउंडर ने टीम के पिछले मैच में 39 गेंद में 67 रन की पारी खेलकर अपनी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई थी. रविंद्र जडेजा भी अपनी ऑलराउंड क्षमता दिखाने को बेताब होंगे.

 

चेन्नई के गेंदबाजों ने भी पिछले कुछ मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया है. आशीष नेहरा, जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, मोहित शर्मा और ब्रावो लय में होने पर किसी भी टीम को परेशान कर सकते हैं.

 

सेमीफाइनल में मोहित, नेहरा, पवन नेगी और रैना ने पंजाब की बल्लेबाजी को धराशायी करने में अहम भूमिका निभाई थी.

 

मैच भले ही कोई ही जीते लेकिन इतना तो तय है कि इस बार भी ये ट्रॉफी भारत में ही रहने वाली है.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: clt-20 final
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017