एशियन गेम्स: सोलह साल बाद पीला तमगा जीतने पर भारतीय हाकी टीम की नजरें

By: | Last Updated: Friday, 19 September 2014 6:14 AM

इंचियोन: पिछले सोलह साल से एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक को तरसी भारतीय हाकी टीम नये प्रारूप में रविवार को श्रीलंका से पूल बी का पहला मुकाबला खेलेगी तो उसके जेहन में रियो ओलंपिक में सीधे प्रवेश सुनिश्चित करना होगा जबकि महिला टीम अपने अभियान का आगाज अगले दिन करेगी .

 

अंतरराष्ट्रीय हाकी के नये प्रारूप का पहली बार एशियाई खेल में इस्तेमाल किया जायेगा जिसमें खेल 35 . 35 मिनट के दो हाफ की बजाय 15 . 15 मिनट के चार क्वार्टर में होगा . खेल की अवधि 70 की बजाय 60 मिनट की होगी और हर बार पेनल्टी कार्नर और गोल के बाद 40 सेकंड का टाइम आउट रहेगा .

 

पेनल्टी कार्नर और गोल के बाद टाइम आउट देने का कारण पूरे 60 मिनट खेल सुनिश्चित करना है . एफआईएच ने टीमों को पेनल्टी कार्नर लेने और गोल के बाद जश्न के लिये पर्याप्त समय देने को इसकी वजह बताया है .

 

एशियाड स्वर्ण जीतने वाली टीम को 2016 रियो ओलंपिक में सीधे प्रवेश मिलेगा . विश्व रैंकिंग में भारत नौवें नंबर पर दूसरी सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग वाली एशियाई टीम है . उससे उपर चार बार की चैम्पियन और मेजबान दक्षिण कोरिया है . भारत के ग्रुप में कोरिया के अलावा पाकिस्तान भी है जिससे उसे 25 सितंबर को खेलना है .

 

पाकिस्तान कल पहले मैच में ओमान से खेलेगा . भारत अभी तक एशियाड में सिर्फ दो बार स्वर्ण जीत सका है लेकिन हाल ही में राष्ट्रमंडल खेलों में रजत जीतने से उसके हौसले बुलंद है . दूसरी ओर पाकिस्तान ने करीब 11 महीने से अंतरराष्ट्रीय हाकी नहीं खेली है .

 

भारत के प्रदर्शन की रीढ सरदार सिंह होंगे जो इन खेलों में भारतीय दल के ध्वजवाहक भी हैं . ग्रुप में ओमान और चीन की भी टीमें हैं .

 

भारतीय कोच टैरी वाल्श का मानना है कि टीम के पास इस बार स्वर्ण पदक जीतने का सुनहरा मौका है . उन्होंने कहा ,‘‘ हमारी तैयारी बहुत अच्छी है . विश्व कप से पहले और राष्ट्रमंडल खेलों के बाद तक हमारे प्रदर्शन में काफी फर्क आया है .’’ उन्होंने कहा कि भारत और कोरिया इन खेलों में प्रबल दावेदार होंगे . उन्होंने कहा ,‘‘ यदि हम अपनी क्षमता के अनुरूप खेल सके तो मलेशिया, कोरिया, चीन, पाकिस्तान और जापान को हराकर खिताब जीत सकते हैं .’’ वहीं उपकप्तान पी आर श्रीजेश का मानना है कि हाकी इंडिया लीग में चार क्वार्टर में खेलने के अनुभव का भारत को फायदा होगा .

 

उन्होंने कहा ,‘‘ खेल के नये प्रारूप से हमें अतिरिक्त फायदा होगा . हम हाकी इंडिया लीग में चार क्वार्टर में खेलते हैं लिहाजा हमें इसमें खेलने का अनुभव है .’’ भारतीय पुरूष टीम का सेमीफाइनल में पहुंचना लगभग तय है लेकिन उसके बाद उसे दबाव में आने से बचना होगा .

 

दूसरी ओर महिला टीम खिताब के प्रबल दावेदारों में नहीं है . विश्व रैंकिंग में 13वें स्थान पर काबिज महिलाओं का सोमवार को पहले मैच में सामना थाईलैंड से होगा . उसके बाद पांचवीं रैंकिंग वाली चीनी टीम से उनकी टक्कर होगी .

 

उसे 26 सितंबर को मलेशिया से खेलना है . महिला टीम की कप्तान रितु रानी को टीम से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है .

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Mervyn hopes India ends hockey gold drought at Asian Games
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Asian Games Hockey
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017