प्रो बैटर सिस्टम: अब हर गेंदबाज को समझ सकेंगे बल्लेबाज

By: | Last Updated: Saturday, 28 June 2014 12:14 PM
probatter system

नई दिल्लीः बदलते समय के साथ क्रिकेट के प्रैक्टिस सेशन में भी कई बदलाव आए है. नेट्स से होते हए अब इंडोर प्रैकिटिस होने लगी है. आम गेंदबाजों के बदले बल्लेबाज बॉलिंग मशीन की तरफ मुड़े. तकनीक के बदलते रहने से बल्लेबाजों को काफी फायदा भी हुआ है. ऐसे ही नए बदलाव में शामिल हुआ है ये प्रो बैटर सिस्टम. ये सिस्टम भी बॉलिंग मशीन ही है लेकन इसमें कुछ नए तकनीक को जोड़ा गया है जिससे बल्लेबाजों को मैदान पर खेलने जैसा अनुभव होगा.

 

 

 

इस नए तकनीक को बनाने वाले ऑस्ट्रेलिया के स्पोर्टस साइंस ऑफिसर रिआन क्रोथर बताते हैं कि बॉलिंग मशीन से बल्लेबाज सिर्फ बॉल फेस करते थे लेकिन इस तकनीक से बॉलरों के एक्शन को पता करना भी आसान होगा.

 

आपको बता दें कि इस तकनीक में बॉलिंग मशीन के साथ एक वीडियो चलाया जाता है जिसमें बल्लेबाज किसी भी खास गेंदबाज के गेंदबाजी एक्शन को देखते हुए बॉल फेस करता है. ऐसा करने से उन्हें लसिथ मलिंगा जैसे गेंदबाजों के एक्शन के बारे में पहले से ही पता रहेगा.

 

रिआन बताते हैं कि इस मशीन के साथ कई बदलाव किए गए हैं और गेंद फेंकने के क्रम में गेंद को स्लो किया जा सकता है जिससे बल्लेबाज को स्लोअर खेलने की भी आदत हो जाए.

 

कंप्युटर पर बैठा आदमी एन वक्त पर बॉल की स्पीड, पिच पॉजिशन और लेंथ में बदलाव कर सकता है जो आमतौर पर कई गेंदबाज मैदान पर करते हैं.  

 

इस प्रो बाटर सिस्टम में 2011 विश्व कप में खेले हर गेंदबाज की वीडियो है और बल्लेबाज अपने हिसाब से गेंदबाज सेलेक्ट कर सकता है.