सहवाग को क्या मिला?

By: | Last Updated: Tuesday, 20 October 2015 4:31 PM

नई दिल्लीः अपने ताबड़तोड़ खेल से दुनिया के तमाम गेंदबाजों को दहलाने वाले वीरेंद्र सहवाग ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के साथ IPL से संन्यास ले लिया है. तमाम खिलाड़ियों से लेकर प्रशंसक उनके खेल की तारीफ कर रहे हैं. पर सवाल ये है कि क्रिकेट प्रशासकों ने सहवाग को क्या दिया.

 

सहवाग के नाम 104 टेस्ट मैचों में करीब-करीब 50 की औसत से 8586 रन दर्ज हैं. टेस्ट मैचों में अपने तिहरे शतक की बदौलत उन्हें मुल्तान का सुल्तान कहा जाता है लेकिन बल्ले के इस बादशाह को क्रिकेट चलाने वालों ने क्या दिया.

 

सहवाग ने 251 वनडे मैचों में 35 की औसत से 8273 रन बनाए. वनडे के इतिहास का दूसरा दोहरा शतक भी सहवाग के नाम है.

लेकिन बदले में दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन यानी दिल्ली में क्रिकेट की कर्ताधर्ता संस्था ने क्या दिया? कुछ नहीं.

 

 

सच है कि सहवाग को मैच फीस मिली, विज्ञापन मिले, प्रशंसक मिले शोहरत मिली. लेकिन ये सब सहवाग की अपनी कमाई हुई है. क्रिकेट चलाने वाली संस्थाओँ ने सहवाग को उनके खेल के बदले में कोई सम्मान नहीं दिया.

 

पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर अपना आखिरी मैच खेल रहे थे. वानखेड़े स्टेडियम के गावस्कर स्टैंड पर उनके चाहने वाले सांसे रोक कर उनका खेल देख रहे थे.

 

इसी तरह साल 2001 में ही मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने वानखेडे स्टेडियम में एक स्टैंड का नाम सचिन तेंडुलकर के नाम पर रख कर उन्हें सम्मानित किया. इसी तरह भारत के सबसे कामयाब स्पिनर कुंबले के नाम पर बैंगलुरू में एक गोल चक्कर का नाम रखा गया है. चिन्ना स्वामी स्टेडियम के बगल में मौजूद है कुंबले सर्कल.

 

अपने खेल से दीवार के नाम पर मशहूर हुए राहुल द्रविड को सम्मानित करने के लिए बंगलुरू के चिन्नास्वामी स्टेडियम के मेन गेट के सामने एक दीवार के तौर पर यादगार बनाई गई. इसी तरह भारत को पहला विश्वकप दिलाने वाले कपिल देव के नाम पर राजकोट में एक स्टैंड का नाम रखा गया है.

 

 

देश के सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नाम पर झारखंड में स्टेडियम है  मिकॉन MSD स्टेडियम.

 

 

ये चीजें छोटी बेशक लगें पर ये खिलाड़ियों और खेल के प्रति सम्मान को दिखाती हैं. इसके उलट दिल्ली के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का सम्मान करती कोई चीज दिल्ली में या फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में दिखाई नहीं देती.

 

ऐसा भी नहीं सहवाग के नाम पर कभी चर्चा भी नहीं चली हो. कोटला स्टेडियम में सहवाग के नाम पर वीआईपी गेट का नाम सहवाग गेट होना था. लेकिन अब तक हो नहीं पाया.

 

पूरा मामला डीडीसीए की राजनीति में ऐसा उलझा कि खेल और खिलाड़ी पीछे रह गए. डीडीसीए का कहना है कि कोटला स्टेडियम को अब तक कम्पीलिशन सर्टिफिकेट नहीं मिला है और इसी वजह से सहवाग के नाम पर गेट बनाया जाना अटका हुआ है. लेकिन दिलचस्प ये है कि डीडीसीए ने अब तक तीन इंटरनेशनल मैच खिला दिए हैं जबकि चौथा खिलाने की तैयारी है. यानी रूकावट सिर्फ सहवाग के खेल को सलाम को लेकर थी. अब सहवाग ने संन्यास ले लिया है. उनके चाहने वाले उन्हें सलाम कर रहे हैं. उनका खेल उनकी पहचान बना रहेगा. और पहचान सहवाग ने खुद बनाई है.

 

ऐसा नहीं कि सहवाग का खेल के प्रति योगदान को किसी ने देखा नहीं पर उन्हें सम्मानित करने की जगह सहवाग के नाम के इस्तेमाल की भरपूर कोशिश की गई. बल्ले से सहवाग की खासियत आप जानते हैं कि वो किसी से डरकर नहीं खेलते. अपने खेल की तरह सहवाग बिंदास बोलते हैं. लेकिन सबसे खास बात सहवाग की ये है कि वो युवा खिलाड़ियों के लिए बेहद मददगार हैं. क्रिकेट ने उन्हें जो दिया है वो लौटाना चाहते हैं.

 

सहवाग ने अपना काम कर दिया. सहवाग ने दुनिया के क्रिकेट को बदल दिया. अब बारी है डीडीसीए और बीसीसीआई को आगे आकर सहवाग का सम्मान कर खुद अपनी छवि बदलने की.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: sehwag retirement
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा
टेनिस: सिनसिनाटी ओपन के क्वार्टर फाइनल में कोंटा

बासिल: ब्रिटेन की स्टार महिला टेनिस खिलाड़ी योहाना कोंटा ने सिनसिनाटी ओपन टेनिस टूर्नामेंट के...

ENGvsWI: कुक और रूट के शतकों से पहले दिन इंग्लैंड मजूबत
ENGvsWI: कुक और रूट के शतकों से पहले दिन इंग्लैंड मजूबत

बर्मिंघम: पूर्व कप्तान एलिस्टेयर कुक और मौजूदा कप्तान जो रूट की शानदार शतकों की मदद से...

श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले धोनी ने नेट्स में दिखाया दम
श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले धोनी ने नेट्स में दिखाया दम

दाम्बुला: 20 अगस्त को श्रीलंका के खिलाफ शुरु...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017