मध्य क्षेत्र की वापसी, दिलीप ट्राफी फाइनल रोमांचक मोड़ पर

By: | Last Updated: Friday, 31 October 2014 1:34 PM
duleep trophy

नई दिल्ली: मध्य क्षेत्र ने दो दिन लचर प्रदर्शन के बाद आज तीसरे दिन बेहतर प्रदर्शन करते हुए बढ़त हासिल की और दक्षिण क्षेत्र के खिलाफ दिलीप ट्रॉफी फाइनल को रोमांचक मोड़ पर पहुंचाया.

 

अली मुर्तजा और पीयूष चावला के दक्षिण क्षेत्र को 379 रन पर रोकने के बाद मध्य क्षेत्र के सलामी बल्लेबाजों फैज फजल (72) और जलज सक्सेना (71) ने पहले विकेट के लिए 128 रन जोड़कर अपनी टीम को जोरदार वापसी दिलाई.

 

दिन का खेल खत्म होने तक मध्य क्षेत्र ने चार विकेट पर 214 रन बना लिए थे. टीम को 111 रन की बढ़त हासिल है जबकि उसके छह विकेट शेष हैं.

 

विकेट अब टूटने लगी है और कई गेंद काफी टर्न ले रही है और ऐसे में मध्य क्षेत्र अगर 225 से 240 रन की बढ़त हासिल कर लेता है तो उसके पास जीत दर्ज करने का मौका हो सकता है. मैच के अंतिम दिन दक्षिण क्षेत्र के बल्लेबाजों को यहां परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

 

दिन का खेल खत्म होने पर रोबिन बिष्ट 26 जबकि महेश रावत 11 रन बनाकर खेल रहे थे.

 

टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचाने का श्रेय हालांकि फजल और जलज की सलामी जोड़ी को जाता है जिन्होंने टीम के 103 रन से पिछड़ने के बाद शानदार बल्लेबाजी की. जलज ने अपनी पारी के दौरान कुछ अच्छे ड्राइव लगाए जबकि फजल ने अच्छे पुल शॉट खेले. फजल हालांकि पुल शॉट खेलने की कोशिश में ही आउट हुए. फजल ने 139 गेंद की अपनी पारी में 11 चौके मारे जबकि जलज की 119 रन की पारी में 14 चौके शामिल रहे. जलज और फजल ने 37.5 ओवर में 128 रन की साझेदारी की. प्रज्ञान ओझा ने आर्म बॉल पर जलज को पगबाधा आउट करके इस साझेदारी को तोड़ा.

 

फजल भी इसके बाद दक्षिण के कप्तान रंगनाथ विनय कुमार की गेंद को पुल करने की कोशिश में डीप स्क्वार लेग पर बाबा अपराजित को कैच दे बैठे.

 

नमन ओझा ने 27 रन की पारी के दौरान पांच चौके जड़े लेकिन जब लग रहा था कि वह लय में हैं तब लेग स्पिनर श्रेयास गोपाल की गेंद को कट करने की कोशिश में दूसरी स्लिप में रोबिन उथप्पा को कैच दे बैठे.

 

अशोक मनेरिया (00) को गोपाल ने पगबाधा आउट करके मध्य क्षेत्र को चौथा झटका दिया. अंपायर का यह फैसला हालांकि संदिग्ध लग रहा था. बिष्ट और रावत ने हालांकि इसके बाद दिन का खेल खत्म होने तक टीम को और झटके नहीं लगने दिए. इससे पहले मध्य क्षेत्र के गेंदबाजों ने टीम को वापसी दिलाई. केएल राहुल (185) और हनुमा विहारी (75) जब मैच को दक्षिण के पक्ष में ले जा रहे थे तब मध्य क्षेत्र के कप्तान पीयूष चावला ने 81वें ओवर में राहुल को बोल्ड कर दिया. राहुल ने 233 गेंद की अपनी पारी में 19 चौके और दो छक्के मारे. उन्होंने विहारी के साथ 126 रन की साझेदारी की. दक्षिण क्षेत्र ने इसके बाद अंतिम छह विकेट सिर्फ 20 रन पर गंवा दिए जिससे टीम चार विकेट पर 359 रन के अच्छे स्कोर पर होने के बावजूद 379 रन पर सिमट गई.

 

विहारी भी शतक से चूक गए. उन्हें अली मुर्तजा ने बोल्ड किया. विहारी ने 97 गेंद में 10 चौके और दो छक्के मारे.

 

मुर्तजा ने इसके बाद निचले क्रम को ध्वस्त किया. उन्होंने 59 रन देकर चार विकेट चटकाए जबकि चावला ने 95 रन देकर दो विकेट हासिल किए. पंकज सिंह ने 67 रन देकर तीन विकेट चटकाए.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: duleep trophy
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017