टेस्ट ड्रॉ होने के बाद कोहली ने की टीम की तारीफ, धोनी को किया याद

By: | Last Updated: Sunday, 14 June 2015 12:34 PM
kohli after drawn test

पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के रवैये के उल्टे भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि वह विवादित डीआरएस पर अपने साथी खिलाड़ियों से बातचीत के लिये तैयार हैं.

फतुल्लाहः भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बांग्लादेश के खिलाफ ड्रॉ रहे बारिश के कारण प्रभावित हुए टेस्ट में टीम के निस्वार्थ प्रदर्शन की तारीफ की है. लेकिन उन्हें ड्रेसिंग रूप में पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी की कमी जरूर खली. कोहली ने मैच के बाद कहा धोनी यंगस्टर को अपने नेतृत्व में आगे बढ़ने में मदद करते थे. वो इतने साल हमारे साथ रहे कि अभी भी ड्रेसिंग रूम में कमी खलती है. ड्रेसिंग रूम में उनकी उपस्थिति हमें प्रेरणा देती थी लेकिन अब जबकि वो हमारे साथ नहीं हैं तो ये हमारी जिम्मेदारी है कि टीम को आगे ले जाएं.

 

बांग्लादेश के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में बारिश की वजह से लंबा समय बेकार गया जब उनसे टेस्ट क्रिकेट मे रिजर्व डे के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ये एक सुझाव है अगर ऐसा होता है तो क्रिकेट के लिए अच्छा ही होगा लेकिन इस पर फैसला एक लंबे विचार विमर्श के बाद ही संभव है.

 

 

टीम के प्रदर्शन पर कोहली ने कहा ,‘‘हमने अच्छी बल्लेबाजी की खासकर विजय, शिखर और रहाणे ने. खिलाड़ियों ने निस्वार्थ प्रदर्शन किया. हमें पता था कि बारिश के कारण ज्यादा समय नहीं मिलेगा तो तेजी से रन बनाये. दोनों टीमों के लिये यह निराशाजनक है. हम चाहते थे कि पूरे पांच दिन मैच हो.’’

अश्विन और हरभजन की बेहतरीन गेंदबाजी पर उन्होंने कहा कि अश्विन और हरभजन उम्दा स्पिनर हें और उन्हें साथ में गेंदबाजी करते देखना अक्ष्छा लगा. बतौर कप्तान मैं बहुत खुश हूं.’’ हरभजन की तारिफ करते हुए उन्होंने कहा कि वो एक मैच विनर हैं और मैच से पहले मैंने हरभजन से कहा कि आप ये न सोचें कि आप लंबे समय के बाद टीम में वापसी कर रहे. आप ये सोचें की आप इंज्री के बाद वापसी कर रहे हैं.

 

पिच के बारे में उन्होंने कहा ,‘‘विकेट उसी तरह का था जैसा हम चाहते थे. हमें लगा कि बारिश नहीं होने पर हालात बदलेंगे और हम बीच में अपने तेज गेंदबाजों को मौका दे सकेंगे. हमारा संयोजन सही था लेकिन हालात किसी के बस में नहीं होते.’’

 

भारत जहां तीन तेज गेंदबाजों और दो स्पिनरों को लेकर उतरा था, वहीं बांग्लादेश टीम में चार स्पिनर और एक तेज गेंदबाज उतारे थे.

 

रहीम ने कहा ,‘‘हमें लगा कि विकेट में तेज गेंदबाजों के लिये कुछ नहीं है और हमारे पास ऐसा कोई गेंदबाज नहीं है जो 140-145 की रफ्तार से गेंद डाल सके. मुझे लगता है कि हमारे गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया जबकि पहले दिन विकेट सपाट था.’’ उन्होंने कहा कि बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी. उन्होंने कहा ,‘‘ शिखर, मुरली विजय और रहाणे की तरह हमारे बल्लेबाजों को भी बड़ा स्कोर बनाना चाहिये था लेकिन अश्विन की गेंदबाजी के सामने यह मुश्किल था.’’ उन्होंने कहा ,‘‘हम हमारी नजरें तीन वनडे मैचों पर है. भारतीय टीम काफी मजबूत है लेकिन हमने भी पाकिस्तान के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया है जिससे हमारा आत्मविश्वास बुलंद है.’’

 

मैन आफ द मैच शिखर धवन ने कहा कि उसे बल्लेबाजी में मजा आया.

 

उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे बल्लेबाजी में बहुत मजा आया. विकेट बल्लेबाजों का मददगार था. विजय ने बेहतरीन पारी खेली और रहाणे ने भी उम्दा बल्लेबाजी की. दूसरे छोर पर विजय के रहने से काफी मदद मिलती है.’’

 

 

भारत के पूर्णकालिक टेस्ट कप्तान के तौर पर कोहली का यह पहला मैच था. भारत के छह विकेट पर 462 रन के जवाब में बांग्लादेश 256 रन पर आउट हो गया था. फॉलो-ऑन खेलते हुए उसने बिना किसी नुकसान के 23 रन बना लिये थे.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: kohli after drawn test
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017