नए कप्तान अजिंक्य रहाणे के पास सिर्फ 'दो मैच का अनुभव'

By: | Last Updated: Tuesday, 30 June 2015 10:37 AM

नई दिल्ली: जिम्बाब्वे दौरे के लिये भारतीय टीम के कप्तान चुने गये अजिंक्य रहाणे ने भले ही मुंबई की अंडर-17 और अंडर-19 टीमों की अगुवाई की है लेकिन सीनियर स्तर पर उन्हें केवल दो मैचों में कप्तानी करने का अनुभव है. बीसीसीआई ने सीमित ओवरों के नियमित कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और टेस्ट कप्तान विराट कोहली सहित कई सीनियर खिलाड़ियों को जिम्बाब्वे में होने वाले तीन वनडे और दो टी-20 मैचों की सीरीज के लिये विश्राम दिया है जिसके कारण रहाणे को पहली बार राष्ट्रीय टीम का नेतृत्व करने का मौका मिलेगा.

 

भारत की तरफ से 15 टेस्ट, 55 वनडे और 11 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके रहाणे के लिये कप्तानी एक तरह से नया अनुभव होगा क्योंकि उन्होंने सीनियर स्तर पर अपने आठ साल के करियर में कुल मिलाकर 300 से अधिक मैच खेलने के बावजूद केवल दो मैचों में किसी टीम की अगुवाई की है और इन दोनों मैचों में उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा.

 

मुंबई के इस 27 वर्षीय बल्लेबाज ने सबसे पहले 13 मार्च 2010 को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में हैदराबाद के खिलाफ मुंबई की कमान संभाली थी. इंदौर में खेले गये इस मैच में रहाणे ने केवल तीन रन बनाये और उनकी टीम सात विकेट से हार गयी थी. इसके बाद रहाणे को 26 फरवरी 2012 को महाराष्ट्र के खिलाफ विजय हजारे ट्रॉफी के 50 ओवर के मैच में मुंबई की अगुवाई करने का मौका मिला था. रहाणे फिर से बल्लेबाजी में नाकाम रहे और केवल 13 रन बनाकर आउट हो गये.

 

महाराष्ट्र ने यह मैच 15 रन से जीता था. रहाणे ने मुंबई अंडर-17 टीम की कुल छह मैचों में अगुवाई की जिनमें से तीन में उनकी टीम को जीत मिली जबकि तीन मैच ड्रॉ रहे. जहां तक अंडर-19 का सवाल है तो रहाणे ने इस श्रेणी के 14 मैचों में मुंबई की कप्तानी की और इनमें से सात में अपनी टीम को जीत दिलायी.

 

मुंबई को केवल एक मैच में हार मिली जबकि छह मैच ड्रॉ रहे. इस तरह से रहाणे ने जूनियर स्तर पर जिन 20 मैचों में मुंबई की कमान संभाली उनमें से केवल एक मैच में उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा जबकि दस मैचों में उन्होंने टीम को जीत दिलायी. इसके अलावा राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी और इंडियन ऑयल की तरफ से कप्तानी कर चुके रहाणे वैसे अभी तक अंडर-17 से लेकर सीनियर स्तर तक कुल 26 मैचों में कप्तान रह चुके हैं.

 

इन मैचों में उन्होंने 46.53 की औसत से 1396 रन बनाये हैं जिनमें तीन शतक और नौ अर्धशतक शामिल हैं. जिम्बाब्वे दौरे से रहाणे के करियर में एक नया अध्याय जुड़ेगा. वह भारत के 23वें वनडे कप्तान बनेंगे. अजित वाडेकर, सुनील गावस्कर, रवि शास्त्री, दिलीप वेंगसरकर और सचिन तेंदुलकर के बाद वह भारत की वनडे टीम की अगुवाई करने वाले मुंबई के छठे खिलाड़ी होंगे.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: rahane as a captain
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत
BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत

कोच्चि: क्रिकेटर एस श्रीसंत ने बीसीसीआई से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) के लिए केरल हाईकोर्ट...

डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक
डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बने एलिस्टेयर कुक

बर्मिंघम: पाकिस्तान के अजहर अली के बाद एलिस्टेयर कुक डे-नाइट टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ने वाले...

टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा
टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा

बासिल: ब्रिटेन की स्टार महिला टेनिस खिलाड़ी योहाना कोंटा ने सिनसिनाटी ओपन टेनिस टूर्नामेंट के...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017