सचिन के खिलाफ PIL, लौटना पड़ेगा भारत रत्न?

By: | Last Updated: Friday, 19 June 2015 11:07 AM
Sachin Tendulkar faces PIL to return Bharat Ratna

जबलपुर: भारत रत्न सचिन तेंदुलकर एक याचिका के कारण कानूनी दांव-पेंच में फंस गए हैं. मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में विचार के लिए मंजूर किए गए इस याचिका में कहा गया है कि सचिन ने विभिन्न पोडोक्टों के एड के लिए इसका इस्तेमाल किया है और पैसे कमा रहे हैं इसलिए इसे वापस लेना चाहिए.

 

चीफ जस्टिस अजय मानिकराव खानविलकर एवं जस्टिस के के त्रिवेदी की युगलपीठ ने कल भोपाल निवासी वी के नस्वा की एक याचिका पर केन्द्र सरकार के सहायक महाधिवक्ता को निर्देश जारी किए हैं कि ‘भारत रत्न’ के संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व में कोई आदेश पारित किया हो या कोई याचिका लंबित हो, तो इस संबंध में अदालत के समक्ष एक सप्ताह में जानकारी प्रस्तुत करें.

 

याचिकाकर्ता नस्वा ने अदालत में खुद पैरवी करते हुए कहा कि सचिन तेंदुलकर एक मशहूर हस्ती हैं और उन्होंने क्रिकेट खेलते हुए कई विश्व कीर्तिमान कायम किए हैं, लेकिन वह देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान का व्यावसायिक उत्पादों का विज्ञापन करने में उपयोग कर रहे हैं और पैसे कमा रहे हैं. यह ‘भारत रत्न’ जैसे प्रतिष्ठित सम्मान की गरिमा, विरासत और मूल्यों के खिलाफ है.

 

उन्होंने अदालत से आग्रह किया है कि सचिन को नैतिक आधार पर अपना ‘भारत रत्न’ सम्मान लौटा देना चाहिए और यदि वह अपनी इच्छा से ऐसा नहीं करते हैं, तो केन्द्र सरकार को उनसे यह सम्मान वापस ले लेना चाहिए.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Sachin Tendulkar faces PIL to return Bharat Ratna
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Bharat Ratna PIL Sachin Tendulkar
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017