INDvSA: दक्षिण अफ्रीका में ऐतिहासिक सीरीज़ जीत के साथ नंबर वन बना भारत

INDvSA: दक्षिण अफ्रीका में ऐतिहासिक सीरीज़ जीत के साथ नंबर वन बना भारत

रोहित शर्मा की शतकीय पारी, कुलदीप की शानदार गेंदबाज़ी और हार्दिक के बेहतरीन खेल की मदद से भारत ने दक्षिण अफ्रीकी ज़मीन पर इतिहास रच दिया है. 6 मैचों की वनडे सीरीज़ के आखिरी मुकाबले में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 73 रनों से शिकस्त देकर मेज़बान की धरती पर अपनी पहली सीरीज़ जीत दर्ज कर ली है.

By: | Updated: 14 Feb 2018 08:52 AM
नई दिल्ली/पोर्ट एलिज़ाबेथ: रोहित शर्मा की शतकीय पारी, कुलदीप की शानदार गेंदबाज़ी और हार्दिक के बेहतरीन खेल की मदद से भारत ने दक्षिण अफ्रीकी ज़मीन पर इतिहास रच दिया है. 6 मैचों की वनडे सीरीज़ के आखिरी मुकाबले में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 73 रनों से शिकस्त देकर मेज़बान की धरती पर अपनी पहली सीरीज़ जीत दर्ज कर ली है.

बल्लेबाजी में फ्लॉप रहने वाले ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने पोर्ट एलिजाबेथ में बेहतरीन गेंदबाजी और फील्डिंग कर टीम इंडिया को शानदार जीत दिलाई. पांड्या के शुरुआती झटकों और टर्निंग प्वाइंट रन आउट के बाद अंत में कुलदीप यादव (57 रन पर 4 विकेट) ने चार विकेट लेकर साउथ अफ्रीका का पुलिंदा 201 रनों पर बांध दिया.

पहले तीन वनडे में जीत के बाद चौथे मुकाबले में भारत को हार मिली लेकिन अब छठे और अंतिम मुकाबले से पहले सीरीज भारत के नाम हो चुकी है.

टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया एक बेहतरीन शुरुआत के बाद अंत में सात विकेट पर 274 रन ही बना सकी. भारत के लिए रोहित शर्मा ने फॉर्म में लौटते हुए शानदार 115 रनों की पारी खेली. भारत के स्कोर को देखने के बाद लग रहा था कि वो तकरीबन 50 रन कम है.

275 के लक्ष्य को हासिल करने उतरी साउथ अफ्रीका ने भी जोरदार शुरुआत की लेकिन इसके बाद 13 रनों के अंदर तीन विकेट गिरने के कारण मेज़बान टीम संकट में आ गई. अमला और कप्तान एडिन मार्कराम (32) ने पहले विकेट के लिए 52 रन जोड़े. इस बीच मार्कराम को एक जीवनदान मिला जब श्रेयस अय्यर ने जसप्रीत बुमराह की गेंद पर उनका कैच छोड़ा. हालांकि वह इसका फायदा नहीं उठा सके और बुमराह ने उन्हें विराट कोहली के हाथों कैच कराया.

अगले ओवर में हार्दिक पांड्या ने 55 के कुल स्कोर पर ज्यां पॉल ड्यू्मिनी (1) को पवेलियन भेज दिया. मेजबान टीम के सबसे अहम बल्लेबाज अब्राहम डिविलियर्स छह के निजी स्कोर पर पांड्या की गेंद पर विकेट के पीछे धौनी के हाथों लपके गए. उनका विकेट 65 के कुल स्कोर पर गिरा.

यहां से अमला और पिछले मैच के हीरो रहे डेविड मिलर (36) ने टीम को संभालने की कोशिश की और चौथे विकेट के लिए 62 रन जोड़े, लेकिन युजवेंद्र चहल की फिरकी ने मिलर के विकेट उखाड़ भारत को जरूरी सफलता दिलाई. अमला की संघर्षपूर्ण पारी का अंत पांड्या ने सीधी थ्रो के साथ किया. अमला ने 92 गेंदों की पारी में पांच चौके लगाए. अमला का विकेट 166 के कुल स्कोर पर गिरा. उनके स्थान पर आए आंदिले फेहुलकवायो को कुलदीप ने बोल्ड कर मेजबान टीम को छठा झटका दिया.

पिछले मैच में मिलर के साथ मिलकर दक्षिण अफ्रीका को जीत दिलाने वाले हेइनरिक हालांकि एक छोर से रन बना रहे थे. इसी बीच कुलदीप ने कागिसो राबादा (3) को आउट कर मेजबान टीम को सातवां झटका दिया. कुलदीप ने क्लासेन को धौनी के हाथों स्टम्पिंग करा उनकी 42 गेंदों में दो छक्के और दो चौकों की मदद से बनाए गए 39 रनों की पारी का अंत किया.

यहां से मेजबानों की हार तय हो गई थी. तबरेज शम्सी को कुलदीप ने खाता भी नहीं खोलने दिया और दक्षिण अफ्रीका को नौवां झटका दिया. युजवेंद्र चहल ने मोर्न मोर्कल (1) को पगबाधा आउट कर अपनी टीम की ऐतिहासिक जीत पर मुहर लगाई. अंत में विरोधी टीम 42.2 ओवर में 201 रन पर ही सिमट गई. इस जीत के साथ भारत ने साउथ अफ्रीका से नंबर वन की कुर्सी भी छीन ली है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: INDvSA: दक्षिण अफ्रीका में ऐतिहासिक सीरीज़ जीत के साथ नंबर वन बना भारत
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story SA vs IND T20: रैना ने बहाया पसीना,कुलदीप के खेलने पर संशय के बादल