9 साल बाद छलका मनीष पांडे का दर्द, भारतीय टीम में जगह नहीं मिलने से हो गए थे निराश

9 साल बाद छलका मनीष पांडे का दर्द, भारतीय टीम में जगह नहीं मिलने से हो गए थे निराश

टीम इंडिया के स्टार खिलाड़ी मनीष पांडे ने 9 साल बाद अपने दर्द को बयां किया है. आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेलने वाले मनीष ने कहा कि जब उन्हें आईपीएल सीजन-2 में शतक जड़ने के बाद भी भारतीय टीम में जगह नहीं मिली तो वह निराश हो गए थे.

By: | Updated: 10 Apr 2018 08:45 PM

हैदराबाद: टीम इंडिया के स्टार खिलाड़ी मनीष पांडे ने 9 साल बाद अपने दर्द को बयां किया है. आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेलने वाले मनीष ने कहा कि जब उन्हें आईपीएल सीजन-2 में शतक जड़ने के बाद भी भारतीय टीम में जगह नहीं मिली तो वह निराश हो गए थे.

पांडे ने आईपीएल के दूसरे सीजन के दौरान सुर्खियां बटोरी थी जब वह आईपीएल में शतक जड़ने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने थे लेकिन इसके छह साल बाद उन्हें 2015 में जिंबाब्वे में दौरे पर भारतीय टी-20 टीम में डेब्यू करने का मौका मिला था.

मनीष पांडे ने कहा, ‘‘2009 में पहला शतक जड़ना टी-20 में मेरे लिए अच्छी शुरुआत थी. मुझे 2014 के बाद घरेलू सर्किट में खेली अच्छी पारियां ही याद हैं. मैंने जिंबाब्वे में 2015 में भारत के लिए डेब्यू किया.’’

पांडे ने कहा, '2009-2010 के बाद मैं सोच रहा था कि मैं भारत के लिए खेलूंगा. आईपीएल के बाद मेरे लिए फर्स्ट क्लास सीजन भी अच्छा रहा. मैं भारत के लिए खेलने को बेताब था. जब ऐसा नहीं होता तो कभी कभी आप निराश हो जाते हो लेकिन मुझे लगता है कि मैंने सीखा है कि यह जीवन का हिस्सा है.'

मनीष पांडे भारत के लिए, 22 वनडे और 23 टी-20 मैच खेल चुके हैं. वनडे में मनीष ने 39.27 की औसत से 432 रन बनाए हैं जबकि टी-20 में मनीष ने 41.16 की औसत से 494 बनाए.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: 9 साल बाद छलका मनीष पांडे का दर्द, भारतीय टीम में जगह नहीं मिलने से हो गए थे निराश
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story DD vs KXIP: पहली बार घर पहुंचे गौतम गंभीर और कर दी ये बड़ी भूल!