बुलंद हौसलों के साथ अश्विन ने कहा - मेरे पास विकेट लेने का लाइसेंस है

By: | Last Updated: Thursday, 28 January 2016 4:51 PM
I have the license to take wickets: Ashwin

मेलबर्न: पहले टी-20 में शानदार जीत के बाद टीम इंडिया के हौसले बुलंद हैं और उसे किसी भी तरह से दबाव में नहीं डाला जा सकता. दूसरे टी 20 से पहले टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि वह उन पर हमला करने की ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की रणनीति से विचलित नहीं हैं चूंकि उनके पास इसका सामना करने और विकेट लेने की क्षमता है.

अश्विन ने कहा ,‘‘यह बल्लेबाजों का टूर्नामेंट रहा है लिहाजा आपको अपने बेसिक्स पर अडिग रहना होता है. जब मैंने वापसी की तब मैं आत्मविश्वास से ओतप्रोत था और मैने अपनी रणनीति बना रखी थी. मेरे पास सर्कल के बाहर भी एक अतिरिक्त फील्डर था जिसका बड़ा फायदा मिला.’’

पहले टी20 में एरोन फिंच द्वारा उन्हें निशाना बनाए जाने के बारे में पूछने पर अश्विन ने कहा ,‘‘यदि उनके पास लाइसेंस है तो मेरे पास भी विकेट लेने का लाइसेंस है. ऐसा नहीं है कि उनके ऑफ स्पिनर पर रन नहीं बने हैं. उसने 80 रन दिए और इस सीरीज में ऐसा ही होता आया है. हर किसी की गेंद पर रन पड़े हैं.’’ अश्विन ने तीन मैचों के ब्रेक के बाद वापसी की और आशीष नेहरा के साथ गेंदबाजी का आगाज किया. इसके बाद उन्होंने रविंद्र जडेजा के साथ गेंदबाजी की और 28 रन देकर दो विकेट लिए.

उन्होंने कहा ,‘‘मैंने पहले ओवर में अच्छी गेंदबाजी की. मेरी गेंदबाजी में कोई खराबी नहीं थी हालांकि काफी रन दिए. वनडे सीरीज में भी नाथन लियोन और केन रिचर्डसन ने भी 70 या ज्यादा रन दिए लिहाजा यह विकेट लेने और अच्छी गेंदबाजी करने का आत्मविश्वास बनाए रखने की बात है.’’

यह पूछने पर कि क्या वनडे सीरीज में प्लेइंग इलेवन में नहीं चुने जाने पर वह निराश थे, अश्विन ने कहा कि वह गलत फैसला नहीं था. उन्होंने कहा ,‘‘मेरे बाहर होने का कारण था कि मैं भारत को जीत नहीं दिला पा रहा था. यदि भारत जीतता तो मैं टीम में रहता. मैने काफी रन दिए जिससे मुझे बाहर रहना पड़ा और यह सही भी है क्योंकि आपको सर्वश्रेष्ठ टीम उतारनी होती है . मैं और मेहनत करके बेहतर प्रदर्शन की कोशिश कर सकता हूं.’’

वनडे सीरीज के शुरूआती चार मैच हारने के बाद भारत ने सिडनी में आखिरी वनडे और फिर एडीलेड में पहला टी20 मैच जीता. लगातार मिली दो जीत से टीम पहली बार ऑस्ट्रेलिया पर दबाव बनाने में कामयाब रही है.

अश्विन ने कहा ,‘‘हम सही स्कोर का अनुमान नहीं लगा सके. पहले 300 या 260 रन भी विजयी स्कोर होता था जब हम 2011-12 में यहां आए थे. हमें लगा कि 310-320 रन बनाकर हमने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन 330 रन बनाने चाहिए थे बल्कि कैनबरा और सिडनी में तो मुझे लगा कि हम 350 रन भी बना सकते थे.’’ उन्होंने कहा ,‘‘पिछली बार जब दक्षिण अफ्रीका टीम यहां आई थी तब उसने 310 और 320 रन आसानी से बनाए थे हमसे सही स्कोर का आकलन करने में चूक हुई.’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: I have the license to take wickets: Ashwin
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

संगाकारा के घर में उनका सबसे बड़ा रिकॉर्ड तोड़ेंगे एमएस धोनी
संगाकारा के घर में उनका सबसे बड़ा रिकॉर्ड तोड़ेंगे एमएस धोनी

सौजन्य: AFP नई दिल्ली: श्रीलंका के साथ खेली गई 3...

ENGvsWI: कुक के दोहरे शतक से इंग्लैंड का विशाल स्कोर, वेस्टइंडीज़ की खराब शुरूआत
ENGvsWI: कुक के दोहरे शतक से इंग्लैंड का विशाल स्कोर, वेस्टइंडीज़ की खराब शुरूआत

बर्मिंघम: पूर्व कप्तान एलिस्टेयर कुक के करियर के चौथे दोहरे शतक की मदद से इंग्लैंड ने...

BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत
BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत

कोच्चि: क्रिकेटर एस श्रीसंत ने बीसीसीआई से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) के लिए केरल हाईकोर्ट...

डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक
डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक

बर्मिंघम: पाकिस्तान के अजहर अली के बाद एलिस्टेयर कुक डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ने वाले...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017