रणजी ट्रॉफी: दिल्ली, मुंबई, महाराष्ट्र अंतिम-8 में पहुंचे

By: | Last Updated: Monday, 9 February 2015 3:29 PM

नई दिल्लीः कर्नाटक, तमिलनाडु और मुंबई जहां ग्रुप-ए से रणजी ट्रॉफी (2014-15) के नॉकआउट वर्ग में पहुंचने में कामयाब रहे वहीं, ग्रुप-बी से दिल्ली, महाराष्ट्र और विदर्भ भी अगले दौर में पहुंच गए हैं. ग्रुप-सी से असम और आंध्र प्रदेश ने क्वालीफाई किया है. अंतिम आठ के मुकाबले के 15 फरवरी से खेले जाएंगे. बहरहाल, सोमवार को खत्म हुए मुकाबलों में उत्तर प्रदेश ने रेलवे को मात दी जबकि तमिलनाडु ने भी बड़ौदा को हराया. विदर्भ को हालांकि महाराष्ट्र के हाथों हार का सामना करना पड़ा. एक अन्य मैच में ओडिशा ने सौराष्ट्र को हराया.

 

उत्तर प्रदेश ने रेलवे को हराया :

 

एकलव्य द्विवेद्वी (102 नाबाद) द्वारा खेली गई तेजतर्रार पारी की बदौलत उत्तर प्रदेश ने कर्नेल सिंह स्टेडियम में खेले गए रणजी ट्रॉफी ग्रुप-ए मुकाबले में आखिरी दिन सोमवार को रेलवे को सात विकेट से हरा दिया.

 

रेलवे द्वारा रखे गए 243 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरे उत्तर प्रदेश को आखिरी दिन 218 रनों की जरूरत थी जिसे टीम ने तीन विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया. एकलव्य ने 73 गेंदों में 15 चौके और तीन छक्के लगाए और उमंग शर्मा (35 नाबाद) के साथ चौथे विकेट के लिए नाबाद 136 रनों की साझेदारी कर टीम को विजय दिलाई.

 

सलामी बल्लेबाज तन्मय श्रीवास्तव ने 53 रनों का योगदान दिया. दूसरी पारी में उत्तर प्रदेश की ओर से पांच विकेट हासिल करने वाले पीयूष चावला को ‘मैच ऑफ द मैच’ चुना गया. उनकी शानदार गेंदबाजी की बदौलत रेलवे दूसरी पारी में 189 रन बनाकर आउट हो गया था और टीम को अपेक्षाकृत एक आसान लक्ष्य मिला.

 

गौरतलब है कि टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए रेलवे ने महेश रावत (146) के शतक की बदौलत पहली पारी में 345 रन बनाए थे जिसके बाद उत्तर प्रदेश की टीम 292 रन बना सकी थी.

 

तमिलनाडु ने बड़ौदा को दी मात :

 

मुरली विजय (104 नाबाद) की बेहतरीन पारी की बदौलत तमिलनाडु ने मोती बाग स्टेडियम में खेले गए रणजी ट्रॉफी ग्रुप-ए मुकाबले में सोमवार को बड़ौदा को सात विकेट से हरा दिया.

 

बड़ौदा द्वारा रखे गए 207 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरे तमिलनाडु ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक कप्तान अभिनव मुकुंद (16) का विकेट खोकर 51 रन बना लिए थे. ऐसे में आखिरी दिन उसे 156 रनों की जरूरत थी जिसे उसने बाबा अपराजित (10) और दिनेश कार्तिक (35) का विकेट खोकर हासिल कर लिया.

 

विजय ने 136 गेंदों की पारी में 14 चौके और दो छक्के लगाए. विजय शंकर 26 रन बनाकर नाबाद लौटे.

 

बड़ौदा ने पहली पारी में 149 जबकि दूसरी पारी में 245 रन बनाए थे. वहीं, तमिलनाडु पहली पारी में 188 रन ही बना सका था.

