कोर्ट ने केंद्र से कहा- कुश्ती कोच विनोद कुमार को दें द्रोणाचार्य अवॉर्ड

By: | Last Updated: Friday, 28 August 2015 11:13 AM
dronachary award

नई दिल्ली: दिल्ली हाई कोर्ट ने आज केंद्र को निर्देश दिया कि वह पूर्व मुख्य राष्ट्रीय कुश्ती कोच विनोद कुमार को द्रोणाचार्य पुरस्कार प्रदान करे.

 

हाई कोर्ट ने कुमार की याचिका मंजूर कर ली जिन्होंने द्रोणाचार्य पुरस्कार चयन समिति द्वारा उपेक्षा किये जाने के बाद अदालत की शरण ली थी.

 

द्रोणाचार्य पुरस्कार चयन समिति ने अनूप सिंह दहिया के नाम की सिफारिश की थी. न्यायमूर्ति वी पी वैश ने कहा ,‘‘ पुरस्कार याचिकाकर्ता विनोद कुमार को दिया जाना चाहिये.’’ पुरस्कार समारोह कल राष्ट्रपति भवन में आयोजित किया गया है.

 

विनोद नवंबर 2010 से अप्रैल 2015 तक राष्ट्रीय पुरूष टीम के मुख्य कोच रहे. उनका दावा है कि अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों में उनके शिष्यों की उपलब्धियों के दम पर उनके अनूप से अधिक अंक हैं. उन्हें 2012 में ध्यानचंद पुरस्कार दिया गया था.

 

उन्होंने आगे दावा किया कि ध्यानचंद पुरस्कार मिला होने के कारण समिति ने उनका नाम खारिज कर दिया. उन्होंने कहा था,‘‘ मुझे समझ नहीं आता कि ध्यानचंद पुरस्कार का द्रोणाचार्य पुरस्कार से क्या सरोकार है. पहले भी कइयों को अर्जुन  और द्रोणाचार्य पुरस्कार देानों मिल चुके हैं.’’

 

ध्यानचंद पुरस्कार उन खिलाड़ियों को दिया जाता है जिन्हें अर्जुन पुरस्कार नहीं मिला जबकि द्रोणाचार्य पुरस्कार कोचों के लिये है.

 

भारतीय कुश्ती महासंघ ने विनोद को मई में मुख्य राष्ट्रीय कोच के पद से हटा दिया था चूंकि खिलाड़ी दोहा एशियाई चैम्पियनशिप में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके थे.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: dronachary award
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017