INDvsAUS: तीनों क्षेत्र में हारी टीम इंडिया, ये हैं सीरीज गंवाने के कारण

reason for series loss

नई दिल्लीः ऑस्ट्रेलिया के हाथों टीम इंडिया को लगातार तीसरे मैच में हार मिली. मेलबर्न में खेले गए मैच में भारत को 3 विकेट से हार मिली. भारत के 295 रन को ऑस्ट्रेलिया ने सात गेंद शेष रहते सात विकेट खोकर हासिल कर लिया. पूरी सीरीज में भारत के गेंदबाज बेअसर रहे. दूसरी करफ फील्डिंग भी सामान्य ही रही. तीनों मैचों में भारत के बल्लेबाजों का बोल बाला रहा लेकिन वो और बेहतर कर सकते थे.

सीरीज के तीनों मैच में भारत के हार के कारण लगभग एक से रहे.

Australia India Cricket

सपाट फिच पर गेंदबाज हुए फेल – जहां भारत के सपाट पिचों पर भारतीय गेंदबाज असरदार दिखते हैं. स्पिनर और तेज गेंदाबज विकेट को अपना लाइन बनाते हैं लेकिन ऑस्ट्रेलिया के बड़े मैदानों पर बल्लेबाजों से गलती की उम्मीद भारतीय गेंदबाजों को भारी पड़ गई. विकटे-टू-विकेट की रणनीति से अलग भारतीय गेंदबाजों ने हर कहीं गेंदें फेंकी. जिसके कारण ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को जमने और रन बनाने का मौका मिल गया. 77 वनडे खेलकर 107 विकेट अपने नाम कर चुके सीनियर गेंदबाज ईशांत शर्मा भी लाइन लेंथ को तरसते दिखे. न केवल मेलबर्न बल्कि ब्रिस्बेन में भी उनका यही हाल था. उमेश यादव ने विकेट जरूर लिया, लेकिन उनकी भी दिशा सही नहीं थी. कम से कम इस गेंदबाजी यूनिट से तो हमें जीत दिलाने की आस छोड़ ही देनी चाहिए.

kohli
फील्डिरों ने किया निराश – अब तक खेले गए सीरीज में भारत की फील्डिंग घरेलू क्रिकेट की तरह लगी. युवा खिलाड़ी भी अपने स्तर की फील्डिंग नहीं कर पाए. दूसरे मैच में भारत ने अकेले शान मार्श के 4 कैच टपकाए थे. भारतीय खिलाड़ियों ने न केवल कैच छोड़ा बल्कि ग्राउंड फील्डिंग भी खराब रही. हमने रोके जा सकने वाले शॉट भी बाउंड्री के बाहर जाने दिए. गेंदबाज अगर दबाव बना भी रहे थे तो फील्डर उन्हें हल्का कर रहे थे.

Virat Kohli

बल्लेबाजी अच्छी लेकिन धीमी –  भारतीय बल्लेबाजों ने सीरीज में अच्छा खेल दिखाया लेकिन सिर्फ रनों के मामले में. मेलबर्न से पहले भी भारत 340 तक जा सकता था लेकिन स्ट्राइक रेट कम होने की वजह से भारत जरूरी रन नहीं बना पाया. तीसरे मैच में विराट कोहली ने शतक जरूर बनाया, लेकिन उन्होंने 117 रन बनाने के लिए 117 गेंदें खेलीं. उनके स्तर के बल्लेबाज का स्ट्राइक रेट 100 से अधिक होने की आशा की जाती है. अजिंक्य रहाणे ने 50 रन बनाने के लिए 55 गेंदें खेलीं, वहीं अपनी ससुराल के मैदान पर खेले शिखर धवन का तो और बुरा हाल रहा. धवन ने 68 रन बनाने के लिए 91 गेंदें खेल डालीं.

George Bailey

टीम चयन –  कई नए खिलाड़ियों के साथ ऑस्ट्रेलिया गए धोनी अब तक सही प्लेइंग इलेवन नहीं बना पाए. तीसरे मैच में ऋषि धवन और गुरकीरत सिंह मान को मौका दिया गया, लेकिन उन्हें उमेश यादव की जगह भुवनेश्वर कुमार को प्लेइंग इलेवन में रखना चाहिए था, क्योंकि सपाट विकेट पर लाइन-लेंथ पर गेंद फेंकने वाले गेंदबाज की जरूरत होती है.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: reason for series loss
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

शमी ने कहा, 'शानदार प्रदर्शन और लय को आगे भी रखेंगे जारी'
शमी ने कहा, 'शानदार प्रदर्शन और लय को आगे भी रखेंगे जारी'

कोलकाता: श्रीलंका के खिलाफ 3-0 के ऐतिहासिक...

इंग्लैंड के खिलाफ इंडिया अंडर-19 टीम ने 5-0 से क्लीनस्वीप कर रचा इतिहास
इंग्लैंड के खिलाफ इंडिया अंडर-19 टीम ने 5-0 से क्लीनस्वीप कर रचा इतिहास

नई दिल्ली: भारत की अंडर-19 टीम ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए पांचवें और अंतिम युवा...

वेस्टइंडीज के खिलाफ इंग्लैंड टीम ने किया सिर्फ एक बदलाव
वेस्टइंडीज के खिलाफ इंग्लैंड टीम ने किया सिर्फ एक बदलाव

बर्मिंघम: वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरू हो रहे...

...तो इस वजह से वनडे टीम में युवराज को नहीं मिली जगह!
...तो इस वजह से वनडे टीम में युवराज को नहीं मिली जगह!

नई दिल्ली: श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017