सचिन vs कोहलीः कांटे की टक्कर के बीच सचिन आगे

By: | Last Updated: Saturday, 23 August 2014 1:08 PM

नई दिल्लीः यूं तो सचिन तेंदुलकर से किसी भी बल्लेबाज की तुलना करना अपने आप में बेईमानी है. सचिन ने अपने 25 साल के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर में इतना कुछ किया है जिसे पाना किसी भी खिलाड़ी के लिए असंभव है. सचिन के संन्यास के बाद से ही उनके उत्तराधिकारी की खोज लगातार जारी है. इस बीच एक ऐसा खिलाड़ी सामने आया जिसे सही मायने में लोग सचिन की तरह मानने लगे वो हैं टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली.

 

वनडे क्रिकेट में तो विराट ने कुछ ही सालों में अपनी एक अलग पहचान बना ली. लेकिन टेस्ट क्रिकेट के हालिया प्रदर्शन ने विराट के खेल पर प्रश्न उठा दिया है. इन सबके बीच आज बात टीम इंडिया के लिए नंबर चार पर सचिन की जगह लेने वाले विराट कोहली की.

 

सचिन vs कोहली

 

कोहली ने अब तक 28 टेस्ट मैच खेले हैं (द ओवल से पहले). इन मुकाबलों में विराट सचिन से (28 मैच तक) आगे दिख रहे हैं. जबकि सचिन औसत के मामले में विराट से आगे थे. कोहली ने 28 टेस्ट में 40.64 की औसत से 1829 रन बनाया है जिसमें 6 शतक शामिल हैं. जबकि अपने 28 मैच तक सचिन ने 47.91 की औसत से 1725 रन बनाए थे. सचिन ने भी अपने 28 मैच तक 6 शतक लगा दिए थे.

 

बात अगर विदेशी जमीन की करें तो यहां भी दोनों में कांटे की टक्कर दिख रही है. लेकिन एक बार फिर औसत के मामले में सचिन विराट से आगे थे. दोनों के 15 विदेशी टेस्ट की बात करें (विराट के विदेशी मैच से तुलना) तो विराट ने 34.64 की औसत से 970 रन बनाए हैं तो वहीं सचिन ने 42.95 की औसत से 945 रन बनाए थे. दोनों के नाम 3-3 शतक थे.

 

तकनीक – बात अगर तकनीक की करें तो सचिन हमेशा से इस मामले में शानदार रहे हैं. विश्व क्रिकेट में सिर्फ राहुल द्रविड़ ही सचिन पर बीस दिखते हैं. सचिन का फूटवर्क हमेशा शानदार रहा, अपने शुरुआती दिनों में तो उनका कोई जवाब नहीं था. उनके पास शॉट की कोई कमी नहीं थी हर गेंद को कई तरह से खेलने का माद्दा रखते थे. वहीं अगर बात विराट की करें तो वो भी फूटवर्क के मामले में तो शानदार हैं लेकिन तकनीक के मामले में पिछड़ते दिख रहे हैं. उनके द्वारा लगाए 6 शतकों में अटैकिंग बल्लेबाजी नजर आती है. लेकिन विराट की  सबसे बड़ी खामी उस वक्त नजर आती है जब उनपर प्रेशर आता है. उनकी तकनीक मात खाती दिखती है खासतौर पर ऑफ स्टंप के पास वाली गेंद के सामने. विदेशी जमीन पर खासतौर पर इंग्लैंड में शर्मनाक प्रदर्शन ने उनके टेस्ट बल्लेबाजी पर कई सवाल उठा दिए. 

 

 

टेम्परामेंट – इस मामले में सचिन अपने शुरुआती दौर में ही खासे चर्चित हो गए थे. 1990 में महज 17 साल की उम्र में सचिन ने विदेशी जमीन पर जिस तरह से मैच बचाया था वो लोग आज भी नहीं भूल सकते. सचिन हमेशा गेंदबाज पर हावी हो कर खेलते थे और इसमें कामयाब भी रहे. वहीं अगर विराट की बात करें तो टेम्परामेंट के मामले में वो काफी पीछे हैं. उनके पास भी न्यूजीलैंड में हीरो बनने का शानदार मौका था लेकिन वो अपना विकेट फेंक आए थे. विराट अभी तक अपने विकेट की अहमियत समझ नहीं पाए हैं.

 

 

रिजल्ट – विराट सचिन की तरह बनना तो चाहते हैं, कई दिग्गज उन्हें सचिन के उत्तराधिकारी की तरह देख भी रहे हैं लेकिन अभी उन्हें लंबा सफर तय करना है और अपने टेंपरामेंट पर खासा काम करना होगा साथ ही उन्हें अपनी अहमियत समझनी होगी.

 

पुजारा vs द्रविड़ः देश में आगे विदेशों में पीछे हैं पुजारा

 

 

आगे हम अजिंक्या रहाणे और वीवीएस लक्ष्मण पर चर्चा करेंगे

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: sachin vs virat
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

कोच मिकी आर्थर पर उमर अकमल ने लगाया टीम से बाहर करने का आरोप
कोच मिकी आर्थर पर उमर अकमल ने लगाया टीम से बाहर करने का आरोप

      कराची: पाकिस्तानी क्रिकेटर उमर अकमल...

हितेश गोस्वामी बने अंडर-16 क्रिकेट टीम के कोच
हितेश गोस्वामी बने अंडर-16 क्रिकेट टीम के कोच

फोटो: (ट्विटर) राजकोट: सौराष्ट्र के पूर्व...

रोते बच्चे का वीडियो देख कोहली हुए दुखी, कहा ‘बच्चे को धमकाकर नहीं सिखाया जा सकता’
रोते बच्चे का वीडियो देख कोहली हुए दुखी, कहा ‘बच्चे को धमकाकर नहीं सिखाया जा...

नई दिल्ली: भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली सोशल मीडिया पर बेहद सक्रीय रहते हैं. श्रीलंका में...

संगाकारा के घर में उनका सबसे बड़ा रिकॉर्ड तोड़ेंगे एमएस धोनी
संगाकारा के घर में उनका सबसे बड़ा रिकॉर्ड तोड़ेंगे एमएस धोनी

सौजन्य: AFP नई दिल्ली: श्रीलंका के साथ खेली गई 3 टेस्ट मैचों की सीरीज़ को क्लीनस्वीप कर भारतीय टीम...

ENGvsWI: कुक के दोहरे शतक से इंग्लैंड का विशाल स्कोर, वेस्टइंडीज़ की खराब शुरूआत
ENGvsWI: कुक के दोहरे शतक से इंग्लैंड का विशाल स्कोर, वेस्टइंडीज़ की खराब शुरूआत

बर्मिंघम: पूर्व कप्तान एलिस्टेयर कुक के करियर के चौथे दोहरे शतक की मदद से इंग्लैंड ने...

BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत
BCCI से एनओसी पाने के लिये केरल हाईकोर्ट पहुंचे श्रीसंत

कोच्चि: क्रिकेटर एस श्रीसंत ने बीसीसीआई से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) के लिए केरल हाईकोर्ट...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017