सेरेना को 11 साल में नहीं हरा पाने का दर्द मिटाना चाहेगी शारापोवा

By: | Last Updated: Thursday, 9 July 2015 12:11 PM

लंदन: रूसी ग्लैमर गर्ल मारिया शारापोवा विम्बलडन सेमीफाइनल में कल चिर प्रतिद्वंद्वी सेरेना विलियम्स से भिड़ेगी तो उसका इरादा पिछले 11 साल में इस अमेरिकी दिग्गज को नहीं हरा पाने का गम दूर करने का होगा.

 

शारापोवा ने 2004 विम्बलडन समेत पांच ग्रैंडस्लैम खिताब जीते हैं और वह दुनिया की सबसे कमाऊ महिला खिलाड़ी हैं. इसके बावजूद वह 2004 के बाद से कभी सेरेना को नहीं हरा सकी है.

 

सेरेना का उसके खिलाफ जीत हार का रिकार्ड 17-2 का है. पिछले 16 मुकाबलों में सेरेना विजयी रही है जिनमें 2007 और 2015 ऑस्ट्रेलियाई ओपन फाइनल और 2013 फ्रेंच ओपन फाइनल शामिल है.

 

सेरेना ने उसे 2010 विम्बलडन अंतिम 16 के मुकाबले में हराया और 2012 ओलंपिक फाइनल में भी मात दी.

 

सेरेना ने सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद कहा था ,‘‘मुझे मारिया से खेलना पसंद है. वह मुझे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को मजबूर करती है. मैं किसी तरह के दबाव में नहीं हूं. मुझे कुछ साबित नहीं करना है. मैने सारे ग्रैंडस्लैम कई बार जीते हैं. अब मैं बस खेल का मजा लेती हूं.’’ वहीं शारापोवा ने कहा ,‘‘मैं उसके सामने इतनी कामयाब नहीं रही हूं लेकिन अब इसे बदलना चाहूंगी.’’

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Serena Williams vs Maria Sharapova
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017