फ्लॉप खिलाड़ियों को मिलेगा कोहली का साथ, नहीं बदलेगी टीम

By: | Last Updated: Wednesday, 2 December 2015 2:17 PM

नई दिल्ली: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि मेजबान टीम साउथ अफ्रीका के खिलाफ चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में भी ‘निर्मम’ बनी रहेगी. साथ ही उन्होंने साफ किया कि टीम अभी उस दौर में नहीं पहुंची है कि प्लेइंग इलेवन में प्रयोग किये जा सकें. भारत सीरीड जीत चुका है और इसलिए कोहली से पूछा गया कि क्या वे प्लेइंग इलेवन में कुछ बदलाव करने की सोच रहे हैं और उन्होंने कहा कि यह परिस्थितियों पर निर्भर करता है प्रयोग के लिये ऐसा नहीं किया जाएगा.

 

कोहली ने कहा, ‘‘टीम में बदलाव जीत या हार के आधार पर नहीं बल्कि परिस्थितियों पर निर्भर करते हैं. हमारी मानसिकता निर्मम बने रहने की है और हम 3-0 से सीरीज जीतने की कोशिश करेंगे. हमारे बदलाव परिस्थितियों पर निर्भर करेगा, इसलिए नहीं कि हमें किसी को मौका देना है. अभी हम ऐसी स्थिति में हैं कि प्रयोग नहीं कर सकते हैं. जब टीम और मजबूती हासिल कर लेगी तब इस बारे में सोचेंगे. ’’

 

कप्तान ने स्वीकार किया कि ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद को खेलने पर उन्होंने कुछ गलतियां की. उनसे पूछा गया कि क्या यह अच्छी गेंद थी या गलती, उन्होंने कहा, ‘‘नहीं यह गलती थी. मैं यहां बहाने बनाने के लिये नहीं बैठा हूं. हम फ्लिक शॉट खेलने के प्रयास में आउट हुए लेकिन हम इसे खेलना बंद नहीं कर सकते हैं. हम कवर ड्राइव करते हुए आउट हुए और हम निश्चित तौर पर इसे खेलना भी बंद नहीं कर सकते. जब मैं बल्लेबाजी के लिये जाता हूं तो मैं निश्चित तौर पर इस तरह की मानसिकता में विश्वास करता हूं. ’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘यदि मैं अच्छा नहीं खेल रहा होता तो 15 गेंद तक भी नहीं टिक पाता. मैं 60 से 70 गेंद खेल रहा हूं. यह मसला अधिक एकाग्रता बनाये रखने से जुड़ा है. लोग कई बातें करते हैं, महत्वपूर्ण यह है कि मैं कैसे महसूस कर रहा हूं. ’’ कोहली को यह भी पसंद नहीं है कि बल्लेबाजों की असफलता को इस तरह से बढ़ा चढ़ाकर पेश किया जाए. उन्होंने कहा, ‘‘हम किसी भी तरह की चुनौती का सामना करने के लिये तैयार है. मेरी समझ में नहीं आ रहा है कि इस बात पर चर्चा क्यों नहीं हो रही है कि हम सीरीज में 2-0 से आगे है. इसके बजाय हमारी आलोचना हो रही है. हम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर हैं और हम इससे खुद को नहीं बचा रहे हैं लेकिन यदि हमसे संवाददाता सम्मेलनों में लगातार यही सवाल किये जाएंगे तो फिर मुझे इनका जवाब देने का कोई कारण नजर नहीं आता है. टीम ने अब तक जो किया उसकी तारीफ करो और उसी दिशा में आगे बढ़ो. ’’

 

लेकिन वह इससे सहमत थे कि बल्लेबाजी एक इकाई के रूप में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पायी है. कोहली ने कहा, ‘‘मैं बल्लेबाजी इकाई के बारे में बात कर सकता हूं. हम टिककर नहीं खेल पाये. 75 रन की साझेदारी 140 रन में तब्दील होनी चाहिए. इससे हम 200 और 350 रन का स्कोर भी खड़ा कर सकते हैं. ऐसा केवल दो टेस्ट मैचों (मोहाली और नागपुर) में हुआ. गाले के बाद हमने अच्छी वापसी की. बल्लेबाजों को सुनिश्चित करना होगा कि वे चार सत्र तक बल्लेबाजी करें. यह हमारी कमजोरी है जिसमें हमें सुधार करना है. ’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: kohli on playing eleven
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत
BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत

कोच्चि: क्रिकेटर एस श्रीसंत ने बीसीसीआई से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) के लिए केरल हाईकोर्ट...

डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक
डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक

बर्मिंघम: पाकिस्तान के अजहर अली के बाद एलिस्टेयर कुक डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ने वाले...

टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा
टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा

बासिल: ब्रिटेन की स्टार महिला टेनिस खिलाड़ी योहाना कोंटा ने सिनसिनाटी ओपन टेनिस टूर्नामेंट के...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017