दूसरे देश से सम्मान लेकर लौटे चंद्रपॉल अपने ही देश में हुए 'अपमानित'

By: | Last Updated: Thursday, 17 September 2015 12:00 PM
Shivnarine Chanderpaul has been humiliated at Guyana airport

नई दिल्लीः एक तरफ इंडो-कैरेबियन एलायंस के सबसे बड़े सम्मान ‘आइकॉन अवार्ड’ से नवाजे गए दिग्गज टेस्ट बल्लेबाज शिवनारायण चंद्रपॉल तो दूसरी तरफ अपने ही घर में उन्हें अपमानित होना पड़ा. अवार्ड लेकर वापस अपने घर आए चंद्रपॉल को गुयाना हवाई अड्डे पर एक महिला अधिकारी ने उन्हें रोक लिया और कई सवाल किए.

 

छेदी गगन एयर पोर्ट पर जहां एक बड़ा सा पोस्टर पूरी दुनिया को ये बताता है कि चंद्रपॉल हमारे लीजेंड हैं वहां की एक अधिकारी उन्हें पहचान नहीं पाईं. महिला अधिकारी ने चंद्रपॉल से सीधे उनके जन्मस्थान को लेकर सवाल किए और पूछा कि आप इसी देश के हैं. चंद्रपॉल इस सवाल से हैरान हो गए. उन्होंने फॉर्म भी दिखाया जिसमें उनके गांव का नाम लिखा था लेकिन महिला अधिकारी उस गांव को भी नहीं जानती थी. इसके बाद चंद्रपॉल ने उलटा उसी से सवाल दाग दिया कि क्या वो गुयाना से है.

 

‘आइकॉन अवार्ड’ से नवाजे गए चंद्रपॉल

 

अंत में दूसरे बड़े अधिकारी ने उन्हें ससम्मान एयरपोर्ट से बाहर निकाला. घटना के बारे में जानकारी देते हुए चंद्रपॉल ने गुयाना न्यूज़ से कहा कि ऐसी घटना पहले भी हो चुकी है. चंद्रपॉल जो अपने देश में किसी हीरो से कम नहीं हैं. ने कहा कि ऐसी घटना कभी कभी अपमानित भी करती हैं.  

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Shivnarine Chanderpaul has been humiliated at Guyana airport
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017