इस जीत से काफी आत्मविश्वास मिलेगा: लोकेश राहुल

By: | Last Updated: Monday, 24 August 2015 12:44 PM
rahul after win

कोलंबो: श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट में टीम इंडिया को जीत दिलाने वाले सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल ने कहा कि इस जीत से टीम का आत्मविश्वास बढ़ेगा. जिससे टीम को सीरीज जीतने में मदद मिलेगी.

 

राहुल को पहली पारी में शतक जड़ने के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया.

 

सभी की नजरें अब यहां एसएससी मैदान पर होने वाले तीसरे टेस्ट पर टिकी हैं जहां भारत दो दशक बाद श्रीलंका में सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा.

 

राहुल ने कहा, ‘‘हम सकारात्मक मानसिकता के साथ उतरे और भूल गए कि पहले टेस्ट में क्या हुआ और इस तरह वापसी की. इस मैच से में काफी आत्मविश्वास मिलेगा और अगले मैच में हम और अधिक सकारात्मक रवैये के साथ उतरेंगे. हम सीरीज जीतने की कोशिश करेंगे.’’

 

भारत के पांचवें दिन मैच जीतने के बाद राहुल ने कहा, ‘‘(गॉल में हार के बाद) हमने किसी विशिष्ट गेंदबाज के खिलाफ कोई योजना नहीं बनाई थी.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम सकारात्मक होकर बल्लेबाजी करने की योजना के साथ उतरे और गेंदबाजों के साथ आक्रमण किया. हम सभी सकारात्मक खिलाड़ी हैं और गेंदबाजों का सामना करना चाहते थे. हम रन बनाना चाहते थे और यही हमारी योजना थी और इस मैच में इस योजना ने हमारे लिए शानदार काम किया.’’

 

विकेटकीपर की भूमिका पर –

 

विकेटकीपर के रूप में भारत की पहली पसंद रिद्धिमान साहा चौथे दिन बल्लेबाजी करते हुए चोटिल हो गए और राहुल ने इसके बाद दूसरी पारी में विकेटकीपर की भूमिका निभाई. नमन ओझा को तीसरे टेस्ट के लिए साहा के विकल्प के तौर पर टीम में शामिल किया गया है. राहुल ने कहा, ‘‘मैंने हमेशा विकेटकीपिंग का लुत्फ उठाया है. इससे पहले शुरूआत में मैं अपने राज्य के लिए विकेटकीपिंग करता था और बाद में मुझे विकेटकीपिंग का अधिक मौका नहीं मिला. लेकिन अगर कोई चाहता है कि मैं विकेटकीपिंग करूं तो मैं हमेशा इसके लिए खुद को तैयार रखता हूं. यह दुर्भाग्यशाली है कि साहा को चोट के कारण बाहर होना पड़ा लेकिन मुझे विकेटकीपिंग करने में काफी खुशी होगी.’’

 

राहुल से जब पूछा गया कि क्या वह टेस्ट क्रिकेट में विकेटीपिंग और पारी की शुरूआत दोनों के लिए तैयार हैं तो उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता. मैंने अब तक यह करके नहीं देखा है. मैंने हमेशा विकेटकीपिंग का लुत्फ उठाया है क्योंकि यह मेरे अंदर स्वाभाविक रूप से आती है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘जूनियर क्रिकेट के बाद अगर टीम चाहती थी कि मैं किसी मैच में विकेटकीपिंग करूं या अगर कोई चोटिल हो जाता था तो मैं इसके लिए तैयार रहता था. मैंने वनडे और टी20 में विकेटकीपिंग की है.’’

 

राहुल ने कहा, ‘इन प्रारूप में मेरे लिए आसान था क्योंकि इसके बाद मुझे दोबारा पारी की शुरूआत करनी होती थी. लेकिन टेस्ट में मैं इसका आदी नहीं हूं. लेकिन अगर टीम की जरूरत है कि आपको ऐसा करना है तो मैं इसके लिए तैयार हूं.’’

 

इस सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘‘फिर आज, दिन की पहली गेंद पर, इस तरह का कैच लपकना, एंजेलो मैथ्यूज हमारे लिए महत्वपूर्ण विकेट था. वह अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था और हमारे लिए महत्वपूर्ण विकेट था. इसलिए उसे आउट करना अच्छा था और इसने हमें लय दी.’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: rahul after win
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017