 

बड़ौदा के सागर मंगालोरकर ने पूरे मैच में नौ विकेट हासिल किए. तमिलनाडु की पहली पारी को समेटने में अहम भूमिका निभाते हुए उन्होंने 49 रन देकर सात विकेट निकाले.

 

महाराष्ट्र से हारा विदर्भ :

 

महाराष्ट्र ने रणजी ट्रॉफी ग्रुप-बी मुकाबले के चौथे और आखिरी दिन सोमवार को विदर्भ को छह विकेट से हराकर इस सत्र में अपनी तीसरी जीत दर्ज की.

 

महाराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले गए इस मैच के आखिरी दिन महाराष्ट्र को 164 रनों का लक्ष्य मिला जिसे टीम ने 30.5 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया.

 

सलामी बल्लेबाज हर्षद खाडिवाले ने 42 रनों योगदान दिया. केदार जाधव (28) और रोहित मोटवानी (27) ने भी महत्वूर्ण योगदान दिए. राहुल त्रिपाठी 39 रन बनाकर नाबाद लौटे.

 

इससे पूर्व तीसरे दिन के छह विकेट के नुकसान पर 274 रनों से आगे खेलने उतरा विदर्भ दूसरी पारी में 391 रन बनाकर आउट हो गया. उर्वेश पटेल ने सर्वाधिक 87 रनों का योगदान दिया. महाराष्ट्र के समद फल्लाह ने चार सफलताएं अर्जित की.

 

पहली पारी में महाराष्ट्र की ओर से नाबाद 100 रन बनाने वाले अंकित बावने को ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया.

 

महाराष्ट्र ने पहली पारी में 342 रन बनाए थे जिसके जवाब में विदर्भ केवल 114 रन बना सका और फॉलोऑन के तहत उसे दोबारा बल्लेबाजी के लिए उतरना पड़ा. विदर्भ ने दूसरी पारी में 391 रन बनाए.

 

 

 

ओडिशा ने सौराष्ट्र को हराया :

 

ओडिशा ने सौराष्ट्र द्वारा रखे गए 283 रनों के लक्ष्य को आठ विकेट के नुकसान हासिल करते हुए इस सत्र में अपनी तीसरी जीत दर्ज की. अनुराग सारंगी ने 83 रनों का योगदान दिया. इस जीत के बावजूद टीम हालांकि नॉकआउट वर्ग में पहुंचने में नाकाम रही.

 

सौराष्ट्र ने पहली पारी में 218 रन बनाए थे जिसके जवाब में ओडिशा केवल 88 रन बना सका. इसके बाद दूसरी पारी में सौराष्ट्र की पारी लड़खड़ाई और पूरी टीम केवल 152 रनों पर सिमट गई थी.

 

असम-केरल का मुकाबला ड्रॉ :

 

रणजी ट्रॉफी ग्रुप-सी के तहत केरल और असम के बीच खेला गया मुकाबला ड्रा रहा. असम ने पहली पारी में 344 जबकि दूसरी पारी में छह विकेट खोकर 188 रन बनाए. वहीं, केरल ने पहली पारी में 266 रन बनाए थे.

 

मुंबई और कर्नाटक के बीच मैच ड्रॉ :

 

वानखेड़े स्टेडियम में ग्रुप-ए के तहत मुंबई और कर्नाटक के बीच मुकाबला भी ड्रा रहा. कर्नाटक के सामने आखिरी दिन 245 रनों का लक्ष्य था. चौथे और आखिरी दिन का खेल खत्म होने तक टीम ने एक विकेट खोकर 110 रन बना लिए थे.

 

मुंबई ने पहली पारी में 436 और दूसरी पारी में आठ विकेट खोकर 223 रन (पारी घोषित) बनाए. वहीं कर्नाटक की पहली पारी 415 रनों पर सिमट गई थी.

 

 

 

 

 

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ranji trophy
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017