मौके का पूरा फायदा उठाएंगेः रितु रानी

By: | Last Updated: Sunday, 30 August 2015 8:21 AM
indian women hockey team

फाइल फोटो

नई दिल्ली: भारतीय महिला हॉकी टीम की सदस्यों ने आज कहा कि वे आलंपिक क्वालीफिकेशन का पूरा फायदा उठाने की कोशिश करेंगी क्योंकि यह कई खिलाड़ियों के लिए इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में खेलने का अंतिम मौका होगा.

 

भारतीय महिला टीम 36 साल बाद ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने में सफल रही है. पिछली बार टीम 1980 मास्को ओलंपिक में खेली थी और चौथे स्थान पर रही थी.

 

भारतीय कप्तान रितु रानी ने कहा, ‘‘यह सपना साकार होने की तरह है. मुझे अब भी विश्वास नहीं हो रहा है कि हम ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं. जब हमें पता चला कि हम क्वालीफाई कर चुके हैं तो हमारी खुशी का ठिकाना नहीं था. यह प्रत्येक खिलाड़ी के जीवन का खास लम्हा है और हम सुनिश्चित करंगे कि पोडियम पर जगह बनाकर इसे यादगार बनाएं.’’

 

एंटवर्प में जापान के खिलाफ अहम गोल दागकर भारत की उम्मीदें जीवंत रखने वाली स्टार स्ट्राइक रानी रामपाल ने कहा, ‘‘यह अविश्वसनीय है. हमें आलंपिक में जगह बनाने का यकीन था लेकिन अब जब ऐसा हो गया है तो इस पर विश्वास करना मुश्किल हो रहा है. पिछले कई वर्षों से कम इस लम्हें के लिए खेल रहे थे और अभ्यास कर रहे थे. टीम में कई खिलाड़ियों को पता था कि अपना सपना साकार करने और ओलंपिक में खेलने का यह अंतिम मौका होगा.’’

 

टीम की गोलकीपर सविता ने कहा, ‘‘एफआईएच हॉकी विश्व लीग के दौरान जापान के खिलाफ मुकाबला मुझे अब भी याद है. हमें पता था कि जीत हमें दौड़ में बनाए रखेगी और इसलिए मुझे सुनिश्चित करना था कि जापान गोल नहीं कर पाए. हमने जल्दी गोल कर दिया था जिसके बाद काम इस बढ़त का बचाव करना था.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारे में से प्रत्येक ने इस गोल का बचाव करने और उन्हें गोल नहीं करने देने की जिम्मेदारी उठाई. मुझे लगता है कि उस दिन सभी का प्रयास था जिससे हम आज का खूबसूरत दिन देख पाए. हम इस क्वालीफिकेशन का पूरा फायदा उठाएंगे और देश को गौरवांवित करेंगे. ’’

 

उप कपतान दीपिका ने कहा, ‘‘इस साल हमने ठान लिया था कि इस मौके को नहीं गंवाएंगे. जापान के खिलाफ मुकाबला आसान नहीं था लेकिन यह इसलिए संभव हो पाया क्योंकि हम एक इकाई के रूप में डटे रहे. अगले साल हम सुनिश्चित करेंगे कि हम पोडियम पर जगह बनाएं.’’ क्वालीफिकेशन पर मुख्य कोच माथियास अहरेंस ने कहा, ‘‘एंटवर्प में मैं प्रत्येक मैच में खिलाड़ियों को याद दिलाता रहा कि यह रियो के लिए उनका मौका है. उन्हें अपना सपना साकार करने के लिए प्रदर्शन करना होगा. अब मेरा काम यह देखना है कि वे अपने प्रदर्शन से देश को गौरवांवित करें.’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: indian women hockey team
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017