धोनी के चोटिल होने से सामने आई तीन बड़ी परेशानियां

no dhoni means lots of problem

नई दिल्लीः लगातार दो टी 20 सीरीज जीतने के बाद टीम इंडिया एशिया कप खेलने को तैयार है. पहली बार एशिया कप वनडे की जगह टी 20 फॉर्मेट में खेला जाएगा. लेकिन उससे पहले टीम इंडिया की परेशानी बढ़ गई है. कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी कमर में अकड़न के कारण आज प्रैक्टिस में नहीं उतरे. टीम इंडिया के लिए ये बहुत बड़ा झटका है. खबरों की मानें तो धोनी के बांग्लादेश के खिलाफ पहले मुकाबले में उतरने की संभावना न के बराबर है. बीसीसीआई ने धोनी के बैकअप के लिए पार्थिव पटेल को बांग्लादेश भेजा है. ऐसे में भारत के सामने तीन बड़ी समस्याएं हैं –

धोनी के न खेल पाने की स्थिति में टीम इंडिया की जीत पर असर पड़ सकता है. धोनी के सुलझे हुए कप्तान हैं और उनकी कप्तानी कई मौकों पर टीम इंडिया को जीत दिला चुकी है. ऐसे में विराट कोहली के ऊपर एक अलग जिम्मेदारी आ जाएगी.

धोनी के चोटिल होने से टीम इंडिया का मध्यक्रम भी गड़बड़ा जाएगा. धोनी भारतीय बल्लेबाजी के अंतिम भरोसेमंद बल्लेबाज के रूप में मैदान पर उतरते हैं. अक्सर रैना के बाद धोनी पर मैच फिनिश करने की जिम्मेदारी होती है. धोनी के न होने से कोहली या रैना को अंत तक रहना होगा. धोनी के बाद युवराज सिंह और हार्दिक पांड्या आते हैं जिनपर अभी भरोसा नहीं किया जा सकता. ऐसे में मध्यक्रम पूरी तरह से ढह भी सकती है.

पार्थिव को टीम में रखना ही होगा –
धोनी टीम से बाहर रहेंगे तो विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में पार्थिव पटेल को टीम में रखना ही होगा. ऐसे में सबसे बड़ी परेशानी उनके पोजिशन को लेकर होगी. पार्थिव सलामी बल्लेबाज के रूप में खेलते आए हैं. लेकिन रोहित और शिखर के कारण उन्हें इस जगह पर रखना कहीं से भी टीम हित में नहीं होगा. भारत के पास कोई विकेटकीपर भी नहीं है और उन्हें टीम में रखना ही होगा. मध्यक्रम में वो धोनी की जगह खेलने आएंगे या फिर नियमित बल्लेबाज में सबसे नीचे.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: no dhoni means lots of problem
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017