जन्मदिन विशेष: 31 की हुई 'भारत की बेटी' सानिया मिर्जा, इस तरह बनी टेनिस की स्टार

जन्मदिन विशेष: 31 की हुई 'भारत की बेटी' सानिया मिर्जा, इस तरह बनी टेनिस की स्टार

भारत की टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा आज 31 साल की हो गई हैं. सानिया का जन्म 15 नवंबर 1986 को मुंबई में हुआ था लेकिन उनका बचपन हैदराबाद में बीता. हैदराबाद से ही सानिया ने टेनिस की शुरुआत की.

By: | Updated: 15 Nov 2017 01:13 PM
On Sania Mirza 31st Birthday, know how she become a india’s tennis star

नई दिल्ली: भारत की टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा आज 31 साल की हो गई हैं. सानिया का जन्म 15 नवंबर 1986 को मुंबई में हुआ था लेकिन उनका बचपन हैदराबाद में बीता. हैदराबाद से ही सानिया ने टेनिस की शुरुआत की.


कम उम्र में ही सफलता के झंडे का गाड़ने वाली सानिया ने अपनी करियर की शुरुआत साल 1999 में की. उस समय सानिया की उम्र महज 14 साल थी, जब उन्होंने वर्ल्‍ड जूनियर टेनिस चैंपियनशिप में हिस्सा लिया था.


साल 2000 में सानिया ने पाकिस्तान में खेले गए इंटेल जूनियर चैंपियनशिप जी-5 मुक़ाबले में सिंगल और डबल मुक़ाबले में जीत हासिल की. डबल मुक़ाबलों में सानिया की जोड़ी पाकिस्तान के जाहरा उमर खान के साथ थी.


विवादों से रहा है नाता


सानिया मिर्जा का नाम हमेशा किसी ना किसी विवादों में आता रहा है. मुस्लिम परिवार से होने के कारण साल 2005 में एक मुस्लिम समुदाय ने उनके खेलने के खिलाफ फ़तवा तक जारी कर दिया था. इस सामुदाय ने टेनिस खेलते समय सानिया के कपड़े को लेकर आपत्ति जताई थी.


इतना ही नहीं पाक क्रिकेटर शोएब मलिक के साथ शादी रचाने के बाद उनकी काफी आलोचना हुई थी. तेलंगाना के एक बीजेपी नेता ने उन्हें पाकिस्तान की बहु तक कह दिया था.


बेस्‍ट सिंगल्‍स रैंकिंग वाली भारतीय खिलाड़ी


सानिया भारत की बेस्‍ट सिंगल्‍स रैंकिंग वाली खिलाड़ी हैं. सानिया वर्ल्‍ड रैंकिंग में 27वें नंबर तक पहुंची हैं. सिंगल्‍स में यह उनकी अब तक की बेस्‍ट रैंकिंग है. यह किसी भी भारतीय महिला टेनिस खिलाड़ी की बेस्‍ट रैंकिंग है. सानिया मिर्जा ने मार्टिना हिंगिस के साथ मिलकर डबल्‍स में नंबर 1 स्थान भी हासिल किया था.


ग्रैंड स्लैम


ग्रैंड स्लैम की बात करें तो सानिया ने सबसे पहले साल 2009 में ऑस्ट्रेलियन ओपन का मिक्स डबल्स खिताब जीता था इसके बाद साल 2012 में फ्रेंच ओपन मिक्स डबल्स का खिताब, 2014 में यूएस ओपन मिक्स डबल्स खिताब और 2015 में विंबलडन का युगल खिताब भी अपने नाम किया.


मेडल्स


सानिया मिर्जा ने एफ्रो एशियाई, एशियाई और कॉमनवेल्थ गेम्स खेलों को मिलाकर कुल 12 मेडल्स अपने नाम किया. एफ्रो एशियाई खेलों में सानिया ने कुल मिलाकर चार गोल्ड मेडल जीता है. एशियाई खेलों में सानिया ने एक गोल्ड, तीन सिल्वर और दो ब्रॉन्ज मेडल जीते जबकि कॉमनवेल्थ गेम्स में एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल जीता है.


पुरस्कार


सबसे पहले साल 2004 में सानिया को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. इसके बाद साल 2006 में उन्हें पद्म श्री अवॉर्ड मिला. इसी साल सानिया को डब्‍ल्‍यूटी का 'मोस्‍ट इम्‍प्रेसिव न्‍यू कमर' का अवॉर्ड भी दिया दिया गया.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: On Sania Mirza 31st Birthday, know how she become a india’s tennis star
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story वनडे सीरीज के नतीजे के साथ-साथ क्या और भी होंगे कुछ बड़े फैसले?