एक SMS ने बदला रहाणे का करियर

By: | Last Updated: Friday, 4 December 2015 3:06 PM
rahane career change by one sms

नई दिल्लीः  एक SMS ने बदला अजिंक्य रहाणे का करियर. दिल्ली टेस्ट में रहाणे ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपने टेस्ट करियर 5वां शतक लगाया. ये बड़ी कामयाबी इसलिए है क्योंकि पहले 22 टेस्ट में 5 शतक कम ही बल्लेबाजों ने ही लगाए हैं. लेकिन ये मुमकिन हुआ सचिन के एक SMS की वजह से.

 

4 दिसंबर 2015. ये तारीख अजिंक्य रहाणे कभी नहीं भूल पाएंगे. वजह अपनी धरती पर उन्होंने पहला टेस्ट शतक लगाया. वो भी दुनिया की नंबर एक टीम साउथ अफ्रीका के खिलाफ. 22वें टेस्ट में रहाणे का ये 5वां शतक है.

 

रहाणे आज टीम की रीढ़ बन चुके है. लेकिन अगर सचिन की सीख उनके साथ नहीं होती तो आज वो इतने कामयाब नहीं होते

 

2 साल पहले 29 दिसंबर 2013 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ अजिंक्य रहाणे डरबन में अपने पहले टेस्ट शतक से सिर्फ 4 रन से चूक गए थे. उसी रात रहाणे को फोन पर एक मेसेज आया. मेसेज था सचिन तेंडुलकर का.

 

सचिन ने लिखा- अब तुम्हे पता चलेगा कि टेस्ट क्रिकेट क्या होता है. शतक की अहमियत क्या होती है. रहाणे का जवाब था सचिन सर शतक के लिए मैं आपको लंबा इंजतार नहीं करवाऊंगा. रहाणे ने करके भी दिखाया. करीब दो महीने बाद न्यूजीलैंड में उन्होंने अपने करियर का पहला शतक जड़ा.

 

इसके बाद तो उनकी गाड़ी रुकी ही नहीं. लॉर्ड्स में शतक ठोका. मेलबर्न में सेंचुरी लगाई. कोलंबो में शतक जमाया और अब दिल्ली में बल्ला उठाया.

 

साउथ अफ्रीका के खिलाफ रहाणे ने 215 गेंद पर 127 बनाए. पारी में 11 चौके और 4 छक्के लगाए.

 

साउथ अफ्रीका के खिलाफ इस सीरीज में 4 टेस्ट में किसी भी बल्लेबाज का पहला शतक है. रहाणे सचिन को अपना गुरु मानते है और खास बात ये है कि उनकी बल्लेबाजी में सचिन की झलक भी दिखती है.

 

दिल्ली टेस्ट में साउथ अफ्रीका के खिलाफ रहाणे ने जब इस खूबसूरत स्ट्रेट ड्राइव लगाकर शतक पूरा किया तो फैंस को सचिन की याद आ गई.

 

रहाणे की पारी के दम पर ही भारत का स्कोर दिल्ली टेस्ट में 300 के पार पहुंचा वरना एक वक्त पर तो 200 रन बनने भी मुश्किल लग रहे थे.

 

भारत के 139 रन पर 6 विकेट गिरे गए थे और जब टीम ऑल आउट हुई तो स्कोर बोर्ड पर 334 रन का आंकड़ा था. रहाणे ने दबाव में अच्छी बल्लेबाजी की और वो पुछल्ले बल्लेबाजों को भी साथ लेकर चले. रहाणे ने अश्विन के साथ 98 रन जोड़े. वहीं जाडेजा के साथ उन्होंने 59 रन जोड़े

 

अब तक 22 टेस्ट में रहाणे ने 42 की औसत से 1519 रन बनाए है. उन्होंने 5 शतक लगाए हैं. इससे पहले उन्होंने न्यूजीलैंड,इंग्लैंड,ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका की मुश्किल पिचों पर शतक लगाए हैं. पर रहाणे के लिए ये आसान नहीं था क्योंकि धोनी की कप्तानी में उनका बल्लेबाज क्रम कभी तय नहीं था. लगभग हर मैच में उनका नंबर बदल दिया गया. वनडे में तो उनको बांग्लादेश दौरे पर टीम से बाहर तक कर दिया गया था. लेकिन रहाणे दबाव में नहीं आए..वो लड़ते रहे..टीम के लिए अपना सौ फीसदी देते रहे.

 

रहाणे फिल्डर भी कमाल के हैं. साल 2015 में श्रीलंका के खिलाफ गॉल टेस्ट में वो 8 कैच पकड़ चुके हैं. जो एक रिकॉर्ड है. दिल्ली टेस्ट में साउथ अफ्रीका के खिलाफ रहाणे को नंबर 5 पर खिलाया उन्होंने शतक लगाया और भारत की जीत पक्की की

 

भारत के 334 रन के जवाब में दक्षिण अफ्रीका 121 रन पर ऑल आउट हो गई. रहाणे ने जब जब टेस्ट में शतक लगाया है..विपक्षी टीम कभी नहीं जीती. दिल्ली में उनकी पारी के भरोसा भारत दक्षिण अफ्रीका को टेस्ट सीरीज में 3-0 से हराने के करीब है

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: rahane career change by one sms
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017