INDvsSA: भारतीय गेंदबाजों ने दिखाया दम, साउथ अफ्रीका को 22 रन से हराया

By: | Last Updated: Wednesday, 14 October 2015 7:41 AM
India under pressure to mount comeback

नई दिल्लीः  कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर भारत ने बुधवार को होल्कर क्रिकेट स्टेडियम में हुए दूसरे वनडे मैच में दक्षिण अफ्रीका को 22 रन से हरा दिया.  टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम धोनी (नाबाद 92) और अजिंक्य रहाणे (51) की पारियों के बावजूद दक्षिण अफ्रीका के सामने मात्र 248 रनों का लक्ष्य रख सकी थी, लेकिन गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए दक्षिण अफ्रीकी टीम को 43.4 ओवरों में 225 रनों पर समेट दिया.

स्पिन गेंदबाज अक्षर पटेल ने हाशिम अमला (17), फॉफ डू प्लेसिस (51) और ज्यां पॉल ड्यूमिनी के बेहद अहम तीन विकेट चटकाए. अनुभवी स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह ने क्विंटन डी कॉक (34) और फरहान बेहरादीन (18) की पवेलियन की राह दिखाई, जबकि सबसे खतरनाक माने जाने वाले अब्राहम डिविलियर्स (19) की विकेट मोहित शर्मा ने लिया.

 

भुवनेश्वर ने भी आखिरी ओवरों में बेहद कसी हुई गेंदबाजी की और तीन विकेट अपने नाम किए.

 

इस जीत के साथ भारत ने पांच मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली. कानपुर में हुआ पहला एकदिवसीय भारत पांच रनों से हार गया था.

 

 

साउथ अफ्रीका का जवाब –

INDvsSA: दूसरे वनडे में भारत ने साउथ अफ्रीका को 22 रन से हराया. साउथ अफ्रीका की पूरी टीम 225 रन पर आउट हो गई.

 

ओवर 43.4 – भुवनेश्वर कुमार ने मोर्कल को स्लिप में कैच कराते ही भारत की झोली में पहली जीत दिला दी. 

 

ओवर 43.2 – रोमांचक होते जा रहे मुकाबले में भुवनेश्वर कुमार ने इमरान ताहिर को आउट कर भारत को नौवीं सफलता दिलाई. स्कोर – 221 पर 9

 

ओवर 39.2 – अपने अंतिम ओवर में हरभजन ने टीम को 8वीं सफलता दिलाई. बेहाराद्दिन को आउट कर भारत जीत के और करीब पहुंचा.  स्कोर 200 पर 8

 

ओवर 36.1 – उमेश य़ादव ने अपने पांचवें ओवर की पहली गेंद पर स्टेन को आउट कर टीम इंडिया को जीत की ओर बढ़ा दिया. स्कोर 186 पर 7

 

ओवर 32.1 –  अपना तीसरा ओवर लेकर आए मोहित शर्मा ने पहली ही गेंद पर खतरनाक डिविलियर्स को कोहली के हाथों कैच करवा कर टीम इंडिया को सबसे बड़ी सफलता दिलाई. 19 रन ही बना सके डिविलियर्स . स्कोर – 167 पर 6

 

ओवर 26.2 – भुवनेश्वर कुमार ने डेविड मिलर (0) को विकेट के पीछे कैच करवाया. भारत को मिली पांचवी सफलता.

 

ओवर 26 – अपने आठवें ओवर की अंतिम गेंद पर अक्षर पटेल ने अर्द्धशतकीय पारी खेलने वाले डू प्लेसी(51) को आउट कर टीम को चौथी सफलता दिलाई. अक्षर का ये तीसरा विकेट. स्कोर 141 पर 4

 

डू प्लेसी के 50 रन पूरे.

 

ओवर 23.5 – अक्षर पटेल ने टीम इंडिया को तीसरी सफलता दिलाई. डुमिनी 36 रन बनाकर आउट. स्कोर – 134 पर 3

 

ओवर 20 – दो झटके लगने के बाद डुमिनी और डू प्लेसी ने पारी को 100 रन के पार पहुंचाया.

 

ओवर 9.3 – लय में दिख रहे डि काक (34)को हरभजन ने पवेलियन भेजा. स्पिनर ने दिलाई भारत को दूसरी सफलता. स्कोर 52 पर 2

 

ओवर 6.3 – अमित मिश्रा की जगह टीम में आए अक्षर पटेल ने तीसरी ही गेंद पर अमला को आउट कर भारत को पहली सफलता दिलाई. स्कोर 40 पर 1

 

ओवर 6 – हरभजन सिंह गेंदबाजी पर बुलाए गए. लेकिन टीम इंडिया को कोई फायदा अभी तक नहीं हुआ है. दोनों बल्लेबाजों ने अपना रूख साफ कर दिया है. स्कोर 36 पर 0

 

डीकाक और अमला की जेड़ी ने पहले दो अवर में 11 रन बनाए.

