ICC: प्रेसिडेंट कमाल की धमकी - कर दूंगा सभी चीजों का खुलासा

By: | Last Updated: Monday, 30 March 2015 2:41 PM

मेलबर्न: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के अंदर विवाद ने आज गंभीर रूप ले लिया जब उसके अध्यक्ष मुस्तफा कमाल ने कुछ लोगों की ‘शरारतों’ का खुलासा करने की धमकी दी जिन्होंने उन्हें विश्व कप ट्रॉफी सौंपने के ‘संवैधानिक अधिकार’ से वंचित रखा.

 

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क को फाइनल के बाद विश्व कप ट्रॉफी चेयरमैन एन श्रीनिवासन ने दी लेकिन कमाल ने दावा किया किया आईसीसी के जनवरी 2015 में संशोधित किए गए नियमों के अनुसार वैश्विक प्रतियोगिताओं में ट्रॉफी देने का अधिकार अध्यक्ष के पास है.

 

कमाल ने बांग्लादेशी चैनलों से कहा, ‘‘ट्रॉफी मुझे देनी चाहिए थी. यह मेरा संवैधानिक अधिकार है. लेकिन दुर्भाग्य से मुझे ऐसा नहीं करने दिया गया. मेरे अधिकार का सम्मान नहीं किया गया. स्वदेश लौटने के बाद मैं पूरी दुनिया को बताऊंगा कि आईसीसी में क्या चल रहा है. मैं पूरी दुनिया को उन लोगों के बारे में बताऊंगा जो शरारती चीजें कर रहे हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि मुझे ट्रॉफी क्यों नहीं देने दी गई.’’ आईसीसी के मेमोरेंडम और आर्टिकल ऑफ एसोसिएशन में संशोधन को जनवरी 2015 में पूर्ण परिषण ने सर्वसम्मति से स्वीकृति दी थी और इसके नियम से ऐसा लगता है कि वैश्विक प्रतियोगिताओं में ट्रॉफी देने का अधिकार आईसीसी अध्यक्ष को है.

 

नियम 3.3 (बी) के अनुसार, ‘‘2014 की कांफ्रेंस खत्म होने के बाद से अध्यक्ष कांफ्रेंस और विशेष बैठकों में चेयरमैन की भूमिका निभाएगा और आईसीसी के तत्वावधान में होने वाली वैश्विक प्रतियोगिताओं और क्रिकेट टूर्नामेंटों में ट्रॉफी देने की जिम्मेदारी उस पर होगी. शंकाओं से बचने के लिए 2014 कांफ्रेंस के खत्म होने के बाद से अध्यक्ष कार्यकारी बोर्ड या किसी समिति या उप समिति के चेयरमैन के तौर पर काम नहीं करेगा.’’ आईसीसी अध्यक्ष हालांकि रस्म के तौर पर प्रमुख होगा जबकि कार्यकारी अधिकार चेयरमैन के पास होगा. हालांकि 1996 तक विश्व कप विभिन्न लोगों द्वारा प्रदान किए गए और यह जरूरी नहीं था कि आईसीसी प्रमुख ने यह ट्रॉफी दी हो.

 

कमाल ने विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में भारत के हाथों बांग्लादेश की शिकस्त के बाद अंपायरों के भेदभाव की कड़ी आलोचना की थी. इस मैच में भारत के रोहित शर्मा को रूबेल हुसैन की गेंद नोबॉल होने के कारण नॉटआउट दिया गया था जब यह फैसला काफी करीबी था.

 

कमाल ने कहा कि उन्होंने किसी देश के खिलाफ कुछ नहीं कहा था लेकिन सच बोलने के कारण उन्हें विश्व कप ट्रॉफी देने के मौके से वंचित किया गया.

 

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने खराब अंपायरिंग पर बयान दिया था और यहां तक कि आईसीसी ने भी प्रेस विज्ञप्ति जारी की थी. मैं अध्यक्ष था, मैं अध्यक्ष हूं और मैं अध्यक्ष रहूंगा. लेकिन सच बोलने, क्रिकेट लिए बोलने और क्रिकेट के हित में खड़ा होने के लिए मुझसे मेरा संवैधानिक अधिकार छीन लिया गया.’’

 

 

कमाल ने कहा, ‘‘मैं आईसीसी के लिए बोला था और मैंने किसी देश के खिलाफ नहीं बोला था. बल्कि मैंने क्रिकेट प्रेमी के रूप में बोला था. यही कारण है कि मैं ट्रॉफी नहीं दे पाया.’’ आईसीसी में विश्वस्त सूत्रों के अनुसार पता चला है कि शनिवार को मेलबर्न में आईसीसी बैठक में कमाल को कह दिया गया था कि उन्हें ट्रॉफी नहीं देने दी जाएगी.

 

पता चला है कि भारत बनाम बांग्लादेश क्वार्टर फाइनल मैच में अंपायरों के भेदभाव के बारे में कमाल के बोलने से चेयरमैन एन श्रीनिवासन काफी नाराज थे. कमाल ने आरोप लगाया था कि भारत ने अपनी ताकत का इस्तेमाल किया जिससे अंपायरों ने भेदभाव दिया.

 

कथित तौर पर रिकॉर्ड के रूप में कमाल की बात सुनने के बाद श्रीनिवासन खुश नहीं थे. उन्होंने सार्वजनिक तौर पर कुछ नहीं कहा लेकिन बोर्ड के सदस्यों को अपनी नाखुशी जता दी थी.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: icc
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

रोते बच्चे का वीडियो देख कोहली हुए दुखी, कहा ‘बच्चे को धमकाकर नहीं सिखाया जा सकता’
रोते बच्चे का वीडियो देख कोहली हुए दुखी, कहा ‘बच्चे को धमकाकर नहीं सिखाया जा...

नई दिल्ली: भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली सोशल मीडिया पर बेहद सक्रीय रहते हैं. श्रीलंका में...

संगाकारा के घर में उनका सबसे बड़ा रिकॉर्ड तोड़ेंगे एमएस धोनी
संगाकारा के घर में उनका सबसे बड़ा रिकॉर्ड तोड़ेंगे एमएस धोनी

सौजन्य: AFP नई दिल्ली: श्रीलंका के साथ खेली गई 3 टेस्ट मैचों की सीरीज़ को क्लीनस्वीप कर भारतीय टीम...

ENGvsWI: कुक के दोहरे शतक से इंग्लैंड का विशाल स्कोर, वेस्टइंडीज़ की खराब शुरूआत
ENGvsWI: कुक के दोहरे शतक से इंग्लैंड का विशाल स्कोर, वेस्टइंडीज़ की खराब शुरूआत

बर्मिंघम: पूर्व कप्तान एलिस्टेयर कुक के करियर के चौथे दोहरे शतक की मदद से इंग्लैंड ने...

BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत
BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत

कोच्चि: क्रिकेटर एस श्रीसंत ने बीसीसीआई से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) के लिए केरल हाईकोर्ट...

डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक
डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक

बर्मिंघम: पाकिस्तान के अजहर अली के बाद एलिस्टेयर कुक डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ने वाले...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017