IPL स्पॉट फिक्सिंग: खिलाड़ी बरी तो हो गए लेकिन दूर है मैदान !

By: | Last Updated: Saturday, 25 July 2015 12:45 PM
ipl spot fixing

नई दिल्लीः क्रिकेट जगत के लिए आज का दिन राहत की खबर ले कर आया. दिल्ली की पटियाल कोर्ट ने सबूतों के अभाव में आईपीएल 6 के दौरान स्पॉट फिक्सिंग मामले में एस श्रीसंत, अजीत चंदीला और अंकित चव्हाण को बरी कर दिया. साल 2013 में आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग का मामला सामने आया था, जिसमें क्रिकेटर एस. श्रीसंत, अजीत चंदीला और अंकित चव्हाण के अलावा दाऊद इब्राहिम और छोटा शकील को भी आरोपी बनाया गया था.

 

इन सभी आरोपियों पर भारतीय दंड संहिता और महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण अधिनियम (मकोका) की विभिन्न धाराओं के तहत धोखाधड़ी और साजिश रचने का आरोप लगाया गया था. अदालत का यह फैसला दिल्ली पुलिस के लिए एक झटका है, जिसने पूरे मामले की जांच की थी. पुलिस ने अदालत के सामने 6000 पन्ने का चार्जशीट दाखिल किया था, जिसमें 42 लोगों को आरोपी बनाया गया था. लेकिन धीरे धीरे जब दिल्ली पुलिस ने इस मामले को कोर्ट पहुंचाया तो कोर्ट ने कई बार उनसे सबूत की मांग की थी जिसे देने में वो कामयाब नहीं हो पाए.

 

क्या था मामला –

आईपीएल-6 में राजस्थान रॉयल्स के श्रीसंथ और बाकी खिलाड़ियों पर स्पॉट फिक्सिंग के आरोप लगे थे. दिल्ली पुलिस आयुक्त नीरज कुमार ने कहा था कि 9 मई, 2013 को हुए पंजाब और राजस्थान के बीच मैच में राजस्थान के खिलाड़ी श्रीसंथ पर पूर्व नियोजित तरीके से एक ओवर में 14 रन दिए थे.

 

उन्होंने खुलासा किया था कि कैसे सट्टेबाजों ने पकड़े गए खिलाड़ियों को विशेष ‘कोड’ दिए जिनका उन्होंने मैचों के दौरान चुने हुए ओवरों में इस्तेमाल किया था. कुमार ने कहा, ‘कुछ ओवरों में उन्हें (खिलाड़ियों) कुछ निश्चित रन ही देने थे. सट्टेबाजों ने खिलाड़ियों को निर्देश दिए कि उन्हें संकेत देना होगा कि वे इतने रन देंगे.’

 

सट्टेबाजों के निर्देशों पर अपनी सहमति दिखाने के लिए खिलाड़ियों ने कुछ कोड भी इस्तेमाल किए थे.

 

‘निर्देश थे कि ‘अपनी पैंट में तौलिया डालो या फील्ड सजाने में समय लो या पहनी हुई शर्ट या बनियान बाहर निकालो’. कुमार ने राजस्थान रॉयल्स के तीन मुकाबलों 5, 9 और 15 मई को क्रमश: पुणे वारियर्स, किंग्स इलेवन पंजाब और मुंबई इंडियंस के खिलाफ हुए मैचों के सबूत दिए, जिसमें स्पॉट फिक्सिंग की गई थी.

 

चंदीला का 14 रन –

 

फिक्सिंग में पहला मामला जिस पर शक हुआ, वह 5 मई को राजस्थान रॉयल्स बनाम पुणे वारियर्स मैच के दौरान का था. इस मैच में जैसे कि सहमति बनी थी, चंदीला ने अपने स्पैल के दूसरे ओवर में 14 रन दिए लेकिन वह पूर्व निर्धारित संकेत देना भूल गया, जिसके कारण सट्टेबाज इस मैच में सट्टा नहीं लगा सके.’

 

जिसके कारण बहस हो गई और पैसा वापस करने की मांग की गई.

 

श्रीसंथ का ‘तौलिया’

पुलिस ने जिस अगले मैच की बात की, वह 9 मई को मोहाली में हुआ था. इस मैच में श्रीसंथ को दूसरा ओवर फेंकने से पहले अपनी पैंट में तौलिया रखना था और सट्टेबाजों को भारी सट्टा लगाने के लिए काफी समय देना था.’

 

श्रीसंथ ने पहला ओवर बिना तौलिए के फेंका लेकिन दूसरे ओवर में उसने अपनी पैंट में तौलिया रखा और सट्टेबाजों को समय दिया, उसने कुछ वार्म-अप और स्ट्रेचिंग अभ्यास किया.

 

उन्होंने कहा, ‘उसने अपने इस फिक्स ओवर में 14 के बजाय 13 रन दिए.’

 

 

अंकित चव्हाण ने 13 से ज्यादा रन दिए

इसके बाद इस मामले में अंकित चव्हाण का नाम आया मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेले गए मैच में अजीत चंदीला तो नहीं खेले लेकिन वह 60 लाख रुपए लेने और सट्टेबाजों के निर्देशों के अनुसार काम करने के लिए सट्टेबाजों और अंकित चव्हाण के बीच मध्यस्थ का काम कर रहे थे. इसके लिए उसे (चव्हाण को) 13 या इससे ज्यादा रन देने थे

 

पहले ओवर में उन्होंने दो रन दिए और दूसरे ओवर की पहली तीन गेंद में ही उसने 14 रन दे दिये, जिसके बाद उसने अपनी गेंदबाजी को नियंत्रित किया और बची हुई तीन गेंदों में केवल एक ही रन दिया.’ इस ओवर से पहले उन्होंने संकेत देने के लिए कलाई का अपना बैंड घुमाया था.

 

 

उसी साल 16 मई को उन्हें स्पॉट फिक्सिंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया. एक महीने बाद वह जमानत पर छूट गए थे, लेकिन बीसीसीआई ने उनपर लाइफटाइम बैन लगा दिया था. क्रिकेट से बैन कर दिए जाने के बाद श्रीसंथ ने बॉलीवुड और टीवी इंडस्‍ट्री की ओर रुख किया था. 

 

 

 

अब क्या हो सकता है आगे –

1. श्रीसंत, चंदीला, चव्हाण अपने बैन के खिलाफ बीसीसीआई में अपील कर सकेंगे.

2. दिल्ली पुलिस अपर कोर्ट में इस फैसले के खिलाफ अपील कर सकती है.

3. दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में अर्जी देकर कहा है कि वह लोढ़ा कमिटी के फैसले के मद्देनजर दोबारा इस केस की जांच करना चाहती है. पुलिस को इजाजत मिली तो केस दोबारा खुलेगा.

 

 

अब देखना होगा कि इस फैसले के बाद बीसीसीआई क्या निर्णय लेती है.

 

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ipl spot fixing
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017