ODI नियमों को लेकर सही साबित हुई धोनी की बात

By: | Last Updated: Sunday, 28 June 2015 4:50 AM

नई दिल्ली: हाल ही में वनडे क्रिकेट के बदले नियमों से कप्तान धोनी की उस बात को भी सच कर दिया है जो वो वनडे क्रिकेट के नियमों के बारे में अकसर कहते आए हैं.

 

धोनी क्रिकेट फील्ड पर फील्डिंग के वक्त और बेहतर कप्तान नज़र आते हैं. लेकिन लेकिन पिछले कुछ सालों में क्रिकेट में हुए बदलावों से गेंदबाज़ों को हो रही परेशानी धोनी के लिए अंतिम ओवरों में सिरदर्द साबित होती जा रही थी.

 

भारतीय वनडे कप्तान एम एस धोनी ने क्रिकेट विश्वकप के दौरान कहा था कि वो वनडे क्रिकेट में बल्लेबाज़ों के पक्ष में नियमों के बदलाव के पक्षधर हैं.

 

धोनी ने कहा था क, ‘लगभग 40 सालों से चले आ रहे क्रिकेट में हमने कभी भी दोहरा शतक नहीं देखा था. जबकि पिछले 3 सालों में हम 3 दोहरे शतक( अब 6 दोहरे शतक हैं) देख चुके हैं. ये सब मैच के आखिरी ओवर में फील्डिंग रिस्ट्रिक्शंस के कारण हैं. अंतिम 10 ओवर में 30 यार्ड सर्कल के घेरे में महज़ 4 किलाड़ियों के रहने से फील्डिंग कैप्टन और गेंदबाज़ों को खासी दिक्कत होती है और बल्लेबाज़ों के लिए खेल आसान हो जाता है.’

 

धोनी ने ये भी कहा था कि 50 ओवर क्रिकेट को 20-20 में परिवर्तित होने से बचाया जाना चाहिए. 

 

लेकिन अब आईसीसी के नियमों में गेंदबाज़ों के लिए हुए अच्छे बदलावों से खेल के रोमांच का स्तर और बड़ जाएगे. अब खेल में अंतिम 10 ओवर में 30 यार्ड सर्कल के घेरे में 5 फील्डर रहेंगे. जबकि बल्लेबाज़ी पावरप्ले को पूरी तरह से खत्म कर दिया गया है.

 

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: MS Dhoni_ODI Rules_Team India_ICC_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ICC MS Dhoni Team India
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017