SUPER RECORDS: वो रिकॉर्ड्स जिन्हें तोड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है!...

By: | Last Updated: Saturday, 2 August 2014 2:46 PM
Sir Don Bradman_Sachin Tendulkar_Ricky Ponting_Jim Lacker_

नई दिल्ली: क्रिकेट जगत में आप कई रिकॉर्ड्स के बारे में जानते होंगे. जो कई बार बनते और टूटते हैं लेकिन आज हम आपके सामने सात ऐसे क्रिकेटर्स के रिकॉर्ड की चर्चा कर रहे हैं जो क्रिकेट जगत में बनाना कतई आसान नहीं है. आईये नज़र डालते हैं क्रिकेट के कुछ ऐसे ही रिकॉर्डस पर

 

सर डॉन ब्रैडमेन:

टेस्ट क्रिकेट में 99.94 के औसत से अविश्वसनीय बल्लेबाजी करने वाले ऑस्ट्रेलिया के इस महान बल्लेबाज को कौन नहीं जानता होगा. अपनी टेस्ट करियर के 52 टेस्ट मैचों में सर डॉन ब्रैडमेन ने अपना लोहा इस तरह के खेल से ही मनवाया.

 

लेकिन ये आंकड़ा पूरे 100 के औसत का होता अगर अपने करियर के लास्ट टेस्ट में ब्रैडमेन शून्य पर आउट होने की जगह सिर्फ 4 रन बना लेते. लेकिन फिर भी ये रिकॉर्ड असाधारण रिकॉर्ड नहीं है. टेस्ट क्रिकेट में रनों का अंबार तो कई बल्लेबाजों ने बनाया लेकिन औसत के मामले में इस पहाड़ जैसे लक्ष्य को तोड़ना शायद ही किसी बल्लेबाज के लिए मुमकिन हो पाए.

 

जिम लैकर:

 

साल 1956, आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच एशेज सीरीज़. जी हां 58 साल पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ मैनचेस्टर ऑल्ड ट्रेफर्ड में खेले गए टेस्ट मैच में इंग्लैंड के ऑफ स्पिनर जिम चार्ल्स लेकर ने शानदार गेंदबाजी की और टेस्ट में रिकॉर्ड 19 विकेट झटके.

 

लैकर ने इस टेस्ट में एक पारी में 10 और दूसरी पारी में 9 विकेट झटके थे. ये कारनामा सुन यहीं कहा जा सकता है कि कुछ रिकॉर्ड टूटने के लिए नहीं बनते. उनके इस प्रदर्शन के बाद सिर्फ अनिल कुंबले ने टेस्ट क्रिकेट में एक पारी में 10 विकेट झटके हैं.

 

सचिन तेंदुलकर:

 

क्रिकेट जगत में कई रिकॉर्ड बने और टूटे लेकिन कुछ रिकॉर्ड्स ऐसे हैं जो उन खिलाड़ियों ने बनाए जिनके टूटने पर शायद ही किसी क्रिकेट प्रेमी को खुशी हो. जी हां हम बात कर रहे हैं सचिन रमेश तेंदुलकर के अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतकों के रिकॉर्ड की.

 

सचिन एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके नाम अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतकों का रिकॉर्ड दर्ज हैं. जबकि उनके आस-पास भी अभी कोई खिलाड़ी इस रिकॉर्ड को तोड़ता हुआ नज़र नहीं आता.

 

ग्राहम गूच:

साल 1990 इंग्लैंड का भारत दौरा और उस टेस्ट में ग्राहम गूच का यादगार खेल. जिसे भारतीय गेंदबाज़ कभी याद रखना नहीं चाहेंगे. जी हां इस टेस्ट में ग्राह्म गूच ने शानदार बल्लेबाजी की और 456 रन बनाए. जिस रिकॉर्ड को तोड़ पाना अब तक मुमकिन नहीं हो पाया है.

 

गूच ने पहली पारी में 333 और दूसरी पारी में शानदार 133 रन बनाए थे. उनके इस रिकॉर्ड प्रदर्शन के पास केवल श्रीलंका के कुमार संगाकारा पहुंचे हैं जिन्होनें एक टेस्ट में 424 रन बनाए. इस रिकॉर्ड तोड़ने के लिए किसी भी बल्लेबाज को दोनों पारियों में कम से कम दोहरे शतक तो लगाने ही होंगे.

 

विलफ्रैड रॉड्स:

विलफ्रैड रॉड्स ये वो नाम है जिसने क्रिकेट जगत में उन तमाम आलोचकों को करारा जवाब दिया जो ये मानते हैं कि क्रिकेट स्टार्स का करियर बेहद छोटा होता है और वो 40 के बाद क्रिकेट फील्ड पर अपना जलवा नहीं दिखा सकते. वैसे तो ये कारनामा ब्रैड हॉज और ब्रैड हॉग सरीके बल्लेबाज भी कर चुके हैं. लेकिन वो खुद भी इतने लंबे समय तक नहीं खेले जितना लंबा विलफ्रैड खेले.

 

जी हां रॉड्स ने क्रिकेट जगत को अलविदा पूरे 52 साल की उम्र में कहा और जो लोग ये समझते हैं कि क्रिकेट जगत में सबसे लंबा करियर सचिन का है वो भी इस मामले में गलत हैं क्योंकि रॉड्स का क्रकिेट करियर पूरे 30 साल का है. जो आज कीसी भी सूरत में टूटता नज़र नहीं आता. 

 

 

सर जैक हॉब्स:

क्या आप ये सोचते हैं कि क्रिकेट जगत में सबसे ज्यादा शतक सचिन तेंदुलकर के नाम हैं तो माफ कीजिएगा क्योंकि उनसे भी ज्यादा शतक क्रिकेट में लगाने वाले बल्लेबाज हैं इंग्लैंड के सर जैक हॉब्स. जिन्होनें क्रिकेट जगत में 199 शतक लगाए हैं. सचिन के नाम क्रिकेट के हर फॉर्मेट को मिलाकर कुल 181 शतक दर्ज हैं.

 

इतना ही नहीं उन्होनें ओपनिंग करते हुए भी एक ऐसा रिकॉर्ड बनाया है जो तोड़ना किसी भी ओपनिंग बल्लेबाज के लिए टेड़ी खीर साबित होगा. जी हां सर गैरी ने 38 टेस्ट में ओपनिंग स्टैंड किया है. जिसमें उन्होनें 15 शतकीय साझेदारी के साथ 87.81 के औसत से 3249 रनों में अपनी महत्वपूर्ण भामिका निभाई है. 

 

रिकी पॉंटिंग:

 

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पॉंटिंग के नाम बतौर कप्तान क्रिकेट जगत में कई रिकॉर्ड दर्ज है. लेकिन रिकी पॉंटिंग के नाम एक ऐसा रिकॉर्ड भी दर्ज है जिसे पाकर कोई भी खिलाड़ी गोरवांवित महसूस करेगा.

 

जी हां पॉंटिंग ने अपनी टीम के लिए खेलते हुए 108 टेस्ट में जीत दर्ज की है. और रिकी को टीम के लकी चॉर्म के रूप में भी जाना जाता था. ये रिकॉर्ड तोड़ पाना किसी भी खिलाड़ी के लिए आसान नहीं हैं.

Sports News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Sir Don Bradman_Sachin Tendulkar_Ricky Ponting_Jim Lacker_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017