50 लाख रूपये देने का वादा करके 'भूल' गई सरकार, साइना का छलका दर्द

By: | Last Updated: Friday, 25 July 2014 4:11 PM
saina nehwal

नई दिल्लीः सरकार की वादाखिलाफी का एक और मामला सामना आया है. देश का मान दुनिया में रौशन करने वालों को भी सरकार वायदों का पाठ पढ़ा देती हैं. मशहूर बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल का आज दर्द ट्विटर पर छलक आया.

 

लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक जीत कर भारत का मान बढ़ाने वाली बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल आज इस कदर दुखी हुईं कि अपने दर्द को सबके सामने ला दिया. वजह यह है कि उनके राज्य आंध्र प्रदेश (अब तेलंगाना) द्वारा किया गया नकद पुरस्कार का वो वादा जो आज तक पूरा नहीं हुआ. साइना ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि आज मुझे काफी चोट पहुंची है, मैं दुखी हूं क्योंकि आज तक मुझे वो कैश प्राइज अपने राज्य से नहीं मिला जिसका वादा उन्होंने देश के लिए कांस्य पदक जीतने के बाद किया था.

 

साइना का ये ट्वीट दो भागों में है. जहां उन्होंने पहले हिस्से में टेनिस स्टार सानिया मिर्जा के तेलंगाना राज्य का ब्रांड एंबेस्डर बनाने की शुभकामनाएं दी और उसके बाद अपने दर्द को बयां किया.

 

आपको बता दें कि 2012 में लंदन ओलंपिक में साइना को विपक्षी खिलाड़ी के चोटिल हो जाने के कारण कांस्य पदक मिला था. साइना देश को पदक दिलाने वाली दूसरी महिला थी. इस पदक के जीतने के बाद आंध्र प्रदेश सरकार ने साइना को 50 लाख रुपये नकद पुरस्कार देने का वादा किया था जो आज तक उन्हें नहीं मिला है.

 

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017