खुशकिस्मत हूं कि वापसी में सब कुछ अनुकूल रहा: जडेजा

By: | Last Updated: Saturday, 5 December 2015 1:35 PM

नई दिल्ली: टीम इंडिया में वापसी के साथ 21 विकेट लेने वाले रविंद्र जडेजा ने स्वीकार किया कि वह खुशकिस्मत रहे कि उनकी वापसी के साथ सब कुछ अनुकूल रहा जिससे वह साउथ अफ्रीका के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में प्रभावी प्रदर्शन कर सके.

 

रणजी ट्रॉफी में उन्होंने 34 विकेट लिये जिसके बाद टेस्ट टीम में उनकी वापसी हुई.

 

चौथे टेस्ट में साउथ अफ्रीका की पहली पारी में 30 रन देकर पांच विकेट लेने वाले जडेजा ने कहा ,‘‘आप कह सकते हैं. जब मैं टीम से बाहर हुआ था तब छह महीने बाहर रहा. रणजी ट्रॉफी के दौरान मुझे तीन मैच खेलने को मिले और किस्मत ने साथ दिया कि विकेट टर्न ले रही थी.’’ उन्होंने कहा ,‘‘इसमें कोई शक नहीं कि मैने काफी मेहनत की थी. रणजी ट्रॉफी सत्र उस समय शुरू हुआ जब साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज होनी थी लिहाजा मेरे लिये सब अनुकूल रहा .’’

कप्तान कोहली के गुस्से ने बचाया उनका विकेट

 

‘बर्थडे ब्वॉय’ धवन ने मैदान पर खोया आपा, राहुल बने शिकार

 

नाकामी ने नहीं छोड़ा रोहित का साथ, कब तक रहेंगे टीम में ? 

 

जडेजा ने खुशी जताई कि फिरोजशाह कोटला की पिच को कोई टर्नर नहीं कहेगा. उन्होंने कहा ,‘‘यह अच्छी बात है कि सभी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. अब इस पिच को टर्नर नहीं कह सकते. हम दो स्पिनरों के साथ खेल रहे हैं और उनके पास भी दो स्पिनर हैं. मुझे नहीं लगता कि इस विकेट में कुछ खास है.’’

 

24 घंटे में 3 बार आउट होकर अकमल ने बनाया अनोखा रिकॉर्ड

 

जडेजा ने कहा ,‘‘हमने पहली पारी में अच्छी बल्लेबाजी की जो वे नहीं कर सके. इसी वजह से हमें 213 रन की बढत मिली. आगे विकेट बदतर होती जायेगी और हम अच्छी स्थिति में रहेंगे. हमें दूसरी पारी में उन्हें आउट करना होगा. मुझे लगता है कि यह नागपुर से कहीं बेहतर विकेट है.’’

 

BCCI के इंकार के बाद दिल्ली सरकार ने वर्ल्डकप विनर्स का सम्मान समारोह किया रद्द

 

उन्होंने खुशी जताई कि सभी स्पिनर एक दूसरे के पूरक साबित हो रहे हैं. उन्होंने कहा ,‘‘मैने कुछ खास नहीं किया. मैने उसी तरह गेंदबाजी की, जैसी रणजी ट्रॉफी में करता हूं. अश्विन, मैं और मिशी भाई (अमित मिश्रा) एक दूसरे की मदद करते आये हैं. मुझे हर मैच में खुद को साबित करना है.’’

 

IND Vs SA: रहाणे-कोहली की शतकीय साझेदारी के साथ भारत को 403 रनों की बढ़त

 

जडेजा ने कहा कि टीम से बाहर होने पर कुछ देर के लिये उनके भीतर नकारात्मकता आई थी. उन्होंने कहा ,‘‘मेरे भीतर काफी नकारात्मकता भर गई थी और मुझे महसूस हुआ कि इससे निकलना होगा. अब अपने प्रदर्शन के बाद मुझे आगामी मैचों में भी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है. मैंने मोहाली में आपसे कहा था कि तीन महीने तक मैने क्रिकेट के बारे में सोचा भी नहीं था. मैने निजी जिंदगी पर फोकस किया और किसी से क्रिकेट पर बात भी नहीं की. तीन महीने पूरा ब्रेक लिया.’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: jadeja on his return
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017