WC15: साउदी और मैकुलम के तूफान में उड़ा इंग्लैड

By: | Last Updated: Friday, 20 February 2015 6:14 AM
record win of newzealand over england

इस विश्व कप में खासे फॉर्म में चल रहे न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रैंडन मैकुल्लम के नाम वनडे में कुल 181 छक्के हैं.

वेलिंगटन: तेज गेंदबाज टिम साउदी के सात विकेट के बाद ब्रेंडन मैकुलम के विश्व कप के सबसे तेज अर्धशतक की मदद से न्यूजीलैंड ने आज विश्व कप पूल- ए के मैच में इंग्लैंड को आठ विकेट से हरा दिया. साउदी के रिकॉर्ड सात विकेट की मदद से न्यूजीलैंड ने पहले इंग्लैंड को 33.2 ओवर में 123 रन पर आउट कर दिया.

 

जवाब में न्यूजीलैंड की टीम ने महज 12.2 ओवर में दो विकेट खोकर जीत दर्ज की. मैकुलम ने 25 गेंद में 77 रन बनाये. उन्होंने सिर्फ 18 गेंद में अर्धशतक पूरा करके विश्व कप में नया रिकॉर्ड बनाया. उन्होंने अपनी पारी में आठ चौके और सात छक्के जड़े. उन्होंने विश्व कप में अपना ही पुराना रिकार्ड तोड़ा जब 2007 में वेस्टइंडीज में हुए विश्व कप में कनाडा के खिलाफ 20 गेंद में उन्होंने अर्धशतक बनाया था.

वनडे क्रिकेट में यह तीसरा सबसे तेज अर्धशतक है. इससे ज्यादा तेजी से अर्धशतक दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स (16 गेंद) और श्रीलंका के सनत जयसूर्या (17 गेंद) ने बनाया है. मैकुलम ने पहली ही गेंद से कहर बरपाना शुरू कर दिया था. स्टीवन फिन के दो ओवर में तो उन्होने 49 रन ले डाले. अपनी पूरी पारी में उन्होंने सिर्फ तीन सिंगल लिये जबकि बाकी सारे रन चौकों छक्कों से बने.

 

इससे पहले साउदी विश्व कप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले तीसरे गेंदबाज हो गए जिन्होंने नौ ओवर में 33 रन देकर सात विकेट लिए. इससे पहले इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया. पांच ओवर के पहले स्पैल में दो विकेट लेने वाले साउदी की गेंदबाजी के सामने इंग्लैंड की टीम 33.2 ओवर में आउट हो गई. ट्रेंट बोल्ट, डेनियल विटोरी और एडम मिल्ने को एक एक विकेट मिला.

साउदी का प्रदर्शन वनडे क्रिकेट में किसी कीवी गेंदबाज का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. उनहोंने शेन बॉन्ड को पछाड़ा जो अब टीम के गेंदबाजी कोच हैं. बांड ने 2005 में बुलावायो में भारत के खिलाफ 19 रन देकर छह विकेट लिए थे. इंग्लैंड के लिये सिर्फ जो रूट कुछ देर टिककर खेल सके जिन्होंने 46 रन बनाये जबकि सलामी बल्लेबाज मोईन अली ने 20 रन का योगदान दिया.

 

इंग्लैंड का स्कोर एक समय तीन विकेट पर 103 रन था जिसके बाद विकेट ताश के पत्तों की तरह गिर गए. इंग्लैंड ने आखिरी सात विकेट सिर्फ 19 रन पर गंवा दिये. पहले स्पैल में इयान बेल (8) और अली को साउदी ने बोल्ड किया. दूसरे स्पैल में उन्होंने जेम्स टेलर (0), जोस बटलर (3), क्रिस वोक्स (1), स्टुअर्ट ब्राड (4) और स्टीवन फिन (0) को पवेलियन भेजा.

 

उन्होंने पांच विकेट सिर्फ 18 गेंद के भीतर ले डाले. विश्व कप में उनसे बेहतर प्रदर्शन सिर्फ ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैकग्रा (7.15) और ऑस्ट्रेलिया के ही एंडी बिकल (7.20) ने किया है.