IPL: बैंगलोर के क्यों नहीं हो पाए युवराज

Royal Challengers Bangalore wanted Yuvraj Singh back badly

नई दिल्लीः शनिवार को हुए इंडियन प्रीमियर लीग के ऑक्शन में सबकी नजरें युवराज सिंह पर थी लेकिन युवराज को महज सात करोड़ की कीमत पर सनराईजर्स हैदराबाद ने अपनी टीम से जोड़ लिया. दो बार से आईपीएल के सबसे मंहगे खिलाड़ी बने युवराज की कीमत पिछले सीजन की तुलना में 9 करोड़ कम है. जबकि 2014 में उन्हें 14 करोड़ में रॉयल रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने खरीदा था. इस बार भी युवी को ख़रीदने के लिए उनकी पुरानी टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर पूरे मूड में थी लेकिन लेकिन ऐसा नहीं कर सकी.

2 करोड़ बेस प्राइस वाले युवराज के लिए अंत में 7 करोड़ की बोली लगी. आरसीबी टीम के डायरेक्टर अमृत थॉमस ने इस पर कहा, ‘युवराज में सभी टीमों को अब भी दिलचस्पी थी लेकिन बोली के नियम और रकम की वजह से हमने उन्हें नहीं ख़रीदा. वो एक मार्की प्लेयर हैं और उम्मीद है आगे वो हमारे साथ खेलेंगे.’

इसके साथ ही युवराज के विराट कोहली की कप्तानी में खेलने का सपना एक बार फिर टूट गया. युवराज की जगह टीम ने ऑस्ट्रेलियाई ऑल रांउडर शेन वाटसन को अपने साथ जोड़ा. टीम ने वॉटसन को 9.5 करोड़ में ख़रीदा. अमृत थॉमस ने कहा, ‘हम एक ऑल-राउंडर को टीम में रखना चाहते थे और शेन वॉटसन इस रोल में फ़िट बैठ रहे हैं. वॉटसन कैसे खिलाड़ी है ये उनके रिकॉर्ड से पता चलता है.’

बैंगलोर की टीम में विराट कोहली, एबी डिविलियर्स और क्रिस गेल जैसे धुरंधर खिलाड़ी हैं. युवराज अगर इनके साथ होते तो इस आईपीएल की सबसे मजबूत टीम हो जाती बैंगलोर.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Royal Challengers Bangalore wanted Yuvraj Singh back badly
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017