क्रिकेट कूटनीति अपने चरम पर पहुंची, एमसीजी में मिले मोदी-एबट

By: | Last Updated: Tuesday, 18 November 2014 11:25 AM
modi_cricket

कैनबरा: ऑस्ट्रेलिया के मशहूर मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में क्रिकेट कूटनीति आज तब अपने चरम पर दिखी जब ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री टोनी एबट और भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी यहां के इस प्रतिष्ठित मैदान में मिले. इस मौके पर मोदी ने कहा कि दोनों देशों के रिश्तों में एक ‘नए सफर’ की शुरूआत हुई है.

 

इस समारोह में महान क्रिकेटर सुनील गावस्कर, कपिल देव, वीवीएस लक्ष्मण, एलन बॉर्डर और डीन जोंस समेत दोनों देशों की कई बड़ी बडी क्रिकेट हस्तियां मौजूद थीं. इस दौरान मोदी ने ऑस्ट्रेलिया की खेल संस्कृति की भरपूर तारीफ की और शानदार मेजबानी के लिए अपने ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष का आभार जताया.

 

एबट ने मोदी के सम्मान में एमसीजी में एक स्वागत समारोह आयोजित किया था.

 

मोदी ने 161 साल पुराने इस क्रिकेट मैदान पर अपने भाषण को ‘‘यहां विशेषकर मैकग्रा और ब्रेट ली के खिलाफ एक शतक जमाने जैसा बताया’’ और कहा, ‘‘ये यादें हमेशा मेरे साथ रहेंगी.’’ प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘बहुत सारे भारतीय दिसंबर की सर्द सुबह को जल्दी उठकर टीवी पर इस शानदार स्टेडियम में हो रहा बॉक्सिंग डे टेस्ट देखते हैं.

 

मुझे पता है कि भारत का इस मैदान पर प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा है. लेकिन हमने 1985 में यहां चैंपियंस ट्रॉफी जीती थीं. और गावस्कर और कपिल यहां पर हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘लक्ष्मण भी यहां हैं, जिन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बल्लेबाजी खास रास आती थी. आपसे इस ऐतिहासिक मैदान पर बात करना विशेषकर मैकग्रा और बेट्र ली के खिलाफ यहां एक शतक जमाने जैसा है. मैं उनसे (ब्रेट ली) कल मिला था. मैंने (क्रिकेट से जुड़ा) सबसे अच्छा अगर कुछ किया तो वह गुजरात क्रिकेट संघ का नेतृत्व करना था.’’

 

एमसीजी की बात करते हुए मोदी ने कहा कि यह मैदान 2015 के विश्व कप के फाइनल का उपयुक्त आयोजन स्थल है. प्रधानमंत्री ने फाइनल में भारत और ऑस्ट्रेलिया के आमने सामने होने की भी उम्मीद जतायी.

 

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘कोई भी काम इतना बड़ा नहीं है कि एक ऑस्ट्रेलियाई और भारतीय को इस महान खेल पर चर्चा करने से रोक दे.’’ एबट द्वारा आयोजित रात्रिभोज से पहले मोदी ने एक स्मृति चिह्न भेंट किया जिसमें राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के एक चरखे की प्रतिकृति के साथ क्रिकेट की तीन गेंदें बनी थीं जिनपर उनके और विश्व कप विजेता भारतीय कप्तानों कपिल देव और महेंद्र सिंह धोनी के हस्ताक्षर थे.

 

उन्होंने कहा, ‘‘मेरा ऑस्ट्रेलिया का यादगार दौरा आज रात खत्म हो रहा है लेकिन हमारे रिश्तों के एक नए सफर की शुरूआत हुई है.’’ प्रधानमंत्री ने साथ ही कहा कि भारत दूसरे क्षेत्रों में भी ऑस्ट्रेलिया के प्रसिद्ध खेल कौशल से सीख सकता है और दोनों देशों ने भारत में एक खेल विश्वविद्यालय को लेकर सहयोग करने का फैसला किया है.

 

उन्होंने कहा कि खेल, पर्यटन, शिक्षा और संस्कृति जैसे क्षेत्रों में दोनों देशों का आदान प्रदान उनके रिश्ते को मजबूत बनाने का बड़ा स्त्रोत है.

 

मोदी ने कहा, ‘‘मैं आज और पिछले पांच सालों में (ऑस्ट्रेलिया में) भारत के लिए गर्मजोशी और मित्रता देखता हूं. मुझे हमारे रिश्ते के भविष्य में पूरा भरोसा है.’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: modi_cricket
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

वेस्टइंडीज के खिलाफ इंग्लैंड टीम ने किया सिर्फ एक बदलाव
वेस्टइंडीज के खिलाफ इंग्लैंड टीम ने किया सिर्फ एक बदलाव

बर्मिंघम: वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरू हो रहे...

...तो इस वजह से वनडे टीम में युवराज को नहीं मिली जगह!
...तो इस वजह से वनडे टीम में युवराज को नहीं मिली जगह!

नई दिल्ली: श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017