SA vs IND: भारतीय बल्लेबाजों के लिए साउथ अफ्रीका की 'खतरनाक तैयारी'

SA vs IND: भारतीय बल्लेबाजों के लिए साउथ अफ्रीका की 'खतरनाक तैयारी'

विदेशी मैदान पर भारतीय क्रिकेट टीम की सबसे बड़ी कमजोर कड़ी रही है तेज और उछाल लेती गेंद. पहले टेस्ट में जीत के बाद साउथ अफ्रीका भारतीय टीम के लिए एक बार फिर पुरानी रणनीति अपनाने जा रही है.

By: | Updated: 12 Jan 2018 06:30 PM

शनिवार से शुरू होगा दूसरा टेस्ट- विदेशी मैदान पर भारतीय क्रिकेट टीम की सबसे बड़ी कमजोर कड़ी रही है तेज और उछाल लेती गेंद. पहले टेस्ट में जीत के बाद साउथ अफ्रीका भारतीय टीम के लिए एक बार फिर पुरानी रणनीति अपनाने जा रही है. शनिवार से सेंचुरियन में दूसरा टेस्ट खेला जाएगा और साउथ अफ्रीकी टीम ने विराट के स्वागत के लिए खतरनाक तैयारी कर ली है.

मैच से पहले प्रैक्टिस करने मैदान पर आई साउथ अफ्रीकी टीम ने सबसे पहले पिच पर बाउंस को चेक किया. साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाजों ने लगातार गेंद को मैदान पर पटक कर उछाल को देखा.

मैदान पर बाउंस चेक करने के बाद अफ्रीकी टीम के चार बड़े खिलाड़ी कप्तान फाफ डूप्लेसिस, हाशिम अमला, एबी डीविलिय्रस और डीन एल्गर ने जमकर कैच का अभ्यास किया. ये चारों प्लेयर मैच के दौरान विकेट के पीछे स्लिप में रहते हैं. मैच में एक भी मौका ड्रॉप न हो इसलिए इन चारों ने बाउंसर पर हवा में उड़ती गेंदों को पकड़ने का जमकर अभ्यास किया.

 



सेंचुरियन की पिच हमेशा से ही बाउंस से भरी रही है और इसी का फायदा साउथ अफ्रीका के कप्तान उठाना चाहते हैं. पिछली बार सेंचुरियन में 2010 में भारत और साउथ अफ्रीका की टीम आमने सामने हुई थी. उस मैच में भारत को पारी और 25 रनों से हार का सामना करना पड़ा था.

सेंचुरियन के पिच क्यूरेटर ने भी दावा किया है कि विकेट पर बाउंस होगा और ये पूरे मैच में रहेगा. इससे भी डराने वाली बात ये है कि इस मैदान पर साउथ अफ्रीका का रिकॉर्ड शानदार रहा है. सेंचुरियन में साउथ अफ्रीका ने 22 में से 17 टेस्ट जीते हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: SA vs IND: भारतीय बल्लेबाजों के लिए साउथ अफ्रीका की 'खतरनाक तैयारी'
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story हेमिल्टन वनडे: पाकिस्तान की मुट्ठी से जीत छीन ले गए ग्रैंडहोम