बिहार: जनता परिवार फिर टूटा, लालू-नीतीश के खिलाफ मैदान में होंगे मुलायम

By: | Last Updated: Thursday, 3 September 2015 7:25 AM
Samajwadi Party quits Bihar Grand Alliance

नई दिल्ली/लखनऊ: बिहार चुनाव से पहले जनता परिवार को बड़ा झटका लग गया है. सीट बटवारे को लेकर नाराज चल रही समाजवादी पार्टी ने खुद को गठबंधन से अलग कर लिया है.

सपा महासचिव राम गोपाल यादव ने आज ऐलान किया कि पार्टी अकेले ही बिहार में चुनाव लड़ेगी.

 

आपको बता दें कि इससे पहले सपा का जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस के साथ महा गठबंधन बना था. गठबंधन ने सपा को महज पांच सीटें दी थीं. सीटों को लेकर कई दिनों से इस महागठबंधन में खींचतान चल रही थी.

 

आपको बताते चलें कि कि महागठबंधन में जब सीटों को बंटवारा बुआ था तो जेडीयू और राजेडी ने 100-100 सीटें ली थी वहीं कांग्रेस को 40 और सपा को केवल 3 सीटें दी थी. बाद में फिर लालू ने अपनी दो सीटें सपा को दे दी थीं. इस तरह जेडीयू 100 सीटें, आरजेडी 98 कांग्रेस 40 और सपा को पांच सीटें मिली थीं. इसके बाद से ही सपा नाराज चल रही थी.

 

समाजवादी पार्टी के संसदीय दल की आज बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर लखनऊ में बैठक हुई. सपा महासचिव के अनुसार केवल इसी मुद्दे पर फैसला किया गया.

 

इससे पहले भी राम गोपाल यादव ने संकेत दिया था कि बिहार में पार्टी में गठबंधन से बाहर निकलने को लेकर काफी जोरदार आवाज भी उठ रही है. इसके साथ ही मुलायम सिंह की नाराजगी भी जाहिर हो गई थी.

 

गठबंधन की ओर से आयोजित स्वाभिमान रैली में मुलायम के नहीं जाने के बाद से ही लगभग साफ हो गया था कि इस गठबंधन में सपा का रहना अब मुमकिन नहीं है.

 

यह भी पढ़ें-

चुनावी सरगर्मी के बीच नीतीश ने खोया आपा, दे दी धमकी

ग्राउंड रिपोर्ट: कौन जीतेगा सीतामढ़ी का संग्राम? 

बिहार चुनाव- सभी अध्यक्षों के लिए आसान नहीं है जीत की राह 

मोदी की ‘हल्की’ बातों से जीडीपी, सेंसेक्स लुढक रहा है: नीतीश 

बिहार चुनाव: ‘नए दल’ भी ठोकेंगे ताल 

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Samajwadi Party quits Bihar Grand Alliance
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017