गेंदबाजी में रिकॉर्ड बनाने वाले मलिंगा अब नेट बॉलर बन कर रह गए हैं

गेंदबाजी में रिकॉर्ड बनाने वाले मलिंगा अब नेट बॉलर बन कर रह गए हैं

क्रिकेट के मैदान पर अपनी धारदार यॉर्कर के सहारे बड़े से बड़े बल्लेबाजों को पस्त करने वाले श्रीलंकाई तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा अब नेट बॉलर बनकर रह गए हैं.

By: | Updated: 29 Dec 2017 10:04 PM

नई दिल्ली: क्रिकेट के मैदान पर अपनी धारदार यॉर्कर के सहारे बड़े से बड़े बल्लेबाजों को पस्त करने वाले श्रीलंकाई तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा अब नेट बॉलर बनकर रह गए हैं. हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि नए कोच चंडिका हाथुरुसिंघा के नेतृत्व में बांग्लादेश दौरे की तैयारी में जुटी श्रीलंकाई टीम में मलिंगा एक नेट बॉलर की तरह गेंदबाजी करते देखे गए. बांग्लादेश दौरे से पहले कुल 23 खिलाड़ी प्रैक्टिस सेशन में हिस्सा ले रहे हैं जिसमें मलिंगा का नाम नहीं है. लेकिन मलिंगा यहां हैं और नेट बॉलिंग कर रहे हैं.


क्रिकेट वेबसाइट इएसपीएन की मानें तो मलिंगा खुद हैरान हैं कि उनके साथ हो क्या रहा है. उन्होंने कहा, "जब से मैंने क्रिकेट खेलना शुरु किया तब से जब भी राष्ट्रीय टीम प्रैक्टिस सेशन में जाती रही है मैं नेट बॉलर के रूप में उनके साथ रहा हूं. आज भी मैं एक नेट बॉलर के रूप में टीम के साथ जुड़ा हूं."


मलिंगा की चाहत है कि वो 2019 विश्व कप में टीम के साथ रहें और उस टूर्नामेंट के साथ ही क्रिकेट को अलविदा कह दें.


टीम से बाहर होने की वजह ढूंढ रहे मलिंगा ने कहा, "अगर वो मेरा चयन करते हैं तो मैं खेलने के लिए तैयार हूं, लेकिन मुझे अभी तक समझ नहीं आ रहा कि मुझे बाहर क्यों किया गया." उन्होंने कहा, "युवा खिलाड़ियों को आराम की जरूरत होती है क्योंकि उन्हें लंबा खेलना होता है लेकिन मेरे अंदर तो बस एक-दो साल का क्रिकेट बचा है ऐसे में आराम देने का कोई सवाल ही नहीं उठता."


मलिंगा भारत के खिलाफ सितंबर में हुए एक मात्र टी 20 के बाद से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेले हैं. उसके बाद से उन्हें आराम का हवाला देकर टीम से बाहर कर दिया गया.


खराब फॉर्म में चल रहे मलिंगा ने अपनी गेंदबाजी को लेकर कहा, "मैंने 10 मैच में तकरीबन 13 विकेट लिए. वो भी तब जब मैंने चोट के बाद वापसी की. मैं पिछले 14 साल से क्रिकेट खेल रहा हूं. सिर्फ ये साल(2017) ऐसा रहा जहां मुझे विकेट कम मिले. हालाकि इस दौरान मेरी गेंदबाजी पर 12 कैच भी छूटे लेकिन अंत में उस खिलाड़ी को बाहर कर दिया गया जिसने कैच की संभावना बनाई."


मलिंगा के नाम विश्व कप में लगातार चार गेंदों में चार विकेट लेने का विश्व रिकॉर्ड है. मलिंगा ने 30 टेस्ट में 101,204 वनडे में 301 और 68 टी 20 में देश के लिए कुल 90 विकेट झटके हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: गेंदबाजी में रिकॉर्ड बनाने वाले मलिंगा अब नेट बॉलर बन कर रह गए हैं
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story RCB vs CSK: कोहली को विराट जीत की ज़रूरत, लेकिन सामने है धोनी की सेना