भारत दौरा मेरी कप्तानी का सबसे कठिन दौर: क्लार्क

By: | Last Updated: Friday, 25 July 2014 8:07 AM

मेलबर्न: आस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क को पिछले साल के भारत दौरे पर ‘होमवर्क गेट’ प्रकरण का खेद नहीं है लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि वह दौरा उनकी कप्तानी का सबसे कठिन दौर था.

 

आस्ट्रेलिया को न सिर्फ महेंद्र सिंह धोनी की टीम ने 0 . 4 से हराया बल्कि उसके चार खिलाड़ियों को कोच मिकी आर्थर का दिया ‘होमवर्क’ नहीं करने पर टेस्ट टीम से बाहर भी होना पड़ा.

 

क्लार्क ने ‘सिडनी मार्निंग हेराल्ड’ से कहा ,‘‘ अभी तक भारत दौरा मेरी कप्तानी का सबसे कठिन दौर रहा है.’’

 

उन्होंने कहा ,‘‘ होमवर्क गेट से भी पहले कई चीजें लंबे समय से हो रही थी. बात सिर्फ उसी प्रकरण की नहीं थी. मिकी ने रेत में एक लकीर खींची और मैं भी उसका हिस्सा था लेकिन मुझे उसका कोई अफसोस नहीं है. मैने अपने कोच का साथ दिया और उसके फैसले पर भरोसा किया. अब पीछे मुड़कर देखने पर मुझे लगता है कि वह आस्ट्रेलियाई क्रिकेट के लिये सर्वश्रेष्ठ फैसला था.’’

 

आर्थर को बाद में कोच के पद से हटा दिया गया और हार के बाद क्लार्क को भी आलोचकों का कोपभाजन बनना पड़ा. लेकिन उसने कहा कि वह टीम की छवि को लेकर अधिक चिंतित था.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: India_Australia_2013_Homework Gate_Michael Clarke_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Cricket
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017