IPL 7: पंजाब को हराकर फाइनल में पहुंची केकेआर

IPL 7: पंजाब को हराकर फाइनल में पहुंची केकेआर

By: | Updated: 01 Jan 1970 12:00 AM

कोलकाता: उमेश यादव और मोर्ने मोर्कल की शानदार गेंदबाजी की दम पर कोलकाता नाइटराइडर्स आईपीएल सात के फाइनल में पहुंच गई. वहीं अंकतालिका में टॉप पर रही किंग्स इलेवन पंजाब का फाइनल तक पहुंचने के लिए एक और मुकाबला खेलना होगा.

 

आज खेले गए क्वालीफाइर में कोलकाता ने अपने घरेलू दर्शक के बीच पंजाब को 28 रन से हरा दिया. केकेआर ने टॉस गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए आठ विकेट पर 163 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया. रोबिन उथप्पा ने उसकी तरफ से सर्वाधिक 42 रन बनाये. इसके जवाब में किंग्स इलेवन की टीम आठ विकेट पर 135 रन ही बना पायी. उसकी इस स्थिति के लिये उमेश जिम्मेदार रहे जिन्होंने चार ओवर में 13 रन देकर तीन विकेट लिये. मोर्ने मोर्कल ने 23 रन के एवज में दो विकेट लेकर उनका पूरा साथ दिया.

 

किंग्स इलेवन की तरफ से रिद्धिमान साहा (35) ही सम्मानजनक स्कोर बना पाये. गौतम गंभीर की अगुवाई वाली केकेआर ने इस तरह से दूसरी बार आईपीएल के फाइनल में प्रवेश किया. इससे पहले वह 2012 में चैंपियन बना था. आपको बता दें कि बारिश के कारण पहला क्वालीफायर मंगलवार को नहीं खेला गया था. आज भी बारिश ने बीच में खलल डाला लेकिन इससे बहुत देर तक खेल नहीं रूका. मैच में गेंदबाजों का प्रभाव देखने को मिला. पंजाब की तरफ से बायें हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल ने चार ओवर में 11 रन देकर दो विकेट लिये. लेग स्पिनर करणवीर सिंह ने 40 रन देकर तीन और तेज गेंदबाज मिशेल जानसन ने 31 रन देकर दो विकेट हासिल किये.

 

केकेआर ने अपनी टीम में तीन स्पिनर रखे थे लेकिन उसके दोनों तेज गेंदबाजों मोर्कल और उमेश ने आखिर में जीत में अहम भूमिका निभायी. लेग स्पिनर पीयूष चावला ने चार ओवर में 23 रन देकर एक विकेट लिया. लेकिन इसके बाद नियमित अंतराल में विकेट गिरने लगे. मोर्कल ने वोहरा को मिडऑन पर कैच कराया जिन्होंने 19 गेंद पर 26 रन की पारी खेली. उमेश ने ग्लेन मैक्सवेल को पगबाधा आउट करके केकेआर को बड़ी सफलता दिलायी. पंजाब की तरफ से शुरूआती मैचों के नायक रहे इस ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ने नौ गेंदों पर पांच रन बनाये. साहा ने इस बीच रन बनाने की जिम्मेदारी उठायी लेकिन मोर्कल ने अपने दूसरे स्पैल में आकर उनकी पारी का भी अंत कर दिया. उन्होंने अपनी 31 गेंद की पारी में दो चौके और इतने ही छक्के लगाये.

 

डेविड मिलर ने क्रीज पर पर्याप्त समय बिताया लेकिन 12 गेंद पर आठ रन ही बना पाये. चावला ने उन्हें बोल्ड करके ईडन गार्डन्स में मौजूद केकेआर के समर्थकों में जोश भर दिया. अक्षर पटेल (2) के रन आउट होने से पंजाब की स्थिति और नाजुक बन गयी. कप्तान जार्ज बैली (26) ने रिषि धवन (14) के साथ सातवें विकेट के लिये 30 रन की साझेदारी की. शाकिब ने अपने जिस ओवर में धवन को आउट किया, उसमें 21 रन बने जिसमें धवन, बैली और नये बल्लेबाज मिशेल जानसन (नाबाद 10) के छक्के शामिल थे. नारायण ने हालांकि अगले ओवर में केवल चार रन दिये जिससे केकेआर की जीत सुनिश्चित हो गयी.



इससे पहले गंभीर ने केकेआर की पारी के दूसरे ओवर में ही जानसन की शार्ट पिच गेंद को पुल किया लेकिन बैली ने मिड आन पर उछलकर उसे कैच में तब्दील कर दिया. उथप्पा ने लांग ऑफ पर मिलर को कैच थमाया जो उनके तीन कैच में से पहला कैच था. पांडे इसी ओवर में बोल्ड हुए. उथप्पा ने अपनी 30 गेंद की पारी में चार चौके और दो छक्के लगाये.

 

अब सभी की निगाह यूसुफ पठान पर थी जिन्होंने रिषि धवन पर छक्का लगाया लेकिन करणवीर ने 15वें ओवर की दूसरी गेंद पर शाकिब अल हसन (18) और अगली गेंद पर पठान (20) को आउट करके केकेआर के खेमे में फिर से सनसनी फैला दी. शाकिब ने पहली गेंद पर चौका जड़ा. दूसरी गेंद पर भी लंबा शॉट खेलने के प्रयास में उन्होंने मिलर को कैच दे दिया. पठान ने तो मिलर को कैच का अभ्यास कराया. केकेआर का स्कोर जब 16.4 ओवर में पांच विकेट पर 113 रन था तब बारिश ने 20 मिनट तक खलल डाला. इसके बाद खेल शुरू होने पर सूर्यकुमार यादव (20) ने धवन पर छक्का और चौका जड़कर शुरूआत की जबकि रेयान टेन डोएसे (17) ने करणवीर पर लगातार दो छक्के जड़े. पीयूष चावला (नाबाद 17) ने अवाना के आखिरी ओवर में तीन चौकों की मदद से 15 रन बटोरे.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story BLOG: विराट कोहली के लिए क्या है टी-20 सीरीज में जीत का फॉर्मूला