शशि चोपड़ा ने एआईबीए यूथ वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप के दूसरे दिन बिखेरी चमक

शशि चोपड़ा ने एआईबीए यूथ वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप के दूसरे दिन बिखेरी चमक

भारत की शशि चोपड़ा और रूसी दिग्गज मुक्केबाज अनास्तासिया शामोनोवा ने एआईबीए विमेंस यूथ वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप के दूसरे दिन सोमवार को शानदार शुरुआत की.

By: | Updated: 20 Nov 2017 10:20 PM
Shashi impresses; Shamonova in a class of her own
गुवाहाटी: भारत की शशि चोपड़ा और रूसी दिग्गज मुक्केबाज अनास्तासिया शामोनोवा ने एआईबीए विमेंस यूथ वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप के दूसरे दिन सोमवार को शानदार शुरुआत की.

हाल ही में इस्तानबुल में आयोजित अहमेट कार्मेट बॉक्सिंग टूर्नामेंट में रजत पदक जीतने वाली फिदरवेट मुक्केबाज शशि ने नबीन चंद्र बोरडोलोई इंडोर स्टेडियम में खेले गए प्रीलिमियरी राउंड में एकतरफा जीत हासिल की.

शशि के सामने उजबेकिस्तान की मुक्केबाज राखमातोवा डुर्डोनाखोन थीं. उन्होंने शुरुआत में ही राखमातोवा पर दबाव बनाने के लिए डबल जैब कोम्बो का इस्तेमाल किया, जो प्रतिद्वंद्वी को कमजोर करने और उस पर शक्तिशाली मुक्के के प्रहार का एक प्रकार है.

इसके बाद उन्होंने दोनों हाथों से राखमातोवा पर तीन मुक्के मारे और पहले राउंड में ही उन्हें पीछे हटने पर मजबूर कर दिया.

दूसरे राउंड में शशि ने अपने आक्रामक खेल को तेज तो किया, लेकिन साथ ही राखमातोवा के मुक्कों से बचने के लिए रक्षात्मक प्रणाली के प्रकार बॉबिंग का इस्तेमाल भी किया. अधिक फुर्ती दिखाते हुए वह अपनी प्रतिद्वंद्वी के मुक्कों से खुद को बचाने की कोशिश करती रहीं, लेकिन कुछ मुक्कों से बच नहीं पाई. हालांकि, इससे उन्हें ज्यादा नुकसान नहीं हुआ.

शशि ने दूसरे राउंड की समाप्ति से पहले हुक तकनीक का प्रयोग किया, जिसमें उन्होंने अपनी कोहनी से राखमातोवा के मुक्कों से न केवल खुद का बचाव किया, बल्कि उन पर वार भी किए.
Shashi
तीसरे राउंड में एक बार फिर जैब तकनीक के प्रयोग से उन्होंने राखमातोवा पर सीधे मुक्कों का वार जारी रखा और अंत में 5-0 से जीत हासिल की.

मैच के बाद शशि ने कहा, ‘‘मैं पहले दौर में जीत हासिल करके बेहद खुश हूं. मैं अगर अपनी योजनाओं पर टिकी हुई रहती हूं, तो यह बाउट जीत सकती हूं. मैंने सीधे तौर पर अपने मुक्कों का प्रहार जारी रखा, जो प्रभावी भी रहे.’’

इस टूर्नामेंट में दूसरे दिन मिडलवेट की दिग्गज रूसी मुक्केबाज अनास्तासिया शामोनोवा अच्छा प्रदर्शन किया. उन्होंने अपने दमदार प्रदर्शन से साबित कर दिया कि आखिर क्यों वह विश्व विजेता महिला मुक्केबाज हैं.

अनास्तासिया ने अमेरिका की शाराया मोरेउ को 5-0 से मात दी. उनके अच्छे प्रदर्शन को देखकर मैच देखने आए दर्शक भी तालियां बजाए बगैर नहीं रह सके.

 परिणाम:

लाइट फ्लाई (45-48 किग्रा)
फ्रांस की ग्लोरिया डिमालिया ने नेपाल की अस्मिता डुवाल को 5-0 से हराया.
जापान की मिसाकी नासू ने आयरलैंड की कैटलिन फ्रायर्स को 5-0 से हराया.
बुल्गारिया की इमी मारी टोडोरोवा ने आस्टेÑलिया की डेनिएल क्लायटोन को 5-0 से हराया.
चीन की युयान नेई ने स्कॉटलैंड की बिली डेनहोम को 5-0 से हराया.

फीदरवेट (57 किग्रा)
स्कॉटलैंड की विक्टोरिया ग्लोवर ने इटली की गियोर्डाना सोरेंटीनो को 3-2 से हराया.
मंगोलिया की नामून मंखोर ने फ्रांस की विक्टोर पिटेयू को 4-1 से हराया.
भारत की शशि चोपड़ा ने उजबेकिस्तान की डुर्डोनाखोन राखमातोवा को 5-0 से हराया.
रूस की वेलेरिया रोडियोनोवा ने इंग्लैंड की एमी टिमिल को 5-0 से हराया.
तुर्की की हावानूर एन ने यूक्रेन की ओल्हा वोजनाएक को 5-0 से हराया.
जर्मनी की एमिली मारेमान ने नेपाल की सिसम थापा को 5-0 से हराया.

मिडिलवेट (75 किग्रा)
इंग्लैंड की जॉर्जिया ओकॉनॉर ने चीन की जियूटिंग यू को 5-0 से हराया.
ताइपे की या चू यांग ने आयरलैंड की लाउरेन केली को 5-0 से हराया.
रूस की अनास्तासिया शामोनोवा ने अमेरिका की शाराया मोरेउ को 5-0 से हराया.
पोलैंड की नतालिया एम. ने यूक्रेन की कारोलिना माखनो को 5-0 से हराया.

बैंटमवेट (54 किग्रा)
पोलैंड की डारिया पुस्का ने उजबेकिस्तान की फेजुलायेवा को 5-0 से हराया.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Shashi impresses; Shamonova in a class of her own
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story स्पॉट फिक्सिंग पर बोले सोबर्स के पिता कहा- 'दोषी हो तो फांसी पे लटका दें'