देश छोड़ने का खेद है: नवरातिलोवा

By: | Last Updated: Wednesday, 25 November 2015 5:00 PM
Regret leaving Czech Republic: Martina Navratilova

कोलकाता: महान मार्टिना नवरातिलोवा को टेनिस में अपने कैरियर को आगे बढ़ाने के लिए चेक गणराज्य (तत्कालीन चेकेस्लोवाकिया) को छोड़ने का मलाल है जहां उनका जन्म हुआ था.

 

नवरातिलोवा ने अपने शानदार करियर के दौरान 59 ग्रैंडस्लैम खिताब जीते.

 

नवरातिलोवा ने कहा, ‘‘मुझे खेद है कि मुझे अपना देश छोड़ना पड़ा. लेकिन कुछ हासिल करने के लिए मुझे ऐसा करना ही था और मैंने अपने भाग्य का फैसला खुद किया. मुझे इसके लिए बाध्य होना पड़ा.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरे लिए लोकतंत्र 15 साल देर से आया. लेकिन मैं कह सकती हूं कि अब यह है और चेक गणराज्य शानदार देश है. यह हमेशा से था लेकिन गलत लोग सत्ता में थे.’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Regret leaving Czech Republic: Martina Navratilova
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

वेस्टइंडीज के खिलाफ इंग्लैंड टीम ने किया सिर्फ एक बदलाव
वेस्टइंडीज के खिलाफ इंग्लैंड टीम ने किया सिर्फ एक बदलाव

बर्मिंघम: वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरू हो रहे...

...तो इस वजह से वनडे टीम में युवराज को नहीं मिली जगह!
...तो इस वजह से वनडे टीम में युवराज को नहीं मिली जगह!

नई दिल्ली: श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017