जडेजा-एंडरसन विवाद में जो मुझे बेहतर लगा, वही किया: धोनी

By: | Last Updated: Thursday, 7 August 2014 3:17 AM

नई दिल्ली: भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आज फिर से जेम्स एंडरसन- रविंद्र जडेजा मामले में बात की और कहा कि इस पूरे मामले के दौरान उन्होंने जो कुछ कहा वह उस पर कायम हैं और उन्होंने ऐसी चीज आगे रखी जो कि अस्वीकार्य है.

 

इंग्लैंड के खिलाफ कल से शुरू होने वाले चौथे टेस्ट मैच से पहले फिर से इसी घटना को लेकर बातें हो रही है जिससे पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला प्रभावित रही है. आईसीसी न्यायिक आयुक्त ने पिछले शुक्रवार को एंडरसन और जडेजा दोनों को निर्दोष बताया तथा विश्व क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था ने बीसीसीआई के आग्रह के बावजूद इस फैसले के खिलाफ अपील नहीं करने का फैसला किया है.

 

धोनी ने जडेजा का समर्थन करने के संदर्भ में कहा, ‘‘जो सच था मैंने उसका साथ दिया. क्या सही है और क्या गलत. मैंने सही का पक्ष लिया. ’’उन्होंने कहा, ‘‘यदि कुछ गलत हो रहा हो तो मैं इसकी परवाह किये बिना कि इसे कौन कर रहा है, मैं उसके खिलाफ जाउं्रगा. यदि मेरे किसी खिलाड़ी पर सीमाओं में रहने के बावजूद जुर्माना लगाया जाता है तो मैं निश्चित तौर पर उसका बचाव करूंगा. लेकिन यदि वह सीमा रेखा का उल्लंघन करता है तो मैं उसका साथ नहीं दूंगा और उसे अकेले ही परिणाम भुगतने होंगे. ’’

 

धोनी से पूछा गया कि क्या आईसीसी का फैसला उनका व्यक्तिगत अपमान है क्योंकि इस मामले में उनका रवैया बेबाक था, उन्होंने कहा, ‘‘वह शारीरिक स्पर्श था जिसकी हमने रिपोर्ट की थी. हमने छींटाकशी के बारे में कुछ भी नहीं कहा था. कई बार कुछ कड़े शब्दों का उपयोग किया जाता है लेकिन हमने कभी रिपोर्ट नहीं की.

 

फैसले के बारे में भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘हमारे समाज में हम कुछ को साक्ष्य और कुछ को साक्ष्यों के अभाव में कहते हैं. इसलिए फैसला भी इसी आधार पर किया गया और अब आगे बढ़ने का समय है. सबसे दिलचस्प बात यह रही कि जडेजा पर जुर्माना लगाया गया जबकि मैंने पहले भी कहा था कि उसने एक प्रतिशत भी गलती नहीं की थी. इसलिए यह हमारे लिये अच्छा है कि मौजूदा साक्ष्यों के आधार पर उसके खिलाफ लगाये गये आरोप खारिज कर दिये गये. ’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन यह वास्तव में दिलचस्प है कि आखिर डेविन बून ने क्या देखा या पाया जिसके आधार पर उन्होंने जडेजा पर मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना लगाया था. ’’ धोनी ने इसके साथ ही कहा कि यह एंडरसन के खिलाफ निजी एजेंडा नहीं था और केवल ‘खेल भावना’ बनाये रखने के लिये ऐसा किया गया. उन्होंने कहा, ‘‘एंडरसन बेहतरीन गेंदबाज है. वह बल्लेबाजों के लिये रणनीति बनाता है और आक्रामक गेंदबाज है. दर्शक ऐसे गेंदबाज को देखना चाहते हैं लेकिन मैं इस पर टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं कि उसे बदलने की जरूरत है या नहीं क्योंकि खेल को मजबूत चरित्र के लोगों की भी जरूरत है. ’’

 

पांच मैचों की श्रृखला अभी 1-1 से बराबर है अैर भारत अब फिर से इसे अपने पक्ष में मोड़ने की कोशिश करेगा. धोनी ने इस बारे में कहा, ‘‘टेस्ट मैच जीतने के लिये 20 विकेट लेना बहुत महत्वपूर्ण है लेकिन रन बनाना भी जरूरी है. यदि आप 500 या 550 रन बनाते हो तो विपक्षी बल्लेबाज दबाव में रहेंगे. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘पिछले मैच में हमने कुछ कैच टपकाये थे और ऐसा नहीं लग रहा था कि उस पिच पर हम 20 विकेट लेने में सफल रहेंगे. इसलिए हम विकेट : ओल्ड ट्रैफर्ड : को देखकर अपने टीम संयोजन का फैसला करेंगे. ’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: jadeja_anderson_dhoni
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: anderson Dhoni England India jadeja test match
First Published:

Related Stories

वनडे सीरीज के लिए श्रीलंका टीम में थिसारा परेरा और सिरिवर्दना की हुई वापसी
वनडे सीरीज के लिए श्रीलंका टीम में थिसारा परेरा और सिरिवर्दना की हुई वापसी

कोलंबो: भारत के खिलाफ पांच वनडे मैचों की सीरीज के लिए श्रीलंका टीम में थिसारा परेरा और मिलिंदा...

4 साल बाद एस. श्रीसंत ने क्रिकेट के मैदान पर की वापसी
4 साल बाद एस. श्रीसंत ने क्रिकेट के मैदान पर की वापसी

कोच्चि: जहां एक ओर पूरा देश 71वें स्वतंत्रता...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017