 

भारत की पारी –

दूसरे ही ओवर में कैगिसो रबाडा की गेंद पर रोहित शर्मा (3) के क्लीन बोल्ड होने के बाद रहाणे ने शिखर धवन (23) के साथ 56 रन जोड़ पारी संभालने की पूरी कोशिश की.

 

लेकिन इसके बाद भारतीय पारी ऐसी लड़खड़ाई की 124 रनों पर उसके छह बल्लेबाज पवेलियन लौट चुके थे.

 

धवन को मोर्ने मोर्केल ने 59 के कुल योग पर ज्यां पॉल ड्यूमिनी के हाथों कैच कराया, जबकि विराट कोहली (12) दुर्भाग्यशाली रहे और रहाणे के साथ तालमेल की कमी की वजह से रन आउट हो पवेलियन लौटे.

 

100 रन के भीतर शीर्ष तीन बल्लेबाज गंवा चुकी भारतीय टीम की पारी आगे बढ़ाने कप्तान धोनी उतरे. धोनी और रहाणे से भारतीय दर्शकों को काफी उम्मीदें थीं. दोनों के बीच 20 रनों की साझेदारी भी हुई, लेकिन लगातार दूसरा अर्धशतक लगाने के बाद रहाणे इमरान ताहिर की बेहतरीन स्पिन गेंद पर बोल्ड हो गए.

 

लेग विकेट से बाहर पटकी हुई गेंद पर रहाणे ने स्वीप का प्रयास किया, लेकिन गेंद फिरकी लेती हुई लेग स्टंप से जा टकराई. रहाणे ने 63 गेंदों में छह चौके लगाए.

 

रहाणे के जाने के बाद भारतीय पारी मुश्किल में नजर आने लगी थी, लेकिन सुरेश रैना के शून्य पर लौटने के साथ सम्मानजनक स्कोर भी दूर नजर आने लगा था.

 

लेकिन धोनी ने जिजीविषा दिखाते हुए बेहद धैर्य के साथ क्रीज पर अपने पैर जमाए रखे. धोनी ने भुवनेश्वर कुमार (14) और हरभजन सिंह (22) के साथ क्रमश: 41 और 56 रनों की साझेदारी कर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया.

 

19वें ओवर में मैदान में उतरे धोनी अंत तक नाबाद रहे. उन्होंने 86 गेंदों की अपनी बेहतरीन जुझारू पारी में सात चौके और चार छक्के लगाए. धौनी की बदौलत भारतीय टीम ने आखिरी के 10 ओवरों में 82 रन जोड़े.

 

दक्षिण अफ्रीका के लिए डेल स्टेन ने सर्वाधिक तीन, जबकि मोर्ने मोर्केल और इमरान ताहिर ने दो-दो विकेट चटकाए. पिछले मैच के हीरो रहे रबाडा एकमात्र विकेट हासिल कर सके. ज्यां पॉल ड्यूमिनी पांच से अधिक की इकॉनमी से रन लुटाने वाले एकमात्र गेंदबाज रहे.

TOSS: भारत ने टॉस जीता, पहले बल्लेबाज़ी

————————————————————-

भारत-दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली जा रही फ्रीडम सीरीज़ के दूसरे वनडे में कप्तान एम एस धोनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फैसला किया. चोटिल अश्विन की जगह हरभजन सिंह, बिन्नी की जगह अक्षर पटेल और अमित मिश्रा की जगह मोहित शर्मा को टीम में जगह दी गई है. 

 

अश्विन चोट के कारण जबकि बिन्नी को खराब प्रदर्शन के कारण टीम से बाहर बैठाया गया है. वहीं धोनी ने एक चौंकाने वाला फैसला लिया पिछले मैच में सर्वाधिक विकेट और बेहतरीन इकॉनोमी से गेंदबाज़ी करने वाले गेंदबाज़ अमित मिश्रा को टीम से बाहर रखकर.

 

फ्रीडम वनडे सीरीज़ के पहले मुकाबले में भारतीय टीम 304 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 5 रन से वो मुकाबला हार गई थी. भारत की तरफ से रोहित शर्मा ने बड़ा शतक और अजिंक्ये रहाणे ने बेहतरीन अर्धशतक लगाया था.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: India under pressure to mount comeback
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017