रवि शास्त्री ने दिया विश्व कप जीतने का मंत्र

By: | Last Updated: Wednesday, 9 March 2016 7:58 PM

कोलकाता: टीम इंडिया अभी टी20 में बेहतरीन फॉर्म में है और टीम डायरेक्टर रवि शास्त्री ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि टीम अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखेगी और विश्व टी20 जैसे बड़े टूर्नामेंटों को जीतना अपनी आदत बनाएगी.

शास्त्री ने कहा कि भारत के पास सही संयोजन है और अधिकतर खिलाड़ी आईसीसी प्रतियोगिता से पहले सही समय पर अच्छी फॉर्म में हैं. उन्होंने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हमें मैच जीतने की अच्छी आदत पड़ गयी है. इस अभियान में कभी कभार रोड़ा भी आ सकता है लेकिन निरंतर अच्छा प्रदर्शन करने की आदत बनाये रखना और प्रत्येक मैच को अहम मानना महत्वपूर्ण है. यहां से अब प्रत्येक मैच महत्वपूर्ण होगा. ’’

शास्त्री ने वेस्टइंडीज के खिलाफ अभ्यास मैच से पूर्व कहा, ‘‘ बड़े टूर्नामेंट जीतने के लिये आपको चाहिए कि सात से आठ खिलाड़ी लगातार अच्छा प्रदर्शन करें. हमारी कुछ लोगों की टीम नहीं है. हम भारतीय क्रिकेट टीम हैं. विराट कोहली बेहतरीन फार्म में है और रोहित शर्मा भी. महेंद्र सिंह धोनी निचले क्रम में अच्छा प्रदर्शन कर रहा है. युवराज सिंह ने भी फॉर्म हासिल कर ली है. शिखर धवन भी लय में है. ’’

भारत ने 2007 में पहला विश्व टी20 जीता था. वह कल अभ्यास मैच में वेस्टइंडीज से भिड़ेगा और शास्त्री का मानना है कि हाल की सफलता से टीम का मनोबल बढ़ा हुआ है. इस पूर्व ऑलराउंडर ने कहा, ‘‘एशिया कप में हमने बहुत अच्छी तैयारियां की. शुरू में परिस्थितियां अनुकूल नहीं थी लेकिन बाद में ये बेहतर होती गयी. शुरू में गेंद स्विंग और सीम कर रही थी. ’’

भारत ने हाल में 11 टी20 मैचों में से दस में जीत दर्ज की. इनमें ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका के खिलाफ सीरीज और फिर बांग्लादेश में एशिया कप में जीत भी शामिल हैं. शास्त्री ने कहा कि टीम युवा और अनुभव का अच्छा मिश्रण है. उन्होंने कहा, ‘‘कोई भी अच्छी टीम युवा और अनुभव का अच्छा मिश्रण चाहती है. यदि आप इतिहास पर गौर करो तो नंबर एक टेस्ट टीम हमेशा अनुभव और युवा का मिश्रण रही है. युवा खिलाड़ी टीम में उर्जा लाते हैं और सीनियर की बराबरी करना चाहते है. वे युवा है और बेहतर बनने के लिये कड़ी मेहनत कर रहे हैं. ’’

अजिंक्य रहाणे और हरभजन सिंह जैसे खिलाड़ियों को खेलने का मौका नहीं मिल रहा है लेकिन शास्त्री ने कहा कि इस तरह की समस्या अच्छा सरदर्द है. उन्होंने कहा, ‘‘हरभजन और रहाणे जैसे खिलाड़ी दुनिया की किसी भी टीम में जगह बना सकते है. यह अच्छी परेशानी है. उन जैसा खिलाड़ी बाहर बैठा हुआ. रहाणे ऐसा खिलाड़ी जो सभी प्रारूपों में खेल सकता है. ’’

अभी कुछ समय पहले तक गेंदबाजों को आलोचना झेलनी पड़ रही थी और शास्त्री ने कहा कि गेंदबाजी इकाई ने खुद को पूरी तरह से बदल दिया. उन्होंने नये खिलाड़ियों जैसे जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पंड्या तथा अनुभवी आशीष नेहरा की सफलता का श्रेय गेंदबाजी कोच भरत अरूण को दिया. शास्त्री ने कहा, ‘‘उन्होंने (भरत) ने अहम भूमिका निभायी. मुझे खुशी है कि आशीष, जसप्रीत और पंड्या ने मौकों का पूरा फायदा उठाया. आपको इसका श्रेय भरत को देना होगा. वह लंबे समय से उनके साथ काम कर रहे हैं और परिणाम के लिये आपको धर्य बनाये रखने होता है. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘पहले गेंदबाजी कमजोर दिख रही थी क्योंकि हम कुछ चोटों की समस्या से जूझ रहे थे. दक्षिण अफ्रीकी सीरीज में हमने अश्विन को जल्दी गंवा दिया. विश्व कप के बाद से हमारे पास शमी नहीं है. हमें अपनी बेंच स्ट्रेंथ मजबूत करने के लिये कुछ नए खिलाड़ी देखने होंगे. ’’

 

 

Cricket News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: रवि शास्त्री ने दिया विश्व कप जीतने का मंत्र
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017