मैनचेस्टर टेस्टः भारत के जज्बे और जुझारूपन पर लगा सवालिया निशान

By: | Last Updated: Monday, 11 August 2014 2:25 AM

मैनचेस्टर: भारत की मैनचेस्टर में चौथा टेस्ट मैच तीन दिन के अंदर पारी और 54 रन से गंवाने से पांच मैचों की श्रृंखला अब इंग्लैंड के पक्ष में चली गयी लेकिन लार्डस में ऐतिहासिक जीत के बाद भारतीय टीम ने जिस तरह से आत्मसमर्पण किया उससे सभी हैरान हैं. इंग्लैंड एक समय श्रृंखला में 0-1 से पीछे चल रहा था लेकिन अब वह 2-1 से आगे है.

 

इंग्लैंड ने साउथम्पटन में तीसरा टेस्ट मैच 266 रन से जीता था. भारत ने ओल्ड ट्रैफर्ड में किसी तरह का जज्बा और जुझारूपन नहीं दिखाया और उसकी टीम दोनों पारियों में ताश के पत्तों की तरह बिखर गयी. भारत के आउट होने के तीन घंटे बाद मैनचेस्टर में बारिश आ गयी और अगले 16 घंटे तक नहीं थमी जिससे रविवार का खेल रद्द होना तय था. सोमवार को भी बारिश की संभावना थी जिससे भारत यह मैच ड्रॉ करा सकता था लेकिन अब इंग्लैंड 2-1 से आगे है और 15 अगस्त से ओवल में होने वाला आखिरी मैच भारत के लिये करो या मरो वाला होगा.

 

भारत के दूसरी पारी में 161 रन पर आउट होने के बाद इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वान ने बीबीसी टेस्ट मैच स्पेशल (टीएमएस) कार्यक्रम में कहा, ‘‘अगले दो दिन की भविष्यवाणी को देखते हुए भारत के प्रदर्शन को बेहद लचर कहा जा सकता है. यह बल्लेबाजी के लिये बहुत अच्छा दिन था और इग्लैंड के पास स्टुअर्ट ब्रॉड नहीं था. उनके पास केवल चार गेंदबाज थे. गेंद को हवा से भी मूवमेंट नहीं मिल रहा था. स्पिन के संकेत मिल रहे थे लेकिन बहुत ज्यादा नहीं. ’’ भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी हालांकि भूत और भविष्य में विश्वास नहीं करते और इसलिए भविष्यवाणी उनके लिये मायने नहीं रखती. यह केवल 61 ओवर का सवाल था लेकिन भारतीय टीम पहली पारी में केवल 46.4 ओवर तक ही बल्लेबाजी कर पायी और दूसरी पारी में 43 ओवर में ढेर हो गयी.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: india vs england 4th test
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017