हमें खिलाड़ियों और बीसीसीआई के हितों की सुरक्षा करनी होगी: शुक्ल

By: | Last Updated: Wednesday, 15 July 2015 4:40 PM

कोलकाता: संकटों से घिरी इंडियन प्रीमियर लीग चेन्नई सुपर किंग्स और रॉजस्थान रायल्स के निलंबन के बावजूद अगले साल होगी लेकिन दर्शकों की रूचि के अभाव में चैम्पियंस लीग को आज रद्द कर दिया गया.

 

आईपीएल अध्यक्ष राजीव शुक्ल ने बीसीसीआई प्रमुख जगमोहन डालमिया से मुलाकात के बाद पत्रकारों से कहा ,‘‘ आप निश्चिंत रहे कि आईपीएल नौ होगा और जहां तक बीसीसीआई का सवाल है तो इसमें कोई दिक्कत नहीं होगी.’’ दो टीमों के निलंबन के बाद टूर्नामेंट के प्रारूप के बारे में उन्होंने कोई बात नहीं की. उन्होंने कहा कि बीसीसीआई एक पैनल का गठन कर सकता है जो आगे की कार्रवाई की दिशा तय करेगी.

 

शुक्ल ने कहा ,‘‘ जस्टिस लोढा आयोग के फैसले के बाद हम विचार विमर्श कर रहे हैं. मैने अध्यक्ष जगमोहन डालमिया से मुलाकात की और सचिव अनुराग ठाकुर से भी बात कर रहा हूं. हम 19 जुलाई को संचालन परिषद में पूरी रिपोर्ट का आकलन करेंगे. उसके बाद से रिपोर्ट के अध्ययन और उसे लागू करने के सुझाव देने के लिये एक पैनल का गठन किया जा सकता है.’’

 

शुक्ल ने कहा ,‘‘हम संचालन परिषद में सभी विकल्पों पर बात करेंगे. पहले हमें रिपोर्ट का आकलन करने दीजिये. बोर्ड अध्यक्ष ने साफ तौर पर कहा है कि हम न्यायिक फैसले का सम्मान करते हैं लिहाजा इस पर अमल की प्रक्रिया शुरू है.’’ इस बीच चैंपियन्स लीग टी20 टूर्नामेंट की संचालन परिषद ने आज टूर्नामेंट को तुरंत प्रभाव से खत्म करने का निर्णय किया. मीडिया विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘चैंपियन्स लीग ट्वेंटी20 की संचालन परिषद ने आज पुष्टि की कि इस टी20 लीग को तुरंत प्रभाव से बंद किया जाएगा. चैंपियन्स लीग ट्वेंटी20 की संचालन परिषद में शामिल भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई), क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने सर्वसम्मति से यह फैसला किया. ’’

 

विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘इसलिए अब 2015 में पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सितंबर. अक्तूबर में होने वाली चैंपियन्स लीग अब नहीं होगी. ’’ चैंपियन्स लीग को शुरू से ही बहुत अधिक समर्थन नहीं मिल रहा था और उसे बंद करने की संभावना बनी हुई थी. ऐसे में लोढ़ा समिति की रिपोर्ट आ गयी जिसके बाद चैंपियन्स लीग ट्वेंटी20 की संचालन परिषद ने फैसला लेने में देर नहीं की. लोढ़ा समिति ने लीग के मौजूदा चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स और उपविजेता होने के कारण इसमें भाग लेने का अधिकार रखने वाली एक अन्य टीम को दो साल के लिये निलंबित कर दिया. विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘यह प्रतियोगिता 2009 में बीसीसीआई, सीए और सीएसए ने शुरू की थी. संचालन परिषद का मानना है कि टूर्नामेंट का दर्शकों का सीमित समर्थन मिलने के कारण इसे बंद करना उचित फैसला है. ’’ शुक्ल ने कहा कि डालमिया का मानना है कि बीसीसीआई को आईपीएल, खिलाड़ियों, बीसीसीआई और राज्य संघों के हितों की रक्षा करनी होगी. उन्होंने कहा ,‘‘संचालन परिषद की बैठक के बाद फैसला लिया जायेगा. इसके बाद कार्यसमिति की बैठक होगी.’’ उन्होंने कहा कि प्रभावी टीमें फैसले के खिलाफ अपील कर सकती है लेकिन यह उनका अपना फैसला होगा . बोर्ड इसमें दखल नहीं देगा .

 

बीसीसीआई इस बात की इच्छुक है कि आईपीएल पहले की तरह आठ टीमों का टूर्नामेंट बना रहे क्योंकि प्रसारक मल्टी स्क्रीन मीडिया के साथ उसका करार 60 मैचों के कार्यक्रम को लेकर है. बोर्ड के एक शीर्ष अधिकारी ने पीटीआई से कहा, ‘‘हमने इस पर चर्चा शुरू कर दी है. हमने न्यायमूर्ति लोढ़ा समिति की रिपोर्ट का अध्ययन किया है. संचालन परिषद इस फैसले के सभी पहलुओं पर चर्चा करने के बाद भविष्य की कार्रवाई पर फैसला करेगी. ’’ अधिकारी ने कहा कि आईपीएल को आठ टीमों को टूर्नामेंट बनाये रखने के लिये बोर्ड संभवत: दो विकल्पों पर विचार कर सकता है. उन्होंने कहा, ‘‘बीसीसीआई दो साल तक दो टीमों को चला सकता है और प्रतिबंध काल समाप्त होने के बाद मूल मालिक वापसी कर सकते हैं. दूसरा विकल्प दो नयी टीमों के लिये नये सिरे से बोली लगाना है क्योंकि कई कारपोरेट ने आईपीएल टीम खरीदने में दिलचस्पी दिखायी है. ’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: rajiv shukla
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017